ऊं की आवाज,भारत-चीन सीमा पर मौजूद इस सरोवर की लहरों से आती है

पब्लिक व्यू ब्यूरो 10/18/2016 11:43:50 PM
img

विश्व प्रसिद्ध कैलास-मानसरोवर यात्रा 1981 से शुरू हुई। यह यात्रा अपने धार्मिक महत्व के लिए दुनियाभर में जानी जाती है। कैलास मानसरोवर यात्रा अपने आप में कई रहस्य समेटे हुए है। कैलास मानसरोवर यात्रा मार्ग भारत और चीन से होकर गुजरता है। कैलास क्षेत्र को स्वंभू कहा गया है। वैज्ञानिक मानते हैं कि भारतीय उपमहाद्वीप के चारों और पहले समुद्र था। इसके रूस से टकराने से हिमालय का निर्माण हुआ। यहां जाने वाले लोगों का कहना है कि इस अलौकिक जगह पर प्रकाश तरंगों और ध्वनि तरंगों का समागम होता है, जिससे ऊं की आवाज आती है। कैलास पर्वत के दक्षिण भाग को नीलम, पूर्व भाग को क्रिस्टल, पश्चिम को रूबी और उत्तर को स्वर्ण रूप में माना जाता है। कैलास मानसरोवर कई धर्मों- तिब्बती बौद्ध, सभी देशों के बौद्ध धर्म, जैन धर्म और हिन्दूओं का आध्यात्मिक केन्द्र है। तिब्बतियों की मान्यता है कि वहां के एक संत कवि ने वर्षों गुफा में रहकर तपस्या की थी। कैलास पर स्थित बुद्ध भगवान का अलौकिक रूप डेमचौक बौद्ध धर्मावलंबियों के लिए पूजनीय है। जैनियों का मानना है कि आदिनाथ ऋषभदेव का यह निर्वाण स्थल अष्टपद है।हिन्दू धर्म के अनुयायियों की मान्यता है कि कैलास पर्वत मेरू पर्वत है जो ब्राह्मंड की धूरी है और यह भगवान शंकर का प्रमुख निवास स्थान है। यहां देवी सती के शरीर का दांया हाथ गिरा था। कुछ लोगों का मानना यह भी है कि गुरु नानक देव जी ने भी यहां कुछ दिन रुककर ध्यान किया था। इसलिए सिखों के लिए भी यह पवित्र स्थान है। एक अन्य पौराणिक मान्यता के अनुसार यह जगह कुबेर की नगरी है। यहीं से महाविष्णु के करकमलों से निकलकर गंगा कैलास पर्वत की चोटी पर गिरती है, जहां प्रभु शिव उन्हें अपनी जटाओं में भरकर धरती में निर्मल धारा के रूप में प्रवाहित करते हैं।

ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल को मिली स्वीकृति,पहाड़ पर जगी ट्रेन की आस

पब्लिक व्यू ब्यूरो 10/17/2016 10:22:47 PM
img

एक शताब्दी बीत गई पर पहाड़ पर रेलगाड़ी नहीं चढ़ी। कभी दृढ़ इच्छा शक्ति की कमी तो कभी केंद्रीय वन मंत्रालय की हीलाहवाली। पर अब ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल परियोजना के प्रथम फेज को केंद्रीय मंत्रालय ने सैद्धांतिक स्वीकृति दे दी है। इस परियोजना के तहत तीन सौ हेक्टेयर वन भूमि परियोजना को हस्तांतरित की जानी है। इस कदम से ट्रेन के पहाड़ पर चढ़ने की उम्मीदों को पंख लग गए हैं। माना तो यह जा रहा है कि दिसंबर में परियोजना पर कार्य शुरू हो जाएगा। ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल परियोजना को दो फेज में बांटा गया है। मंत्रालय के क्षेत्रीय कार्यालय के केंद्रीय अपर प्रमुख वन संरक्षक अजय कुमार ने बताया कि पहले फेज के लिए सैद्धांतिक स्वीकृति दी गई है। इसके बाद विधिवत स्वीकृति दी जाएगी। दूसरे फेज के लिए प्रक्रिया चल रही है। यह परियोजना पूरी होने पर ऋषिकेश से कर्णप्रयाग की यात्रा अधिक सुरक्षित हो जाएगी। साथ ही यात्रा का समय भी ढाई से तीन घंटे कम हो जाएगा। सवा सौ किमी लंबी यह रेल परियोजना पांच जिलों देहरादून, टिहरी, चमोली और रुद्रप्रयाग से होकर गुजरेगी। इस पर 12 रेलवे स्टेशन प्रस्तावित हैं। पहला रेलवे स्टेशन दून के वन चौकी क्षेत्र में प्रस्तावित है और आखिरी स्टेशन कर्णप्रयाग होगा। सामरिक दृष्टि से भी जरूरी 1962 के भारत-चीन युद्ध की सबसे बड़ी खामी यही रही कि भारतीय सैनिकों को बर्फीले पहाड़ों पर चढ़ा दिया गया। वे इसके अभ्यस्त नहीं थे और युद्ध से पहले ही बेदम हो गए। सैनिकों को आने-जाने के ठीक साधन और परिवहन व्यवस्था बेहतर होती तो शायद युद्ध का परिणाम कुछ और ही होता। पर समस्या यह है कि उस हार के बाद भी हमने सबक नहीं लिया और आज भी स्थिति जस की तस है। आतंकवाद पर चौतरफा घिरा होने के बावजूद पाकिस्तान के साथ चीन का खड़ा होना भारत के लिए बड़ा खतरा है। ऐसे में जरूरी है कि चीन सीमा तक ट्रेन जितनी जल्दी पहुंच सके उतना ही अच्छा है। देहरादून से हावड़ा तक इलेक्ट्रिक इंजन से दौड़ेंगी ट्रेन दिवाली से पहले देहरादून से हावड़ा के बीच इलेक्ट्रिक इंजन से ट्रेनों संचालन शुरू हो जाएगा। देहरादून हरिद्वार के बीच चल रहा रेलवे लाइन का इलेक्ट्रिफिकेशन पूरा कर लिया गया है। इसके साथ ही इलेक्ट्रिक इंजन के साथ रविवार को सफल ट्रायल भी कर लिया गया। 19 अक्तूबर को सीआरएस के निरीक्षण के बाद ट्रेनों का संचालन शुरू कर दिया जाएगा। चार साल में रेलवे ने अलग अलग सेक्शन में रेलवे लाइन इलेक्ट्रिफिकेशन का काम किया है। पहले सहारनपुर से मुरादाबाद, मुरादाबाद लखनऊ के बाद हरिद्वार लक्सर का कार्य पूरा करने के बाद देहरादून हरिद्वार लाइन पर इलेक्ट्रिफिकेशन शुरू किया गया था। अभी तक हरिद्वार से इलेक्ट्रिक ट्रेनों का संचालन किया जा रहा था। लेकिन देहरादून से चलने वाली गाड़ियों को डीजल इंजन से चलना पड़ता था। डीआरएम प्रमोद कुमार ने बताया कि 19 अक्तूबर को सीआरएस निरीक्षण करेंगे। उनके ओके करने के साथ ही ट्रेनों का संचालन शुरू हो जाएगा। पहले सप्ताह में इलेक्ट्रिक इंजन से मालगाड़ियों को गुजारा जाएगा। दिवाली से पहले इलेक्ट्रिक इंजन से ट्रेनों को चलाने पर विचार किया जा रहा है। अब देहरादून से हावड़ा तक लाइन इलेक्ट्रिफाइड हो चुकी है।

नर कंकालों का हुआ अंतिम संस्कार, केदारनाथ आपदा के तीन साल बाद मिले

पब्लिक व्यू, ब्यूरो 10/17/2016 3:48:45 AM
img

सोमवार को केदारनाथ आपदा के तीन साल बाद मिले नर कंकालों का त्रियुगीनाराण में अंतिम संस्कार किया गया। इससे पहले उत्तराखंड डीजीपी एमए गणपति ने त्रियुगीनाराण-केदारनाथ ट्रैक पर तीन नरकंकाल मिलने की पुष्टि की है। सोमवार को डीजीपी ने मीडिया को नरकंकालों के बारे में जानकारी दी।उन्होंने बताया कि त्रियुगीनारायण-केदारनाथ ट्रैक पर टीम को 30 नर कंकाल मिले, जिसमें से 22 नर कंकालों का अंतिम संस्कार कर दिया गया है। एमए गणपति ने बताया कि कंकालों के डीएनए सेंपल ले लिए गए हैं। बाकि बचे आठ कंकालों का अंतिम संस्कार सोमवार को किया जाएगा। डीजीपी ने कहा कि केदारघाटी में दस का सर्च ऑपरेशन चलाया जाएगा। यह सर्च ऑपरेशन के लिए सोमवार की शाम या फिर मंगलवार को घाटी में टीम भेजी जाएगी।

वाहनों की लंबी लाइन,भारी बारिश से बदरीनाथ हाईवे पर आया भारी मलबा

पब्लिक व्यू ब्यूरो 9/27/2016 12:24:36 AM
img

चमोली में बीती रात हुई जोरदार बारिश के चलते हुए भूस्खलन से बदरीनाथ हाईवे पर आवागमन बंद हो गया। हाईवे बाधित होने से बदरीनाथ और हेमकुंड जाने वाले यात्री बड़ी संख्या में अपने वाहनों में फंसकर रह गए हैं। रात भर चली जोरदार बारिश के चलते सोमवार तड़के चार बजे मैठाणा के पास भूस्खलन के चलते आए मलबे से बदरीनाथ हाईवे बंद हो गया। सुबह से बीआरओ की मशीनें मलबा हटाने में जुटी हुई हैं। मलबे के बीच में एक ट्राला फंसा हुआ है जिसके चलते मार्ग खोलने में परेशानी हो रही है। वहीं हाईवे खोलने में हो रही देरी से मार्ग पर वाहनों की लंबी कतार खड़ी गई है।

आतंक रोधी अभ्यास भारतीय-अमेरिकी सैनिकों ने किया

पब्लिक व्यू ब्यूरो 9/25/2016 11:40:39 PM
img

आतंकवाद और विद्रोह से निपटने के लिए रानीखेत के चौबटिया में चल रहा भारतीय और अमेरिकी सेना का संयुक्त युद्धाभ्यास चरमसीमा पर पहुंच गया है। दोनों सेनाओं के जांबाजों ने चौबटिया के घने जंगलों में चल रहे युद्धाभ्यास के दौरान आतंकियों के खिलाफ अभियान की बारीकियां परखीं। इस दौरान मुखबिर की सूचना पर चौबटिया गांव (काल्पनिक नाम) में छिपे चार आतंकियों को सर्च अभियान चलाकर मारने का अभ्यास किया गया। संयुक्त युद्धाभ्यास में अमेरिका और भारत के सैनिकों द्वारा जंगल में छिपे आतंकियों को ढूंढ निकालने, उनके द्वारा जमीन पर बिछाए गए माइंस आदि को निष्क्रिय करना, फायरिंग सहित तमाम गतिविधियों का भी प्रदर्शन हुआ। युद्धाभ्यास के दौरान चली तमाम गतिविधियों का प्रदर्शन करते वक्त सैनिकों ने शानदार कार्य किया। देर शाम रस्सियों के माध्यम से खाइयों को पार करने, रॉक क्लाइंबिंग सहित तमाम गतिविधियों का भी प्रदर्शन किया गया। 17 सितंबर से शुरू हुआ यह अभ्यास 27 सितंबर तक होगा। घायलों का प्राथमिक उपचार भी सिखाया रानीखेत। विद्रोहियों और आतंकियों के साथ होने वाली मुठभेड़ की घटनाओं में घायल होने वाले जवानों को त्वरित उपचार दिलाने का भी प्रशिक्षण दिया जा रहा है। सुनसान इलाकों में उपलब्ध बांस, अन्य लकड़ियों से स्ट्रक्चर बनाकर उन्हें प्राथमिक उपचार, सघन चिकित्सा उपलब्ध कराने के लिए दोनों देशों की सेनाएं अनुभवों को साझा कर रही हैं।

दो घायल दो की मौत, 200 मीटर गहरी खाई में गिरी कार

पब्लिक व्यू ब्यूरो 9/24/2016 2:15:10 AM
img

ऋषिकेश-बदरीनाथ हाईवे पर शिवपुरी के समीप ऋषिकेश की और आ रही एक स्विफ्ट डिजायर कार गहरी खाई में गिर गई। इस हादसे में दो लोगों की मौत और दो लोग घायल हो गए। शुक्रवार को पौड़ी में धरा रोड़ विकास मार्ग पर दुकान संचालित करने वाले आनंद बहुगुणा शुक्रवार को अपनी स्विफ्ट कार (यूके 07 एजेड-9992) से ऋषिकेश आ रहे थे। रात्रि करीब 9:30 बजे शिवपुरी से करीब 4 किलोमीटर आगे ऋषिकेश की ओर एक मोड़ पर अचानक कार अनियंत्रित होकर करीब 200 मीटर गहरी खाई में जा गिरी। कार चालक जब घायल अवस्था में मार्ग तक पहुंचा और यहां से आ रहे वहां चालकों को जानकारी दी तब जाकर पुलिस को घटना की जानकारी मिल पाई। सूचना पाकर मुनिकीरेती से पुलिस व एसडीआरएफ की टीम मौके पर पहुंची और रेस्क्यू शुरू किया। घायल आनंद बहुगुणा (41) पुत्र दयाल मणि बहुगुणा तथा अनीता पंत (46) पत्नी उदय पंत दोनों निवासी धरा रोड़ विकास मार्ग पौड़ी को राजकीय चिकित्सालय पहुचाया गया। उधर कार में सवार दो अन्य उदय पंत (54 वर्ष) व संजय नौटियाल (46 वर्ष) दोनों निवासी धारा रोड़, विकास मार्ग पौड़ी के शव देर रात्रि रेस्क्यू दल ने खाई से बरामद किए। थानाध्यक्ष मुनिकीरेती सीएस बिष्ट ने बताया कि दोनों शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजा जा रहा है। राजकीय चिकित्सालय ऋषिकेश में भर्ती घायल आनंद बहुगुणा ने बताया की मृतक उदय पंत पौड़ी में अधिवक्ता और संजय नौटियाल राजकीय शिक्षक थे। सभी लोग आसपास ही रहते थे। चिकित्सकों के मुताबिक दोनों घायलों की हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है।

उत्तराखंड सरकार का खास ऑफर ,सरकारी जमीन कब्जाने वालों को

पब्लिक व्यू 9/23/2016 1:34:37 AM
img

रिवर फ्रंट डेवलपमेंट योजना की आड़ में राज्य सरकार एक बार फिर नदियों के किनारे सरकारी जमीनों पर कब्जा करने वालों पर मेहरबान हो गई है। अवैध कब्जा करने वालों को पहले ही औने-पौने दाम में मालिकाना हक देने का फैसला कर चुकी सरकार अब उन्हें सब्सिडी पर फ्लैट देने की तैयारी कर रही है। खास बात यह है कि यह सब्सिडी बेघरों को आवास मुहैया कराने के लिए केंद्र सरकार से मिली धनराशि से दी जाएगी। इसके तहत कब्जेधारकों को पांच लाख का फ्लैट सिर्फ साढ़े तीन लाख में दिया जाएगा। राजधानी देहरादून में रिस्पना और बिंदला नदियों के दोनों किनारों पर बड़ी संख्या में लोगों ने कब्जा किया हुआ है। यह ज्यादातर जमीन सिंचाई समेत अन्य विभागों की है। ज्यादातर स्थानों पर स्थानीय नेताओं ने ही अवैध रूप से बस्तियां बसाई हैं। कुछ समय पहले ही सरकार पांच सौ से अधिक बस्तियों को मालिकाना हक देने की घोषणा कर चुकी है। वहीं अब रिवर फ्रंट डेवलपमेंट योजना के तहत कब्जेधारकों पर एक बार फिर मेहरबानी करने की तैयारी है। सरकार ने पहले ट्रांसपोर्ट नगर और आमवाला तरला में बन रहे इकोनोमिकल वीकर सेक्शन (ईडब्ल्यूएस) व लोअर इनकम ग्रुप (एलआईजी) फ्लैट देने की योजना तैयार की। एलआईजी को दस लाख और ईडब्ल्यूएस को पांच लाख में फ्लैट दिए जाने थे।सरकार ने केंद्र सरकार की हाउसिंग फॉर ऑल योजना के तहत आवेदन किया, जिसमें पहली किस्त के रूप में केंद्र ने 1,38,57,730 रुपये की धनराशि जारी की है। इस राशि से बेघरों के लिए आवास बनाए जाने हैं। लेकिन, राज्य सरकार इस धनराशि से अवैध कब्जेधारकों को ईडब्ल्यूएस फ्लैट पर डेढ़ लाख रुपये की सब्सिडी देने की तैयारी में है। आमवाला तरला में इडब्ल्यूएस के 240 व एलआईजी के 80 फ्लैट बनेंगे। वहीं ट्रांसपोर्ट नगर में इडब्ल्यूएस के 224 व एलआईजी के 144 फ्लैट बनेंगे। योजना में नदी से 50 मीटर दूरी तक वालों को शामिल किया जाएगा। सब्सिडी का लाभ केवल उन्हीं लोगों को मिलेगा, जो हाउसिंग फॉर ऑल स्कीम के पात्र होंगे। रिवर फ्रंट डेवलपमेंट योजना के तहत नदियों के किनारे खाली होने वाली जमीन में भी फ्लैट बनाए जाएंगे। इसमें भी नदियों के किनारे से हटाए जाने वाले लोगों को पुर्नवासित करने की योजना है। केंद्र सरकार ने अफोर्डेबल हाउसिंग प्रोजेक्ट के अन्तर्गत स्वीकृत दो डीपीआर की पहली किस्त के रूप में एक करोड़ 38 लाख से अधिक की धनराशि अवमुक्त की है। इससे इकोनोमिकल वीकर सेक्शन को फ्लैट पर डेढ़ लाख रुपये की सब्सिडी मिल सकेगी।

उत्तराखंड का ये हिल स्टेशन, जानिए.क्यों? विदेशियों को भाया

पब्लिक व्यू 9/22/2016 3:59:17 AM
img

नैनीताल के पास गैरखेत क्षेत्र विदेशी पर्यटकों के लिए आकर्षण का केंद्र बन रहा है।बीते वर्षों में यहां खुले आकाश के नीचे टेंट लगाकर प्रकृति के सानिध्य में रहने और योग के माध्यम से सेहत सुधारने के इच्छुक विदेशी काफी तादाद में आ रहे हैं। निजी स्तर पर कुछ उद्यमी उनके रहने-खाने की व्यवस्था कर रहे हैं, लेकिन उन्होंने इसके लिए प्रशासन से कोई अनुमति नहीं ली है। जिला अभिसूचना के अधिकारियों की विदेशियों की आवाजाही पर नजर है। उन्होंने इस स्थल का निरीक्षण कर संचालकों को विदेशी पर्यटकों से सी फार्म सुनिश्चित करने और उन्हें ठहराने के लिए पर्यटन विभाग से स्वीकृति लेने के प्रति आगाह भी किया है। हालांकि कई मामलों में पर्यटकों के सी फार्म अभिसूचना कार्यालय में जमा कराए भी गए हैं। बहरहाल इस प्रकरण से यह तथ्य अवश्य उजागर हुआ है कि अभी तक बगैर प्रचार प्रसार और सरकारी सहयोग के चल रहे इस व्यवसाय को समुचित व्यावसायिक स्वरूप दिए जाने से इस क्षेत्र में नेचर टूरिज्म को ट्रैकिंग और योग जोड़कर पर्यटन उद्योग को नए आयाम दिए जा सकते हैं। रेनबो गेदरिंग फैमिली संस्था के जरिए फेसबुक पर संपर्क हुआ जिला अभिसूचना कार्यालय के विदेशी पर्यटक विभाग के उप निरीक्षक नंदन सिंह बिष्ट और अखिलेश सिंह ने बीते रोज गैरखेत क्षेत्र का मुआयना किया। उन्होंने बताया कि वहां दो उद्यमियों द्वारा अलग-अलग स्थानों पर टेंट लगाकर विदेशी पर्यटकों को ठहराया गया है। ये पर्यटक प्राकृतिक स्थानों पर खुले में रहने और ध्यान-योग के शौकीन हैं और रेनबो गेदरिंग फैमिली संस्था के माध्यम से फेसबुक से उनका संपर्क हुआ है। बिष्ट के अनुसार एक संस्था के संचालक मोनिश जलाल हैं। यहां अमेरिका व चीन से पर्यटक आए थे जिनके सी फार्म अभिसूचना कार्यालय में जमा थे, लेकिन कैंपिंग कराने के लिए पर्यटन विभाग से अनुमति नहीं ली थी। एक अन्य संस्था के संचालक फरहान अहमद ने जिन पर्यटकों को ठहराया उनसे न तो सी फार्म जमा कराए, न ही उन्हें टेंट में रखने की अनुमति ली। बिष्ट के अनुसार हालांकि पर्यटकों के पासपोर्ट तथा बीजा आदि नियमानुसार है। इसलिए पर्यटकों के खिलाफ कोई मामला नहीं बनता। फिर भी उन्होंने पर्यटकों को घने जंगल के बीच रहने पर अपनी सुरक्षा और स्वास्थ्य के प्रति सचेत कर दिया है। साथ ही संचालकों को इस आशय के नोटिस जारी किए हैं कि वे पर्यटकों को बगैर पूर्व अनुमति के न ठहराएं और उनके सी फार्म भरा जाना सुनिश्चित करें। बिष्ट व अखिलेश ने बताया कि विदेशी पर्यटक यहां 2014 से आ रहे हैं और विभाग को उनकी आवाजाही की जानकारी है।

पाकिस्तान का नाम विश्व मानचित्र से मिटा दो,शंकराचार्य ने कहा

पब्लिक व्यू 9/20/2016 11:14:35 PM
img

शारदा पीठाधीश्वर जगद्गुरु शंकराचार्य स्वामी राजराजेश्वराश्रम महाराज ने कहा कि विश्व के मानचित्र से पाकिस्तान जैसे देशों का नाम मिटाने का वक्त आ गया है। यह देश घोर आतंकवाद की जननी है। पाकिस्तान को सबक सिखाने के लिए अब केवल शब्दों से काम नहीं चलेगा। जब तक आतंकवाद को गंभीरता से नहीं लिया जाएगा, यह पाकिस्तान से निकलकर पूरी दुनिया को तबाह करता रहेगा। कनखल स्थित जगद्गुरु आश्रम में अमर उजाला से बातचीत करते हुए शंकराचार्य ने कहा कि अब बहुत हो चुका है। दशकों बीत गए पाकिस्तान ने अपनी हरकतें बंद नहीं की हैं। उसके कारनामों का दंड अब आवश्यक हो गया है। केवल सुबूत सौंपकर और ऐतराज दाखिल करने से काम चलने वाला नहीं। याद करें कि अमेरिका ने किस तरह भीतर घुसकर विश्व के आतंकी सरगना लादेन को मार गिराया था। जब दुनिया के किसी देश ने लादेन को शरण नहीं दी तब पाकिस्तान उसका शरणदाता बना। क्रिया की प्रतिक्रिया अवश्य होती है। आश्चर्य है कि भारत लंबे समय से पाकजनित आतंकवाद को झेल रहा है। चीन को छोड़कर पूरी दुनिया ने इस घटना की निंदा की शंकराचार्य राजराजेश्वराश्रम महाराज ने कहा कि इस घटना को हल्के में नहीं लिया जा सकता। पहले मुंबई, फिर देश की राजधानी दिल्ली की संसद, पठानकोट और अब उड़ी में पाकिस्तान ने जो कुछ किया वह एक तमाशा है। आश्चर्य का विषय है कि चीन को छोड़कर पूरी दुनिया ने इस घटना की निंदा की है। भारत की रुचि न जाने क्यों मात्र बयानों में बनी हुई है। बैठकों के दौर लगातार चल रहे हैं। आजादी के बाद पाकिस्तान ने अनेक जंग की। हर बार उसे मुंह तोड़ जवाब दिया गया। अब फौजों को सामने लाने के बजाय आतंकवादियों के दम पर भारत की शक्ति क्षीण करने का प्रयत्न कर रहा है। यह दुर्भाग्यपूर्ण है। समय आ गया है जब आतंक की जननी पाकिस्तान को मानचित्र से ही मिटा देना होगा। अखाड़ा परिषद के राष्ट्रीय महामंत्री श्रीमहंत हरिगिरी ने कहा कि अब बहुत हो चुका है, आतंकवादियों को कड़ा सबक सिखाया जाना चाहिए। भारत सरकार न जाने क्यों पाकिस्तान में चल रहे आतंक के अड्डों को समाप्त नहीं करती। बार बार आक्रमण हो रहे हैं और हम केवल बयानबाजी करने में लगे हैं। हाल की घटना से समूचा देश द्रवित हो उठा है, एक भी व्यक्ति ऐसा नहीं है जो घटना का विरोध न कर रहा हो। इसके बावजूद केंद्र सरकार चुप बैठी हुई है। जयराम पीठाधीश्वर ब्रह्मस्वरूप ब्रह्मचारी ने कहा कि पाकिस्तान ने अपने अधिकार क्षेत्र का बार बार अतिक्रमण किया। पूर्व प्रधानमंत्री स्व. इंदिरा गांधी ने 1971 में इसे सबक सिखाया था। एक बार फिर से ऐसे कई सबक सिखाए जाने चाहिए। मानव कल्याण आश्रमों के संस्थापक स्वामी कल्याणानंद सरस्वती ने कहा कि इजराइल से प्रेरणा लेनी चाहिए। मुल्क पर हमला करने वाले किसी भी आतंकवादी को इजराइल उसके घर में घुसकर तबाह करता है।

उत्तराखंड का मोस्ट वांटेड गुलदार ,ड्रोन की मदद से ढूंढा जा रहा

पब्लिक व्यू 9/20/2016 3:43:26 AM
img

देश में पहली बार आदमखोर तेंदुए की तलाश के लिए ड्रोन की मदद की जा रही है। रामनगर स्थित जिम कार्बेट नेशनल पार्क में आदमखोर गुलदार ढूंढा जा रहा है। एक तरफ जहां वन विभाग की टीम सर्च अभियान चलाए हुए है, वहीं ड्रोन से तराई पश्चिमी वन प्रभाग के अंतर्गत रामनगर के भवानीपुर, धनपुर घासी समेत आसपास के करीब 10 से 12 हेक्टेयर इलाके में गन्ने के खेत, नालों आदि इलाकों को सर्च किया गया। हालांकि ड्रोन ने जो फोटोग्राफ्स लिए हैं उनमें तेंदुआ कहीं नहीं दिख रहा है। वन संरक्षक पश्चिमी वृत्त डॉ. पराग मधुकर धकाते कहते हैं कि देश में पहली बार ड्रोन का प्रयोग वन्यजीव की खोजबीन में किया जा रहा है। बीते शनिवार को आमपोखरा रेंज में परमजीत की जान लेने वाले आदमखोर की तलाश में यह ‌कवायद की जा रही है।

बच्चों को डॉक्टर बनाएगी मोदी सरकार ,आतंकवाद के शिकार

पब्लिक व्यू 9/19/2016 12:09:40 AM
img

देश में कहीं भी आतंक का शिकार हुए परिवार के बच्चे भी अब डॉक्टर बन सकेंगे। केंद्र सरकार ने हाल ही में आदेश जारी करते हुए तीन राज्यों के चार मेडिकल कॉलेजों में आतंक पीड़ित परिवारों के बच्चों के लिए चार एमबीबीएस सीटें आरक्षित कर दी हैं। उत्तराखंड में इन बच्चों के लिए दो सीटें आरक्षित हुई हैं। इसके लिए काउंसिलिंग प्रक्रिया केंद्र सरकार से होगी, जबकि राज्य की जिम्मेदारी दाखिले की होगी। केंद्रीय गृह मंत्रालय के आंतरिक सुरक्षा प्रभाग की ओर से दिए गए निर्देशों के तहत हाल ही में उत्तराखंड सरकार को इस बारे में निर्देश मिले हैं। इसके तहत आतंक पीड़ित परिवारों या उनके बच्चों के लिए तीन राज्यों में एमबीबीएस की सीट आरक्षित की गई है। इनमें से दो सीटें उत्तराखंड, एक सीट बिहार और एक सीट केरल में आरक्षित हुई है। पीड़ित परिवारों में से एक पीड़ित को एक सीट एएन मगध मेडिकल कॉलेज, गया बिहार, एक सीट मेडिकल कॉलेज त्रिसूर केरल, एक सीट राजकीय मेडिकल कॉलेज हल्द्वानी उत्तराखंड और एक सीट वीर चंद्र सिंह गढ़वाली राजकीय मेडिकल कॉलेज श्रीनगर गढ़वाल में दी जाएगी। मंत्रालय के मुताबिक पहली प्राथमिकता उन बच्चों को दी जाएगी, जिनके माता और पिता किसी आतंकवादी घटना में मारे गए हों। दूसरी प्राथमिकता उन बच्चों को दी जाएगी, जिनके माता या पिता में से कोई एक आतंकी हादसे का शिकार हो गया हो। तीसरी प्राथमिकता उन बच्चों को मिलेगी, जिनके परिजन आतंकी हादसे में हमेशा के लिए गंभीर अपंग हो गए हों। दाखिलों के सभी नियम नेशनल एलिजिबिलिटी कम एंट्रेंस टेस्ट(नीट) के ही फॉलो किए जाएंगे। देश में कहीं भी हुई आतंकी घटना में अगर किसी बच्चे के मां या बाप या दोनों ही मारे गए हैं, उनके लिए केंद्रीय गृह मंत्रालय ने यह दो सीटें उत्तराखंड में रिजर्व की हैं। इनके दाखिले इसी साल दिए जाएंगे। - डॉ. आशुतोष सयाना, निदेशक, चिकित्सा शिक्षा, उत्तराखंड

पहला चरण शुरू रानीखेत में भारत-अमेरिका युद्धाभ्यास का

पब्लिक व्यू ब्युरो 9/16/2016 11:18:27 PM
img

उत्तराखंड के रानीखेत के चौबटिया में भारत-अमेरिका संयुक्त युद्धाभ्यास का पहला चरण शुरू हो गया है। सैन्य सूत्रों के अनुसार, शुक्रवार को पहले दिन दोनों तरफ के सैनिकों ने युद्धाभ्यास के लिए फील्ड में ट्रेनिंग ली और लेक्चर क्लासेज में शामिल हुए। आतंकवाद और उग्रवाद के खात्मे को लेकर दोनों देश सजग हैं। दोनों देशों के बीच यह 12वां युद्धाभ्यास है। युद्धाभ्यास के दौरान दोनों देशों के जवानों द्वारा आतंकवाद से निपटने की कार्यकुशलता और तकनीकी कौशल पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। निगरानी और ट्रैकिंग उपकरण, आतंकवादियों से निपटने के लिए विशेष हथियारों, विस्फोटक और आईईडी डिटेक्टर्स और नवीनतम संचार उपकरणों का प्रयोग भी होगा। सैन्य सूत्रों के अनुसार, पहले दिन दोनों देशों के जवानों और अधिकारियों को विशेषज्ञों ने युद्धाभ्यास के बारे में विस्तृत जानकारी दी। फील्ड में अभ्यास भी किया गया। सूत्रों का यह भी कहना है कि युद्धाभ्यास में हाथ से बनने वाले विस्फोटकों के तौर तरीकों का आदान-प्रदान भी होगा। जंगलों में छिपकर बैठे आतंकवादियों की खोज के तरीके भी सिखाए जाएंगे। इन सभी गतिविधियों में भारतीय सेना को सबसे अधिक जानकार माना जाता है।

गृह मंत्री को करना पड़ा हस्तक्षेप ,हरिद्वार के SP सिटी को हटाने पर सियासी भूचाल

पब्लिक व्यू ब्युरो 9/15/2016 11:47:52 PM
img

हरिद्वार के निर्मल विरक्त कुटिया प्रकरण में बुधवार देर रात एक पक्ष के प्रवीण यादव की गिरफ्तारी के बाद सूबे के पुलिस महकमे और सियासत में भूचाल आ गया। गिरफ्तारी के कुछ ही देर बाद हरिद्वार के एसपी सिटी नवनीत सिंह भुल्लर को हटाकर सशस्त्र प्रशिक्षण केंद्र एटीसी से संबद्ध कर दिया गया। मामला मुख्यमंत्री और गृह मंत्री तक पहुंचा तो गृह मंत्री प्रीतम सिंह को हस्तक्षेप करना पड़ा। उन्होंने एसपी सिटी का तबादला न करने का आश्वासन दिया है। निर्मल विरक्त कुटिया का मामला इन दिनों सुर्खियों में है। बुधवार रात पुराने मामले में प्रवीण यादव की गिरफ्तारी होने के कुछ देर बाद ही गिरफ्तारी के ऑपरेशन की अगुवाई करने वाले एसपी सिटी नवनीत सिंह भुल्लर का तबादला आदेश आ गया। भुल्लर को सिटी से हटाकर सशस्त्र प्रशिक्षण केंद्र एटीसी से संबद्ध कर दिया गया। वे बुधवार शाम ही कई दिनों की छुट्टी से लौटे थे। आईजी (कार्मिक) जीएस मर्तोलिया का जैसे ही यह आदेश जारी हुआ, सूबे की सियासत गरमा गई। हरिद्वार के कुछ कांग्रेसियों ने मुख्यमंत्री और गृह मंत्री कार्यालय से संपर्क साध कर पूरा वाकया बताया। दिनभर चली कवायद के बाद बृहस्पतिवार शाम गृहमंत्री प्रीतम सिंह ने हस्तक्षेप किया। उन्होंने एसपी सिटी का स्थानांतरण रोकने की बात कही। हालांकि अभी तबादला रोकने का आदेश नहीं आया है, लेकिन गृहमंत्री प्रीतम सिंह ने कहा कि एसपी सिटी को नहीं हटाया जाएगा। मालूम हो कि निर्मल विरक्त कुटिया की बेशकीमती संपत्ति को कब्जाने का आरोप सत्ता के करीबी रणजीत सिंह रावत और अन्य प्रभावशाली लोगों पर लगाते हुए भाजपा नेता सतपाल महाराज और सांसद रमेश पोखरियाल निशंक ने दिल्ली में पिछले दिनों प्रेसवार्ता की थी। इसके बाद सीएम ने भाजपा पर पलटवार कर उसके शासन में ही संपत्ति कब्जाए जाने की कोशिशों की बात कही थी। रात को ही हटा ली आवास की पुलिस गारद एसपी सिटी पद से हटाने के चंद मिनटों बाद ही भुल्लर के सरकारी आवास से पुलिस गारद हटाने के आदेश भी आनन-फानन में जारी कर दिए गए। भुल्लर का देवपुरा चौक के पास सरकारी आवास है, जहां हर समय पुलिस गारद तैनात रहती है। बुधवार रात साढ़े 11 बजे उनके तबादले का फैक्स पहुंचा और आधी रात को ही उनके आवास से पुलिस गारद हटा ली गई। यह था मामला वर्ष 2009 में निर्मल विरक्त कुटिया के तत्कालीन प्रबंधक भगवंत सिंह ने पुलिस को तहरीर दी थी कि सुखदेव सिंह नामधारी और प्रवीण यादव समेत कई लोगों ने उनका फर्जी त्यागपत्र तैयार कर एक नई ट्रस्ट बनाकर उसे पंजीकृत करा लिया है। इसके बाद कनखल थाने में मुकदमा दर्ज हुआ। लेकिन भाजपा सरकार में अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष रहे सुखदेव सिंह नामधारी के आरोपी होने के चलते आरोप पत्र रोक दिया गया और बाद में एफआर लगा दी गई।

केंद्र ने लगाई फटकार केदारनाथ आपदा राहत का पैसा,15 राज्यों ने दबाया

पब्लिक व्यू ब्युरो 9/14/2016 11:48:47 PM
img

उत्तराखंड में वर्ष 2013 में आयी भयावह त्रासदी के बाद देश के 15 राज्यों के 35 सांसदों द्वारा दी गई आर्थिक सहायता को तमाम राज्य दबाए बैठे हैं। 15वीं लोकसभा के 35 सांसदों ने ‘मेबर्स आफ पार्लियामेंट लोकल एरिया डेवलपमेंट स्कीम’ (एमपीलैड्स) के तहत कुल मिलाकर साढ़े चार करोड़ की आर्थिक सहायता दी थी, लेकिन चौंकाने वाली बात यह रही इसमें से अभी तक उत्तराखंड को फूटी कौड़ी भी नहीं मिली अब इसे लेकर केंद्र ने सभी राज्यों के मुख्य सचिवों को कड़ी फटकार लगाई है। एमपीलैड्स के निदेशक ने सभी राज्यों के मुख्य सचिवों को पत्र लिखकर कहा है कि वे सांसदों द्वारा दी गई सहायता को तत्काल उत्तराखंड को मुहैया कराएं। उत्तराखंड त्रासदी के बाद उत्तराखंड के सांसद सतपाल महाराज, यूपी के चार सांसदों रेवतीरमण सिंह, शैलेंद्र कुमार, कपिलमुनि करवरिया, उषा वर्मन और श्रीप्रकाश जायसवाल के अलावा कर्नाटक, गोवा, ओडिसा, राजस्थान, तमिलनाडु, तेलंगाना, बिहार, आसाम, आंध्रप्रदेश समेत 15 राज्यों के 35 सांसदों ने कुल मिलाकर साढ़े चार करोड़ की आर्थिक सहायता दी थी। एमपीलैड्स के तहत दी गई आर्थिक सहायता को लेकर तमाम सांसदों ने अपने-अपने राज्यों के मुख्य सचिवों से कहा कि वे आर्थिक सहायता उत्तराखंड को मुहैया कराएं, ताकि त्रासदी के चलते तबाह हुए प्रदेश में विकास कार्यों को कराया जा सके। लेकिन चौंकाने वाली बात यह रही कि सभी राज्यों ने सांसदों के अनुमोदन के बावजूद फाइल आगे नहीं बढ़ाई, जबकि इस राशि को तत्काल जारी किया जाना चाहिए था। उल्लेखनीय है कि जिन सांसदों ने आर्थिक सहायता की पहल की, उनमें से ज्यादातर वर्तमान में सांसद नहीं हैं। अब एमपीलैड्स के निर्देशक पी. साईबाबा ने सभी राज्यों के प्रमुख सचिवों को पत्र लिखकर कहा है कि वे सांसदों द्वारा स्वीकृत सहायता राशि को तत्काल उत्तराखंड सरकार को मुहैया कराएं, ताकि इस बजट से आपदा से प्रभावित लोगों को राहत सहायता देने के साथ ही जरूरी विकास कार्य कराए जा सकें। वहीं प्रमुख सचिव ग्राम्य विकास मनीषा पंवार ने जिलाधिकारी रुद्रप्रयाग से इस संबंध में जानकारी मांगी है। साथ ही यह भी निर्देशित किया कि इस संबंध में सीधे केंद्र से लिखापढ़ी करें। केंद्र से मिली 3500 करोड़ की आर्थिक सहायता आपदा प्रबंधन विभाग के उप सचिव संतोष बडोनी के मुताबिक साल 2013 में आयी आपदा के बाद केंद्र से 7980 करोड़ के बजट की मंजूरी दी गई है। जिससे सेंट्रल स्पांसर्ड स्कीम फार रीकंस्ट्रशन यानी सीएएसएसआर के तहत 3000 करोड़, एशियन डेवलपमेंट बैंक से 2700 करोड़, एसपीआरए के तहत 1125 करोड़ रुपये शामिल है। विभिन्न योजनाओं के तहत अब तक 3500 करोड़ का बजट जारी किया गया है। जिसमें सीएसएसआर के तहत 1500 करोड़, एसपीआरए के तहत 800 करोड़ और लोन के तहत मिले 1200 करोड़ रूपये खर्च किए जा चुके हैं। केंद्र से अभी 4500 करोड़ रुपये और मिलना है। 16 जून 2013 को आयी आपदा में रुद्रप्रयाग समेत राज्य के कई इलाकों में भारी तबाही हुई थी। सरकारी आंकड़ों के मुताबिक आपदा में 5700 लोगों की मौतें हुई जबकि हकीकत यह है कि आपदा में हजारों को जान गंवानी पड़ी और अरबों की संपत्ति का नुकसान हुआ। आपदा के चलते जहां कैलाश मानसरोवर यात्रा प्रभावित रही वहीं बद्रीनाथ, केदारनाथ यात्रा दो साल के लिए बाधित रही। आपदा के बाद केद्र से मिले अरबों के बजट से तमाम निर्माण कार्य कराए गए हैं लेकिन इतना खर्च होने के बावजूद आपदा से तबाह लोगों की जिंदगी को पटरी पर नहीं लाया जा सका है। हां यह सही है कि एमपीलैड्स के तहत तमाम राज्यों से सहायता नही मिल पायी है। इस संबंध में संबंधित राज्यों से लिखापढ़ी की गई। केंद्र सरकार के स्तर से भी कई बार कहा गया। यह भी सच है कि एमपीलैड्स के तहत कई राज्यों ने सांसदों द्वारा दी गई सहायता को भेजा जिससे रुद्रप्रयाग समेत आपदा प्रभावित इलाकों में पुल, सड़क, पुलिया समेत तमाम निर्माण कार्य कराए गए। - युगल किशोर पंत, अपर सचिव, ग्राम्य विकास विभाग

बीसीसीआई ले सकती है कड़ा फैसला ,उत्तराखंड की मान्यता पर

पब्लिक व्यू ब्युरो 7/15/2016 11:05:31 PM
img

नहीं बनी तो उत्तराखंड के क्रिकेट के भविष्य को लेकर बीसीसीआई कड़ा फैसला ले सकता है। इस कड़ी में राज्य में क्रिकेट संचालन अपने हाथ में लेने की बात से भी इनकार नहीं किया जा सकता है। फिलहाल इसकी संभावना सबसे अधिक नजर आ रही है।माना जा रहा है कि 16 साल से प्रदेश में मान्यता को लेकर जारी लड़ाई के पीछे बोर्ड में अपना रसूख रखने वाले दो सदस्य हैं। इन दोनों सदस्यों का राज्य में कार्यरत अलग-अलग दो एसोसिएशनों का वरदहस्त प्राप्त है।

हाई अलर्ट पर उत्तराखंड, नौ जिलों में होगी भारी बारिश

पब्लिक व्यू ब्युरो 7/14/2016 12:43:14 AM
img

प्रदेश के नौ जिलों में बृहस्पतिवार शाम से अगले 72 घंटे भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है।वहीं देहरादून सहित कई इलाकों में बृहस्पतिवार सुबह से रुक-रुककर बारिश हो रही है। मौसम विभाग ने पर्यटकों और चारधाम यात्रियों को अतिरिक्त सतर्कता बरतने की सलाह दी है। पहाड़ी क्षेत्रों में लोगों को सुरक्षित ठिकाने पर रहने की हिदायत भी दी गई है। मौसम विभाग के निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि बृहस्पतिवार शाम से आगामी 72 घंटे तक उत्तरकाशी, देहरादून, रुद्रप्रयाग, चमोली, पिथौरागढ़, बागेश्वर, अल्मोड़ा, नैनीताल और चंपावत में भारी से भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है। उन्होंने बताया कि प्रदेश के कई हिस्सों में 15 जुलाई से 17 जुलाई के बीच मध्यम बारिश होगी। जबकि कई जगहों पर हल्की से मध्यम बारिश के आसार हैं।बारिश की वजह से केदारनाथ, बद्रीनाथ, हेमकुंड साहिब, गंगोत्री और यमुनोत्री जाने वाले तीर्थयात्रियों और प्रदेश के अन्य चेतावनी वाले जिलों में जाने वाले पर्यटकों को अतिरिक्त सतर्कता और स्थानीय निवासियों को सुरक्षित ठिकाने पर रहने की सलाह दी गई है।

डूब रहे बच्चे को बचाने टैंक में उतरे दस बंदर, दसों की मौत

पब्लिक व्यू ब्युरो 7/12/2016 10:47:58 PM
img

चंपावत के लोहाघाट रोडवेज कार्यशाला में बने पानी के टैंक में डूबे बंदर के बच्चे को बचाने में 10 बंदरों की मौत हो गई। वन विभाग ने मौके पर पहुंचकर सभी मृत बंदरों को टैंक से बाहर निकाला। पोस्टमार्टम के बाद उन्हें रोडवेज कार्यशाला परिसर में दफना दिया। सोमवार देर शाम एक बंदर का बच्चा अपनी मां से बिछड़ कर छमनियां स्थित रोडवेज कार्यशाला परिसर में वाहनों की साफ-सफाई के लिए बने पानी के टैंक में गिर गया, जिसे बचाने की खातिर अन्य सभी बंदर टैंक में कूद गए।हालांकि टैंक में पानी करीब तीन फिट था, लेकिन टैंक की करीब 10 फिट की गहराई होने के कारण कोई भी बंदर वहां से निकल नहीं पाया।

ट्राला फंसने से सात घंटे बंद रहा बदरीनाथ हाईवे

पब्लिक व्यू ब्युरो 7/11/2016 11:05:54 PM
img

बदरीनाथ हाईवे पर बाजपुर में सोमवार को ट्राला फंसने से करीब साढ़े सात घंटे तक वाहनों की आवाजाही ठप रही।स्कूली बच्चों और कर्मचारियों को भी यहां पर पैदल आवाजाही करनी पड़ी। सोमवार को सुबह पांच बजे पीपलकोटी की ओर जा रहा एक ट्राला बाजपुर भूस्खलन क्षेत्र में फंस गया, जिससे यहां वाहनों की आवाजाही ठप हो गई।पुलिस प्रशासन की ओर से नंदप्रयाग-कोठियालसैंण मोटर मार्ग से छोटे वाहनों की आवाजाही कराई गई, जबकि बड़े वाहनों की आवाजाही ठप रही। सीमा सड़क संगठन (बीआरओ) ने जेसीबी की मदद से ट्राले को किनारे कर दोपहर साढ़े बारह बजे हाईवे पर वाहनों की आवाजाही सुचारु कराई।उधर, लामबगड़ में भी मलबा आने से बदरीनाथ हाईवे करीब चार घंटे तक अवरुद्ध रहा। सुबह पांच बजे यहां भी सड़क पर जगह-जगह मलबा आ गया था। सुबह नौ बजे तक यह मलबा हटाया जा सका।बीआरओ के कमांडर आर सुब्रमण्यम का कहना है कि बरसात में हाईवे को सुचारु रखना चुनौतीपूर्ण काम है। एक जुलाई को जगह-जगह बादल फटने से हाईवे को भारी नुकसान हुआ है। अब थोड़ी सी बारिश होने पर भी हाईवे अवरुद्ध हो रहा है। ब्यूरोसोमवार को मात्र 1164 यात्रियों ने चार धाम दर्शन किए। बदरीनाथ धाम में 490 तीर्थयात्रियों ने भगवान बदरीनाथ के दर्शन किए। जबकि हेमकुंड साहिब की तीर्थयात्रा पर गोविंदघाट से 423 तीर्थयात्री रात्रि विश्राम के लिए घांघरिया पहुंचे। उत्तरकाशी जिले में यमुनोत्री एवं गंगोत्री हाईवे पर यातायात सुचारु रहने से तीर्थयात्रियों के धामों तक पहुंचने का सिलसिला जारी रहा। सोमवार को 77 तीर्थयात्री यमुनोत्री और 509 यात्री गंगोत्री धाम पहुंचे। केदारनाथ धाम में मात्र 88 श्रद्धालुओं ने बाबा केदार के दर्शन किए। कपाट खुलने के बाद यह पहला मौका है, जब एक दिन में इतने कम यात्रियों ने दर्शन किए। धाम में अब तक कुल 251944 श्रद्धालु दर्शन कर चुके हैं।

दस हजार रिश्वत लेते धरा गया ले. कर्नल

पब्लिक व्यू ब्युरो 7/8/2016 10:58:05 PM
img

सीबीआई ने डीआरडीओ की रायपुर स्थित प्रयोगशाला आईआरडीई में तैनात लेफ्टिनेंट कर्नल भरत जोशी को 10 हजार रुपये की रिश्वत लेते गिरफ्तार किया है।आरोप है कि यह रिश्वत ठेकेदार से बकाया करीब 16 लाख रुपये के भुगतान के बदले मांगी गई थी। लेफ्टिनेंट कर्नल जोशी आईआरडीई में गैरीसन इंजीनियर्स की रिसर्च एंड डेवलेपमेंट विंग में तैनात थे। सीबीआई टीम ने जोशी के आफिस और विज्ञान विहार स्थित आवास पर गहन तलाशी कर कुछ दस्तावेज कब्जे में लिए हैं। देर रात तक सीबीआई की कार्रवाई चल रही थी। सीबीआई सूत्रों के मुताबिक आईआरडीई में निर्माण कार्य करने वाले ठेकेदार हरेंद्र का करीब 16 लाख रुपये का भुगतान बकाया था। काफी प्रयासों के बाद भी भुगतान नहीं हो पा रहा था।

सुल्तान आज हुई रिलीज, अगर टिकट मिल जाए तो आप होंगे लकी

पब्लिक व्यू ब्युरो 7/6/2016 12:48:45 AM
img

ईद का मौका और एक बार फिर सलमान खान की फिल्म रिलीज हुई है, जिसके लिए फैंस बिल्कुल तैयार हैं।सलमान के फैंस का फिल्म को लेकर इतना क्रेज है कि रिलीज से पहले ही देहरादून के सिनेमाघरों में 60 प्रतिशत टिकट एडवांस बुक हो चुके थे। अगर एडवांस बुकिंग नहीं कराई है तो बुधवार को सिनेमाघरों में टिकट खिड़की खुलते ही किस्मतवालों को ही टिकट नसीब हो पाएगा।फिल्म सुल्तान की खास बात यह भी है कि इसके निर्देशक अली अब्बास जफर और हीरोइन अनुष्का शर्मा का दून से जुड़ाव है। निर्देशक अली दून के ही रहने वाले हैं, जबकि अनुष्का शर्मा की नानी का घर भी शहर में है।

उत्तराखंडः चमोली और पिथौरागढ़ में कई जगह फटे बादल, 30 लोग जिंदा दफन

पब्लिक व्यू ब्युरो 6/30/2016 11:28:43 PM
img

उत्तराखंड में हुई बारिश ने कहर बरपा दिया है। यहां चमोली और पिथौरागढ़ में बादल फटने से दर्जनों लोग मलबे में दब गए हैं और कई लोग लापता हो गए हैं। वहीं बदरीनाथ हाईवे भी मलबा आने से जगह-जगह बंद हो गया है। बदरीनाथ से गौचर में बीच करी‌ब तीन हजार यात्रियों को सुरक्षित स्‍थानों पर रोका गया है। चमोली जिले में आठ लोगों की मौत होने की सूचना है।

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के बाद योगा में बढ़ा युवाओं का क्रेज

पब्लिक व्यू ब्युरो 6/29/2016 11:55:15 PM
img

संयुक्त राष्ट महासभा की 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के रूप में मनाने की घोषणा के बाद योग को एक नई पहचान मिली है। यही वजह है कि अब युवा योग में अपना करियर तलाश रहे हैं।योग के प्रति बढ़े रुझान की तस्दीक तीर्थनगरी के ऑटोनामस कालेज के योग विज्ञान विभाग के आंकड़े करते है। घोषणा के बाद यहां संचालित एमए इन योगा और पीजी डिप्लोमा इन योगा में एडमिशन लेने वाले छात्रों की संख्या में पचास फीसदी वृद्धि हुई है। कालेज में योग प्रवक्ता डा. जयप्रकाश कंसवाल ने बताया कि वर्ष 2003 में राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय में डिप्लोमा इन योगा की शुरूआत हुई थी। उसके बाद वर्ष 2008 में एमए योग एवं वैकल्पिक जिज्ञासा पद्घति विषय आरंभ किया गया।साल 2009 से 2013 तक लगभग सीटें खाली ही रही। लेकिन 21 जून 2015 से योग को अंतरराष्ट्रीय दिवस के रूप मनाने की घोषणा के बाद छात्रों में योग के प्रति रुझान बढ़ा। इन कोर्सेज में प्रवेश पाने वाले छात्रों की संख्या में पचास फीसदी वृद्धि हुई। बताया कि इस साल भी छात्रों की संख्या में इजाफा होने की संभावना है, क्योंकि एक दिन में प्रवेश पाने के लिए 30 छात्र प्रवेश फार्म खरीद चुके है।

हरिद्वार में घूस लेते धरा गया चकबंदी लेखपाल

पब्लिक व्यू ब्युरो 6/27/2016 11:01:39 PM
img

किसान की जमीन की पैमाइश करने के नाम पर घूस मांग रहा चकबंदी विभाग का लेखपाल पांच हजार रुपये लेता रंगे हाथों पकड़ा गया। विजिलेंस टीम घूसखोर लेखपाल को पकड़कर अपने साथ देहरादून ले गई। हरिद्वार जिले के जैनपुर गांव निवासी किसान इश्तकार चकबंदी विभाग से अपने खेत की पैमाइश करने की मांग सालों से कर रहा था, लेकिन दर्जनों आवेदन पत्र देने के बावजूद भी उसकी जमीन की पैमाइश नहीं हो पा रही थी। चकबंदी लेखपाल उसे इधर उधर की समझा कर टरका रहा था। लेकिन पैमाइश नहीं कर रहा था। बाद में पैमाइश करने की एवज में किसान से दस हजार रुपये की मांग की।किसान इश्तकार ने 23 जून को देहरादून विजिलेंस कार्यालय पर पहुंचकर सारी बात बताई । जिस पर विजिलेंस ने किसान को लेखपाल के खिलाफ तहरीर लेकर लेखपाल को ट्रैप करने की योजना बनाई। योजना के अनुसार किसान ने देहरादून से आकर लेखपाल से बात की। उसने लेखपाल से पांच हजार रुपये पहले और पांच हजार रुपये पैमाइश के बाद देने की बात कही, इस पर लेखपाल राजी हो गया।निर्धारित दिन पर जब किसान गोवर्धनपुर रोड पर किराए के मकान पर रहे लेखपाल को पांच हजार रुपये देने पहुंचा तो विजिलेंस की टीम ने उसे रंगे हाथों दबोच लिया। विजिलेंस के इंस्पेक्टर लक्ष्मण सिंह आरोपी लेखपाल को अपने साथ पकड़कर देहरादून ले गई। विजिलेंस की कार्रवाई से चकबंदी विभाग और सरकारी अमले में हड़कंप मचा है।

योग दिवस पर योग करने आईआईटी रुड़की के छात्र

पब्लिक व्यू ब्युरो 6/26/2016 11:23:40 PM
img

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर आईआईटी रुड़की में लगाए गए साप्ताहिक योग शिविर में भाग न लेना छात्रों को भारी पड़ सकता है। शिविर में 60 प्रतिशत उपस्थिति दर्ज कराने के लिए सभी छात्रों को नोटिस जारी किया था। ऐसे में कम उपस्थिति वाले छात्रों पर संस्थान प्रशासन ने कार्रवाई के संकेत दिए हैं। फिलहाल ऐसे छात्रों का डाटा तैयार किया जा रहा है, जिनकी संख्या 100 से अधिक हो सकती है।आईआईटी में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर 18 से 24 जून तक योग शिविर का आयोजन किया गया था। संस्थान प्रशासन की ओर से सभी छात्रों को योग क्लास में अनिवार्य रूप से शामिल होने के लिए नोटिस जारी किया गया था।हालांकि छात्रों को सप्ताह भर में योग में भाग लेने के लिए कुछ छूट भी दी गई थी। अब निर्णय लिया गया था कि 60 प्रतिशत से कम उपस्थिति दर्ज कराने वाले छात्रों पर कार्रवाई की जाएगी। इसके लिए शिविर में भाग लेने वाले छात्रों की उपस्थिति का आंकड़ा जुटाया जा रहा है।हालांकि अभी संस्थान प्रशासन ने पुख्ता तौर पर छात्रों को दंडित करने का फैसला नहीं लिया है, लेकिन माना जा रहा है कि कम उपस्थिति वाले छात्रों पर अंकों और फाइन के रूप में दंड लगाया जाएगा। ऐसे छात्रों की संख्या सौ से दो सौ के बीच बताई जा रही है। संस्थान प्रशासन ने बताया कि इसके बारे में जल्द ही फैसला लिया जाएगा।

अब बिल का झंझट खत्म, BSNL की प्रीपेड लैंडलाइन सेवा शुरू

पब्लिक व्यू ब्युरो 6/24/2016 11:36:26 PM
img

भारतीय संचार निगम लिमिटेड (बीएसएनएल) की लैंडलाइन सेवा इस्तेमाल करने वाले ग्राहकों के लिए कंपनी ने प्रीपेड लैंडलाइन सेवा शुरू की है।अब उपभोक्ताओं को मासिक किराया और सिक्योरिटी जमा करने से निजात मिलेगी। यह सेवा भी मोबाइल की प्रीपेड सेवा जैसी है, जिसमें ग्राहकों को केवल आउटगोइंग कॉल के पैसे देने होंगे। ऑनलाइन रिचार्ज करने से साथ ही लैंडलाइन सेवा से वीडियो कॉल भी कर सकते हैं।बृहस्पतिवार को राजपुर रोड स्थित विंडलास कांपलेक्स स्थित बीएसएनएल कार्यालय में आयोजित पत्रकार वार्ता में मुख्य महाप्रबंधक महक सिंह ने बताया कि ग्राहकों को जोड़े रखने के लिए कंपनी ने कई ऑफर निकाले हैं। इससे संचार सेवा में नई तकनीक के साथ स्पीड भी अच्छी होगी। टूजी के पुराने टेक्नोलॉजी को हटाकर नई टेक्नोलॉजी लगाई जा रही है।

कई सीएमओ और पीएमएस हुए इधर से उधर

पब्लिक व्यू ब्युरो 6/23/2016 11:01:07 PM
img

उत्तराखंड स्वास्थ्य महकमे में विभिन्न जनपदों में मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ), प्रमुख परामर्शदाता और प्रमुख अधीक्षकों का तबादला आदेश बृहस्पतिवार को जारी कर दिया गया। लंबे समय से तबादला आदेश की फाइल विचाराधीन थी।आखिर मुख्यमंत्री हरीश रावत के अनुमोदन के बाद शासन ने आदेश जारी कर दिए हैं। महानिदेशालय में तैनात अपर निदेशकों को जिम्मेदारी नहीं मिल पाई है। इसके अलावा नौ चिकित्सकों को अपर निदेशक पर पदोन्नत कर नई तैनाती के आदेश दिए गए हैं। दून चिकित्सालय में तैनात हड्डी रोग विशेषज्ञ डॉ. वाईएस थपलियाल को देहरादून का प्रभारी मुख्य चिकित्सा अधिकारी बनाया गया है। जारी आदेश के अनुसार अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी देहरादून डॉ. वीरेंद्र सिंह जंगपांगी को प्रभारी मुख्य चिकित्साधिकारी, देहरादून के पद पर तैनात किया गया है। अपर निदेशक स्वास्थ्य महानिदेशालय डॉ. धनलाल शाह को मुख्य चिकित्सा अधिकारी, चंपावत बनाया गया है। अपर मुख्य चिकित्साधिकारी पिथौरागढ़ डॉ. संजय शाह को प्रभारी मुख्य चिकित्साधिकारी, बागेश्वर बनाया गया है। संयुक्त निदेशक, स्वास्थ्य महानिदेशालय देहरादून डॉ. कैलाश जोशी का तबादला अपर मुख्य चिकित्साधिकारी पिथौरागढ़ के पद पर किया गया है। प्रमुख अधीक्षक बेस अस्पताल अल्मोड़ा डॉ. देवेंद्र प्रताप का तबादला प्रमुख परामर्शदाता बेस अस्पताल अल्मोड़ा के पद पर किया गया।मुख्य चिकित्सा अधीक्षक क्षय रोग आश्रम भावली डॉ. तारा चंद पंत का तबादला प्रमुख परामर्शदाता जिला अस्पताल पिथौरागढ़ में हुआ। प्रमुख अधीक्षक जिला चिकित्सालय पिथौरागढ़ डॉ. हरीश लाल को प्रमुख परामर्शदाता पद पर जिला चिकित्सालय पिथौरागढ़ स्थानांतरित किया गया है। दून अस्पताल में एनेस्थेटिस्ट पद पर तैनात डॉ. टीपी डिमरी का तबादला प्रमुख अधीक्षक बेस चिकित्सालय अल्मोड़ा किया गया है। प्रभारी मुख्य चिकित्साधिकारी चंपावत डॉ. विनोद सिंह टोलिया को अपर परियोजना निदेशक एड्स कंट्रोल देहरादून और अपर मुख्य चिकित्साधिकारी पौड़ी डॉ. दयाल शरण का तबादला मुख्य चिकित्सा अधीक्षक संयुक्त चिकित्सालय प्रेमनगर के पद पर किया है।

उत्तराखंड सरकार को ठेकेदारों ने लगाई करोड़ों की चपत

पब्लिक व्यू ब्युरो 6/23/2016 12:41:43 AM
img

2015 से पूर्व के ठेकों पर निर्माण एजेंसियां सर्विस टैक्स नहीं ले सकेंगी। आम बजट 2016 में यह प्रावधान किए जाने के बावजूद उत्तराखंड में कई एजेंसियां ने सरकार से सर्विस टैक्स की मद में करोड़ों रुपए वसूल लिए। बुधवार को यह घपला पकड़ में आने के बाद वित्त विभाग ने मार्च 2015 से पूर्व के ठेकों के भुगतान में सर्विस टैक्स देने पर तत्काल प्रभाव से रोक लगा दी है। वहीं दूसरी ओर ऐसे भुगतानों की सूची भी तलब की गई है, जिनमें नियम विरुद्ध तरीके से सर्विस टैक्स का भुगतान ले लिया गया है। चूंकि ऐसे ठेके अरबों रुपए के हैं, लिहाजा हड़पा गया सर्विस टैक्स भी कई करोड़ रुपए से कम का नहीं होगा।दायरे में न आने के बावजूद सरकारी निर्माण करने वाली एजेंसियों ने सर्विस टैक्स की मद में वित्त विभाग को करोड़ों का चूना लगा दिया। यह जानकारी मिलने के बाद वित्त विभाग में खलबली मची हुई है। एक-एक करके ऐसी सभी फाइलों को मंगाकर जानकारी जुटाई जा रही है कि आखिरकार कितनी रकम गलत तरीके से जारी करवा ली गई।

उत्तराखंड परिवहन निगम की बसों में स्टूडेंट्स की यात्रा मुफ्त

पब्लिक व्यू ब्युरो 6/22/2016 12:54:40 AM
img

राज्य सरकार ने उत्तराखंड परिवहन निगम की बसों में छात्र-छात्राओं को मुफ्त यात्रा करने की सुविधा उपलब्ध कराई है। शैक्षिक दिवसों में शिक्षण संस्थान जाने के लिए छात्र-छात्राएं परिवहन निगम की बसों में मुफ्त सफर कर सकते हैं। उनके किराए की प्रतिपूर्ति परिवहन आयुक्त करेंगे। इस संबंध में शासन ने प्रतिपूर्ति के मद में 66 लाख, 66 हजार रुपये आवंटित कर दिए हैं।प्रदेश के सभी विद्यालयों, विश्वविद्यालयों, चिकित्सा संस्थानों और तकनीकी शिक्षण संस्थानों के छात्र-छात्राओं को यह सुविधा उपलब्ध कराई गई है। बसों में छात्र-छात्राओं को सिर्फ परिचय पत्र दिखाना पड़ेगा।

उत्तराखंड विधानसभा भंग करने की तैयारी

पब्लिक व्यू ब्युरो 6/17/2016 10:28:08 PM
img

राज्य में उपजे वित्तीय संकट से लेकर मंत्रिमंडल विस्तार तक कई राजनीतिक समस्याओं से घिरे मुख्यमंत्री हरीश रावत जल्द ही विधानसभा भंग करने की सिफारिश कर सकते हैं।सूत्रों की मानें तो चौतरफा समस्याओं से घिरे मुख्यमंत्री रावत यह कदम शीघ्र उठाने जा रहे हैं। दूसरी ओर मुख्यमंत्री के दोपहर बाद अचानक दिल्ली जाने के बाद विधानसभा भंग करने की सिफारिश की आशंकाओं को और बल मिला है।राजनीतिक हलकों से लेकर नौकरशाही तक में यह चर्चा आम रही कि मुख्यमंत्री रावत पार्टी पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी को बजट समेत तमाम राजनीतिक समस्याओं से अवगत कराने और आलाकमान की ओर से हरी झंडी मिलने के बाद विधानसभा भंग करने की सिफारिश कर सकते हैं।पार्टी से जुड़े आला सूत्रों का कहना है कि विनियोग विधेयक को लेकर सरकार के सामने अजीबोगरीब संकट हैं। सरकार यदि विशेष विधानसभा सत्र बुलाकर वित्त विधेयक को नए सिरे से पास कराना चाहे तो उसके सामने एक बार फिर फ्लोर टेस्ट जैसी स्थिति खड़ी जाएगी।

केदारनाथ आपदा की तीसरी बरसी, अब ‌कुछ ऐसा दिखता है केदारनाथ धाम

पब्लिक व्यू ब्युरो 6/16/2016 11:36:22 PM
img

केदारनाथ आपदा को आज तीन साल पूरे हो रहे हैं।इन तीन वर्षों में सरकार केदारनाथ धाम के पुराने स्वरूप को काफी हद तक लौटाने में कामयाब रही है।तीन साल पहले आज ही के दिन 16 जून को केदारनाथ में आए जल प्रलय ने उत्तराखंड को हिलाकर रख दिया था।इस जल प्रलय में हजारों लोगों की जान गई और कई लोग लापता हो गए।

उत्तराखंड में 48 घंटे मुश्किल भरे, सात जिलों में तबाही का अलर्ट जारी

पब्लिक व्यू ब्युरो 6/14/2016 10:49:20 PM
img

उत्तराखंड के कई इलाकों में बुधवार सुबह से मौसम खराब बना हुआ है।राजधानी देहरादून सहित कई क्षेत्रों में तड़के से रुक-रुककर बारिश जारी रही। सुबह से आसमान में काले बादल छाए रहे। बुधवार की सुबह से अगले 48 घंटे भारी बारिश के आसार हैं। मौसम विभाग की चेतावनी के मद्देनजर शासन ने विभिन्न जिलों को सतर्क कर दिया है। इस संबंध में मंगलवार को मुख्य सचिव शत्रुघ्न सिंह ने जिलाधिकारियों को एडवाइजरी जारी कर दी है। इसके साथ ही आपदा प्रबंधन एवं न्यूनीकरण विभाग को सतर्क किया गया कि बारिश के मद्देनजर किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयार रहें। मौसम विभाग ने राजधानी समेत प्रदेश के उत्तरकाशी, टिहरी गढ़वाल, अल्मोड़ा, नैनीताल, चंपावत और पिथौरागढ़ में भारी बारिश का अनुमान जारी किया है। मौसम विभाग के निदेशक विक्रम सिंह ने बताया कि 15 जून की सुबह से तेज बारिश हो सकती है। पानी गिरने का सिलसिला 48 घंटे तक चल सकता है। मौसम के मिजाज ने मंगलवार शाम से रंग बदलना शुरू कर दिया। राजधानी में दिन भर उमस के बाद रात से रिमझिम बारिश हो गई।

बदले की भावना से पूछताछ कर रही है सीबीआई : हरीश रावत

पब्लिक व्यू ब्युरो 6/7/2016 10:26:25 PM
img

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री हरीश रावत ने केन्द्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) द्वारा मंगलवार को उनसे दूसरी बार की जा रही पूछताछ पर सवाल उठाए हैं। उन्होंने कहा कि खरीद-फरोख्त के आरोप लाभार्थी पार्टी व विधायकों के खिलाफ लगाए जाने चाहिए न कि बदले की भावना से उनसे पूछताछ की जानी चाहिए।मुख्यमंत्री हरीश रावत ने मंगलवार को सीबीआई की दोबारा पूछताछ से पहले कहा कि जिन भाजपा विधायकों ने कांग्रेस के विधायकों को तोड़ा है, उन लाभार्थियों से पूछताछ करने की बजाय सीबीआई जिस व्यक्ति की पार्टी टूट गई है उसी से पूछताछ कर रही है। उन्होंने सवाल उठाते हुए कहा कि यह न्याय का कौन सी प्रक्रिया है? रावत ने कहा कि सीबीआई द्वारा जब भी उन्हें बुलाया जाएगा, वह दिल्ली आकर उनका सहयोग करेंगे लेकिन उन्हें बार-बार इसलिए तलब किया जा रहा है ताकि राज्य के विकास कार्यों में बाधा डाली जा सके। हालांकि सीबीआई द्वारा रावत से किन खास बिंदुओं पर पूछताछ की जा रही है यह जानकारी उन्होंने नहीं दी। रावत ने कहा कि वह जांच दल द्वारा पूछे गए सवालों का खुलासा नहीं कर सकते। उन्होंने कहा कि मुझे कोई सबूत पेश करने की जरूरत नहीं है। मैंने विधायकों की कोई खरीद फरोख्त नहीं की और ना ही किसी को कोई पैसे दिए। मैंने कभी नहीं कहा कि मुझे विधायक चाहिए। इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के लोग कहीं भी पहुंच जाते हैं। मैंने उस पत्रकार को सम्मान दिया और उसने मुझे ब्लैकमेल किया।

भारत ने मुझे पकड़ने के लिए तालिबान सरकार को दिया था ऑफर : अजहर

पब्लिक व्यू ब्युरो 6/6/2016 10:57:09 PM
img

जैश-ए-मोहम्मद के प्रमुख मौलाना मसूद अजहर ने दावा किया है कि भारत ने वर्ष 1999 में कंधार में हाईजैक किए गए भारतीय विमान आईसी-814 के यात्रियों और क्रू की अदला-बदली करने के बाद तालिबान सरकार को पैसे का प्रस्ताव दियाथा ताकि वह उसे और उसके दो अन्य साथियों को पकड़कर भारत के हवाले कर दे। अजहर ने यह सारी बातें जैश के ऑनलाइन मुखपत्र अल कलाम वीकली में कही हैं। अजहर ने कहा है कि यह प्रस्ताव तत्कालीन भारतीय विदेश मंत्री जसवंत सिंह ने तालिबानी प्रमुख मुल्ला अख्तर मोहम्मद मंसूर को दिया था। मुल्ला मंसूर की हाल ही में अमेरिकी ड्रोन विमानों के हमले में मौत हो गई है। विमान के हाईजैक के दौरान मंसूर तालिबान के इस्लामिक अमीरात ऑफ अफगानिस्तान का नागरिक उड्डयन मंत्री था। हाइजैक किए गए विमान के बदले भारत सरकार ने अजहर, मुश्ताक अहमद और अहमद उमर सईद शेख को रिहा किया था। अजहर को कंधार एयरपोर्ट से बाहर ले जाने के लिए खुद मुल्ला मंसूर आया था और अपनी लैंज क्रूजर में ले गया था। जैश के ऑनलाइन मुखपत्र अल कलाम वीकली में 3 जून के संस्करण में अजहर ने लिखा कि मंसूर ने उसे बताया था कि जसवंत सिंह उससे मिले थे। मंसूर के मुताबिक जसवंत सिंह ने उससे कहा था कि वह मसूद को गिरफ्तार करके हमें सौंप दें, हम आपकी हुकूमत को मालामाल करेंगे। वहीं, विदेश मंत्रालय में पाकिस्तान-अफगानिस्तान-ईरान की डेस्क संभाल रहे पूर्व राजनयिक विवेक काटजू ने इस बात को नकारते हुए कहा कि उन्हें कुछ याद नहीं। वह जसवंत सिंह के साथ था। हाईजैक के दौरान कंधार एयरपोर्ट पर मौजूद रॉ के पूर्व ऑफिसर आनंद अर्नी ने भी कहा कि जहां तक उन्हें याद है, उन्हें ऐसा नहीं लगता कि मंसूर और जसवंत सिंह मिले थे ।

अफ्रीकी छात्रों के समर्थन में कन्हैया कुमार ने निकाला न्याय मार्च

पब्लिक व्यू ब्युरो 5/31/2016 10:43:35 PM
img

जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय छात्र संघ (जेएनयूएसयू) के अध्यक्ष कन्हैया कुमार ने अफ्रीकी छात्रों की सुरक्षा की मांग करते हुए मंगलवार को दिल्ली के जंतर-मंतर पर एक न्याय मार्च निकाला। उन्होंने राष्ट्र से आग्रह किया कि अफ्रीकी छात्रों की सुरक्षा के लिए आगे आएं।इससे पहले सोमवार को देश के कई हिस्सों में अफ्रीकी नागरिकों पर हुए हमले के विरोध में अफ्रीक्री छात्रों ने भी दिल्ली के जंतर-मंतर पर विरोध प्रदर्शन किया था। ये छात्र अफ्रीकी नागरिकों को पूरी सुरक्षा दिए जाने की मांग कर रहे हैं। दिल्ली में अफ्रीकी नागरिक पर हुए हमले में पुलिस ने अब तक 5 लोगों को गिरफ्तार किया है। वहीं पूरे मामले में विदेशमंत्री सुषमा स्वराज के अनुरोध पर गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने पहले ही दिल्ली पुलिस को अफ्रीकी छात्रों को सुरक्षा देने के आदेश दिए हैं।जेएनयूएसयू के अध्यक्ष कन्हैया कुमार ने इस मामले में सरकार के दृष्टिकोण की निंदा करते हुए कहा कि अफ्रीकी नागरिकों पर हो रहे हमलों को सरकार नजरअंदाज कर रही है। सरकार के रवैये से अफ्रीकी छात्रों पर हमले और नस्लीय भेदभाव को देश में बढ़ावा मिल रहा है। उन्होंने कहा कि सभी राज्यों के प्रवक्ताओं ने कहा कि यह छोटी सी बात है। राज्यों का ये बयान बेहद शर्मनाक है, सरकार इस मसले को इतने हल्के में नहीं ले सकती। 42 अफ्रीकी देशों के राजनयिकों ने अफ्रीका दिवस के सप्ताह उत्सव का बहिष्कार करने तक की चेतावनी दी है। उनका यह विरोध नस्लवाद और एफ्रो-भय के खिलाफ विरोध का एक संकेत है। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार इस मुद्दे पर असहिष्णु रवैया अपना रही है।

उत्तराखण्ड के सपने को साकार करेगी सपा: आभा

पब्लिक व्यू ब्युरो 5/29/2016 11:17:59 PM
img

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की राज्य पुर्नगठन सलाहकार मंत्री आभा बड़थवाल ने कहा है समाजवादी पार्टी उत्तराखण्ड में सत्ता का विकल्प बनेगी और समाजवाद के माध्यम से राज्य निर्माण के सपने को साकार किया जायेगा।देवभूमि को भ्रष्टाचाार मुक्त बनाने के लिए राजनैतिक अस्थिरता से मुक्ति दिलानी होगी और उत्तराखण्ड को राष्ट्र के विकास की मुख्य धारा से जोड़ने के लिए समाजवाद का झण्डा बुलंद करना होगा। वे आज पुल जटवाड़ा स्थित समाजवादी पार्टी के जिला कार्यालय पर प्रदेश नेतृत्व द्वारा आयोजित मुलायम संदेश यात्रा को मुख्य अतिथि के रूप में संबोधित कर रही थीं।भ्रष्टाचारियों की चारागाह बन चुके उत्तराखण्ड को कांग्रेस-भाजपा के चुंगल से मुक्त कराने का आवाहन करते हुए उन्होंने कहा कि दोनों दलों ने बारी-बारी से इस नवोदित राज्य को लूटने का काम किया है और राज्य विकास की सभी संभावनाओं को समाप्त कर सत्ता पर काबिज रहे नेताओं ने केवल अपना विकास किया। समाजवादी पार्टी इस बार विकल्प के रूप में राज्य की जनता का समर्थन प्राप्त करेगी तथा सत्ता में आने पर अब तक भ्रष्टाचार मंे लिप्त रहे सभी राजनेताओं को जेलमंत्री बनाकर उनकी अवैध सम्पत्तियों को राज्य की सम्पत्तियों में समाहित करेगी। मुलायम संदेश यात्रा के आयोजक प्रदेश अध्यक्ष डाॅ0 सत्यनारायण सचान को अपना गुरु बताते हुए उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी के संस्थापक सदस्य तथा पार्टी के राष्ट्रीय नेता अपने पति स्व0 विनोद बड़थवाल के अधूरे कार्यो के पूर्ण करने के लिए पूरे प्रदेश में घर-घर जाकर आम जनता का विश्वास अर्जित करेंगी और मातृ शक्ति के संघर्ष से बने उत्तराखण्ड राज्य को अब राज्य की बेटी ही सही मुकाम पर पहुंचायेगी। प्रदेश अध्यक्ष डाॅ0 सत्यनारायण सचान ने कहा कि समाजवादी पार्टी राज्य के राजनैतिक विकल्प के रूप में उभरेगी इसके लिए समान विचारधारा वाले अन्य दलों के साथ विलय की भी बात चल रही है। मुलायम संदेश यात्रा का पुल जटवाड़ा पर स्वागत करने वालों में प्रमुख थे जिलाध्यक्ष मौ0 इरफान, मुख्य प्रवक्ता तौफीक अहमद, जिला महामंत्री दीनानाथ यादव, जितेन्द्र मलिक, काजी चांद, सोनल प्रिंस, श्रवण शंखधर, रईस अहमद, मंगता हसन, तौसीफ अहमद, अजीम कुरैशी, मुर्सलीन, राजकुमार यादव, गुलशेर अहमद, गुलजार अली, आशु, इन्तजार, नूर आलम, तथा आदेश त्यागी। 26 मई को देहरादून से प्रारम्भ हुई प्रथम चरण की मुलायम संदेश यात्रा का समापन 10 जून को कुमांयू मण्डल में होगा।

सीबीआई ने हरीश रावत से लंबी पूछताछ के बाद 7 जून को फिर तलब किया

पब्लिक व्यू ब्युरो 5/24/2016 11:16:22 PM
img

केन्द्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) ने उत्तराखंड के मुख्यमंत्री हरीश रावत से विधायकों की खरीद फरोख्त स्टिंग मामले में पांच घंटे की पूछताछ के बाद 7 जून को दोबारा पेश होने को कहा है। रावत को इस वीडियो में कथित रूप से बागी कांग्रेसी विधायकों का समर्थन हासिल करने के लिए सौदा करते हुए दिखाया गया था।मुख्यमंत्री हरीश रावत मंगलवार को दिल्ली में सीबीआई मुख्यालय के सामने पेश हुए। दिन भर हरीश रावत से लंबी पूछताछ हुई। रावत सुबह 10.55 पर सीबीआई मुख्यालय में पहुंचे और 4 बजे वहां से निकले। उन्हें 7 जून को फिर तलब किया गया है। सीबीआई मुख्यालय के लिए निकलते वक्त मुख्यमंत्री हरीश रावत ने मंगलवार को संवाददाताओं से बातचीत के दौरान कहा था कि वे सीबीआई को सहयोग करेंगे और सीबीआई के सवालों के जवाब देने के लिए 24 मई को दिल्ली जाएंगे। रावत ने कहा “मैंने सिर्फ यह स्वीकार किया है कि मैं उस शख्स से सिर्फ मिला था जो पत्रकार के संपंर्क में था। इसलिए इस मामले में पीड़ित मैं हूं और वो शख्स आरोपी है। इसके अलवा मुझे जो भी कहना है मैं सीबीआई को बताऊंगा।“ हरीश रावत सोमवार को ही दिल्ली पहुंच चुके थे। ऐसे में यह माना जा रहा है कि वह इस दौरान पार्टी हाईकमान से आगामी 11 जून को होने वाले राज्यसभा चुनाव के मद्देनजर उम्मीदवार तय करने के बारे में भी बातचीत करेंगे। वहीं इस मुद्दे पर प्रतिक्रिया देते हुए मुख्यमंत्री हरीश रावत ने रविवार को कहा कि उनके खिलाफ सीबीआई का दुरुपयोग किया जा रहा है। इतना ही नहीं उन्होंने स्वयं को निर्दोष बताते हुए सूबे के विकास कार्यों पर पूरा ध्यान देने की बात कही है। उन्होंने दावा किया कि पिछले दिनों जिस सियासी घटनाक्रम से उत्तराखंड का विकास कार्य रुक गया था वो, जल्दी ही पटरी पर आ जाएगा। इससे पहले उत्तराखंड कैबिनेट का हवाला देते हुए सीबीआई जांच पर रोक लगाने के लिए मुख्यमंत्री हरीश रावत की ओर से हाईकोर्ट में एक याचिका दाखिल की गई थी। हाईकोर्ट में हरीश रावत के स्टिंग मामले में सीबीआई जांच से जुड़ी याचिका पर अगली सुनवाई आगामी 31 मई को होगी। उल्लेखनीय है कि स्टिंग मामले में पूछताछ को लेकर 22 मई को एक बार फिर सीबीआई ने उत्तराखंड के मुख्यमंत्री हरीश रावत को नोटिस भेजा था, जिसमें सीबीआई ने हरीश रावत को 24 मई को पूछताछ के लिए सीबीआई मुख्‍यालय में बुलाया।

ब्रेड और बर्गर-पिज़्ज़ा खाने से हो सकता है कैंसर : सीएसई

पब्लिक व्यू ब्युरो 5/23/2016 10:25:57 PM
img

पर्यावरण पर नजर रखने वाली संस्था सेंटर फॉर साइंस एंड इनवायरमेंट (सीएसई) ने एक चौंकाने वाला खुलासा किया है।सीएसई के अनुसार शहरों के नियमित खान-पान में शामिल हो चुके ब्रेड को खाने से कैंसर हो सकता है। ब्रेड और बेकरी उत्पाद में कई खतरनाक रसायनों की वजह से कैंसर हो सकता है। सीएसई के प्रमुख चंद्र भूषण ने कहा, 'हमने पाया कि पोटैशियम ब्रोमेट/आयोडेट के 84% टेस्ट पॉजिटिव पाए गए। हमने थर्ड-पार्टी लेबोरेट्री के जरिए कुछ सैम्पल्स के फिर से टेस्ट भी कराए। हमने लेबल्स चेक किए और इस बारे में इंडस्ट्री और साइंटिस्ट्स से बात की।' सीएसई के एक अध्ययन में यह बात सामने आई कि ब्रेड बनाने के दौरान आटे में पोटैशियम ब्रोमेट तथा पोटैशियम आयोडेट का इस्तेमाल किया जाता है। पोटैशियम ब्रोमेट से शरीर में कैंसर का खतरा रहता है जबकि पोटैशियम आयोडेट से थायरॉयड होने का डर है। सीएसई के कराए गए 38 जानेमाने ब्रैंड के 84 फीसदी नमूनों में ब्रेड, बन्स, बर्गर, पिज्जा के टेस्ट में पौटेशियम ब्रोमेट और पौटेशियम आयोडेट जैसे खतरनाक रसायन पाए गए है। सीएसई का इस मामले में कहना है कि दूसरे देशों में ब्रेड बनाने वाली इकाइयों में इन रसायनों के इस्तेमाल पर रोक है, जबकि भारत में इस तरह का कोई प्रतिबंध नहीं|

स्वामी ने पीएम को लिखी चिट्ठी, आरबीआई गवर्नर राजन को हटाने की मांग

पब्लिक व्यू ब्युरो 5/17/2016 10:30:07 PM
img

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के राज्यसभा सदस्य सुब्रह्मण्यम स्वामी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को खत लिखकर रिज़र्व बैंक ऑफ इंडिया के गवर्नर पद से रघुराम राजन को हटाने की वकालत की है। स्वामी ने रघुराम राजन पर देश की अर्थव्यवस्था को नुकसान पहुंचाने का आरोप लगाया है।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भेजे पत्र में सुब्रह्मण्यम स्वामी ने लिखा है, मैं डॉ राजन द्वारा जानबूझकर और सोचसमझकर भारतीय अर्थव्यवस्था को छिन्न-भिन्न कर देने के किए जा रहे प्रयासों से स्तब्ध हूं बीजेपी सांसद का आरोप है कि डॉ राजन भारतीय अर्थव्यवस्था को पटरी से उतारने वाले व्यक्ति की तरह काम कर रहे हैं, किसी ऐसे शख्स की तरह नहीं, जो भारतीय अर्थव्यवस्था की बेहतरी चाहता हो उन्होंने यह भी कहा, चूंकि डॉ रघुराम राजन इस देश (भारत) में ग्रीन कार्ड के साथ रह रहे हैं, सो वह मानसिक रूप से पूरी तरह भारतीय नहीं हैं इससे पहले सुब्रह्मण्यम स्वामी ने पिछले सप्ताह भी कहा था कि डॉ राजन को जल्द से जल्द उनकी ज़िम्मेदारियों से मुक्त कर दिया जाना चाहिए, और उन्हें वापस शिकागो भेज दिया जाना चाहिए रघुराम राजन शिकागो यूनिवर्सिटी के बूथ स्कूल ऑफ बिज़नेस में वित्त विषय के प्रोफेसर हैं, और फिलहाल रिज़र्व बैंक के गवर्नर के रूप में कार्य करने के लिए यूनिवर्सिटी से छुट्टियों पर भारत आए हुए हैं। गौरतलब है कि रघुराम राजन को कांग्रेस-नीत यूपीए सरकार के कार्यकाल के दौरान आरबीआई गवर्नर के रूप में नियुक्त किया गया था, और जब वर्ष 2014 में नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली बीजेपी की सरकार सत्ता में आई, उनके पद को खतरे में माना जाने लगा था, लेकिन रघुराम राजन ने कहा था कि रिज़र्व बैंक तथा सरकार के बीच सम्मानजनक रिश्ता स्थापित है। पिछले वर्ष प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सार्वजनिक रूप से आरबीआई गवर्नर की प्रशंसा की थी कि उन्होंने (रघुराम राजन ने) जटिल आर्थिक मुद्दों को भी लगातार मुलाकातों में उन्हें (प्रधानमंत्री को) बिल्कुल सटीक तरीके से समझा दिया। वित्त मंत्री अरुण जेटली भी हाल ही में रघुराम राजन की तारीफ़ कर चुके हैं।

जेटली ने आरबीआई गवर्नर के साथ मतभेदों से किया इंकार

पब्लिक व्यू ब्युरो 5/17/2016 12:20:21 AM
img

वित्त मंत्री अरूण जेटली ने रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) के साथ किसी भी प्रकार के मतभेद से इंकार किया है।अरूण जेटली ने सोमवार को कहा कि मीडिया में आ रही खबरो में कोई सच्चाई नहीं है। वित्त मंत्रालय और आरबीआई के बीच बड़े ही परिवक्व संबंध हैं। आरबीआई गवर्नर रघुराम राजन के साथ मतभेद की खबरें बेबुनियाद हैं। वित्त मंत्रालय और आरबीआई दो संस्थाएं हैं और उनके बीच आपसी तालमेल है। दोनों संस्थाएं एक-दूसरे का सम्मान करती हैं। वित्त मंत्री जेटली का बयान उस समय आया जब भाजपा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने रघुराम राजन की नीतियों को देश के लिए नुकसानदेह बताकर शिकागो भेजने की बात कही। वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) पर बोलते हुए वित्त मंत्री ने कहा कि कांग्रेस समेत सभी राजनीतिक दल जीएसटी विधेयक के पक्ष में है। उन्होंने कहा, “मैंने कांग्रेस शासित राज्यों सहित सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों से बात कर ली है, सभी जीएसटी के पक्ष में है। कांग्रेस को तो इस विधेयक को पारित कराने के लिए अधिक उत्सुकता दिखानी चाहिए क्योंकि यह उन्ही का विचार था ”। जेटली ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि उन्हे विश्वास है कि भाजपा जीएसटी को पास कराने में सफल रहेगी। अन्नाद्रमुक को छोड़कर सभी क्षेत्रीय पार्टियां भी जीएसटी का समर्थन कर रही है क्योंकि वह जानती हैं कि इस बिल के पास होने से राज्यों को बहुत फायदा मिलेगा। लेकिन अन्नाद्रमुक की तरफ से पूर्ण समर्थन नहीं मिला है।

कांग्रेसियों ने ढ़ोल-नगाड़े के बीच मनाया जश्न

पब्लिक व्यू ब्युरो 5/12/2016 10:36:33 PM
img

पिछले 53 दिनों से उत्तराखंड में राजनीति की उठापटक के चलते सियासत का पारा चढ़ा हुआ था। आखिरकार वह घड़ी आ ही गई जब हरीश रावत ने सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर विधानसभा में अपना बहुमत जताकर भाजपा की उम्मीदों पर पानी फेर दिया। शक्ति परीक्षण में पास होने के बाद जिलेभर में कांग्रेसियों ने लड्डू-मिठाइयां बांटकर खूशी का इजहार किया। उत्तराखंड़ की सियासत के दो दिग्गज दलों में पिछले 53 दिनों से घमासान चल रहा था। इस घमासान का कारण भी कांग्रेस के बागी विधायक हैं। जिन्होंने बीच मझदार में रावत का साथ छोड़ दिया और भाजपा का दामन थाम लिया। इसी के चलते भाजपा एक के बाद एक आरोप कांग्रेस के मुख्यमंत्री हरीश रावत पर लगाती रही। भाजपा के सरकार बनाने के उतावलेपन ने ही उन्हें मात दे दी। सुप्रीम कोर्ट ने उतराखंड में सरकार बनाने के लिए विधानसभा में अपना बहुमत हाशिल करने का आदेश जारी किया था। दोनों ही दलों के नेताओं ने विधानसभा में शक्ति परीक्षण किया। जिसमें हरीश रावत को 33 और भारतीय जनता पार्टी को 28 विधायकों के मत मिलने का दावा किया जा रहा हैं। उत्ताराखंड के सियासी तूफान पर अब 33 मतों की मोहर के साथ ही विराम लग जाएगा। इस बहुमत को देख जिले में कांग्रेसियों की खूशी का ठिकाना नहीं रहा। जिलाध्यक्ष विनय प्रधान व महानगर अध्यक्ष कृष्ण कुमार किशनी ने खूशी का इजहार करते हुए मिठाइयां बांटी। उन्होंने कहा कि यह लोकतंत्र की जीत है। भगवान ने चाहा तो उत्तराखंड में कांग्रेस की सरकार बनेगी। खुशी मनाने में प्रेस प्रवक्ता अखिल कौशिक, रोबिन नाथ उर्फ गोलू भाई, संजय गोयल, नसीबूद्दीन आदि शामिल रहे। कांग्रेसियों ने एक दूसरे के गले मिलकर बधाई दी। वहीं मवाना कस्बे में कांग्रेस अनुसूचित जाति के राजेन्द्र कुमार,योगराज लंबरदार, इलिसास कुरैशी, सुरेश कुमार ढ़ाका, वल्लभ एडवोकेट, कमलजीत एडवोकेट, रामकिशन, ब्रहमसिंह नागर विचित्रा वर्मा, मजीत सिहानी आदि ने उत्तराखंड में बहुमत हासिल होने पर मिठाइंया बांटकर खुशी का इजहार किया। राजेन्द्र कुमार ने कहा कि इस बार यूपी में कांग्रेस की पूर्ण बहुमत की सरकार बनेगी।

उत्तराखंड में लोकतंत्र की जीत : राहुल गांधी

पब्लिक व्यू ब्युरो 5/11/2016 11:00:24 PM
img

सुप्रीम कोर्ट के उत्तराखंड बहुमत परीक्षण के ऐलान के बाद कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि उत्तराखंड में लोकतंत्र की जीत हुई है। उन्होंने उम्मीद जताते हुए कह कि इससे भाजपा को सबक मिल गया होगा।राहुल गांधी ने बुधवार को ट्वीट कर नतीजे को लोकतंत्र की विजय बताई है। उन्होंने कहा कि इस नतीजे से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनकी सरकार को सबक मिलेगा। जनता लोकतंत्र का कत्ल बर्दाश्‍त नहीं करेगी। इसके साथ ही कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने बुधवार को फ्लोर टेस्ट के नतीजे आने के बाद कहा “उत्तराखंड में लोकतंत्र की जीत हुई है।“ उत्तराखंड विधानसभा में मंगलवार को हुए बहुप्रतीक्षित शक्ति परीक्षण के नतीजों में कांग्रेस जीत के प्रति पूरी तरह आश्‍वस्‍त थी। पहले से ही माना जा रहा था कि हरीश रावत ने इस शक्ति परीक्षण में बाजी मार ली है। उत्तराखंड में बहुमत परीक्षण के नतीजों का ऐलान सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को किया। अदालत ने बताया है कि हरीश रावत के पक्ष में 33 विधायक थे और बीजेपी के पक्ष में 28 विधायकों ने अपना मत दिया। फिलहाल राष्ट्रपति शासन हटने के बाद हरीश रावत बतौर मुख्यमंत्री काम कर सकते हैं।

उत्तराखंड: सुप्रीम कोर्ट से भी बागी विधायकों को झटका

पब्लिक व्यू ब्युरो 5/9/2016 10:15:55 PM
img

उत्तराखंड विधानसभा में मंगलवार को होने वाले फ्लोर टेस्ट में कांग्रेस के 9 बाग़ी विधायक वोट नहीं डाल पाएंगे। उत्तराखंड में फ्लोर टेस्ट से एक दिन पहले सुप्रीम कोर्ट ने कांग्रेस के 9 बाग़ी विधायकों को अयोग्य करार दिए जाने के हाईकोर्ट के आदेश पर रोक लगाने से इंकार कर दिया है। अदालत ने हाईकोर्ट के आदेश को बरकरार रखते हुए बाग़ी विधायकों की याचिका पर सुनवाई 12 जुलाई को करने का फैसला किया है।इससे पहले हाईकोर्ट ने बाग़ी विधायकों की याचिका खारिज कर दी थी। उत्तराखंड हाईकोर्ट ने सोमवार सुबह 10:15 बजे दिए अपने फैसले में कहा था कि कांग्रेस के 09 बाग़ी विधायक अयोग्य ही रहेंगे। विधायकों ने स्पीकर गोविंद सिंह द्वारा अयोग्य ठहराए जाने को अदालत में चुनौती दी थी। उधर उत्‍तराखंड विधानसभा स्‍पीकर ने सुप्रीम कोर्ट में कैविएट दाखिल कर फैसला सुनाने से पहले उनका पक्ष सुनने का अनुरोध किया। हाईकोर्ट के फैसले के बाद ये सभी विधायकों ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था जहां मुख्य न्यायाधीश ने इस मामले को दीपक मिश्रा की बेंच के पास भेज दिया था। कांग्रेस के बाग़ी विधायको में अमृता रावत, हरक सिंह रावत, प्रदीप बतरा, प्रणव सिंह, शैला रानी रावत, शैलेंद्र मोहन सिंघल, सुबोध उनियाल, उमेश शर्मा, विजय बहुगुणा शामिल हैं। सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को सुबह 11 बजे उत्तराखंड विधानसभा का एक विशेष सत्र बुलाया है। न्यायमूर्ति दीपक मिश्रा और न्यायमूर्ति शिवकीर्ति सिंह की पीठ ने आदेश दिया था कि विधानसभा के प्रधान सचिव की निगरानी में दोनों पक्ष वोटिंग करेंगे। सुप्रीम कोर्ट ने राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत को बहुमत साबित करने का पहला मौका देने का फैसला किया है। फ्लोर टेस्ट की वीडियो रिकॉर्डिंग होगी। वोटिंग और मतदान की वीडियोग्राफी को सीलबंद लिफाफे में 11 मई को सुप्रीम कोर्ट को सौंपा जाएगा। मामले की अगली सुनवाई 11 मई को होगी। फ्लोर टेस्ट से पहले विधायकों की सुरक्षा और उनके विधानसभा पहुंचने तक सुरक्षा पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। विधायकों के आवास पर अतिरिक्त पुलिस फोर्स की व्यवस्था कराई गई है। विधानसभा के अंदर से लेकर बाहर तक की व्यवस्था के पुख्ता इंतजाम किए गए है। पूरे शहर में मंगलवार अपराह्न 3 बजे तक धारा 144 लागू कर दी गई है। उत्तराखंड में संवैधानिक संकट 18 मार्च को शुरू हुआ था जब विधानसभा में विनियोग विधेयक पर मत विभाजन की भाजपा की मांग का कांग्रेस के नौ विधायकों ने समर्थन किया था। इसके परिणामस्वरूप राज्य में सियासी संकट उत्पन्न हो गया और केंद्र सरकार की सिफारिश पर 27 मार्च को राष्ट्रपति शासन लागू कर दिया गया। इस समय 70 सदस्यीय विधानसभा में भाजपा के 28, कांग्रेस के 27 और बसपा के दो और तीन निर्दलीय विधायक हैं। एक विधायक उत्तराखंड क्रांति दल (पी) का है। कांग्रेस के नौ विधायक अयोग्य हैं और भाजपा का एक बागी विधायक है।

स्टिंग के बाद फ्लोर टेस्ट का कोई मतलब नहीं: भाजपा

पब्लिक व्यू ब्युरो 5/8/2016 10:53:01 PM
img

। उत्तराखंड में फ्लोर टेस्ट से पहले विधायकों की खरीद-फरोख्त से जुड़ा एक स्टिंग वीडियो जारी होने के बाद भाजपा ने कांग्रेस नेता एवं राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत पर बहुमत साबित करने के लिए अवैध तरीकों का इस्तेमाल करने का आरोप लगाया है।साथ ही कहा है कि स्टिंग के बाद अब फ्लोर टेस्ट का कोई मतलब नहीं। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि हरीश रावत के करीबी मदन बिष्ट स्टिंग में विधायकों के खरीद-फरोख्त करने की बात कबूल रहे हैं। हरीश रावत का चेहरा एक बार फिर बेनकाब हुआ है। इसलिए खरीद-फरोख्त के बाद फ्लोर टेस्ट का कोई मतलब नहीं रह जाता। उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट को स्टिंग का संज्ञान लेना चाहिए। इस नए स्टिंग की भी जांच सीबीआइ से करवानी चाहिए। इसके अलावा राज्य के सभी विधायकों की संपत्ति की भी जांच होनी चाहिए। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने 10 मई को होने वाले फ्लोर टेस्ट में बहुमत साबित करने का भरोसा जताते हुए कहा कि उनकी पार्टी के पास पर्याप्त संख्या में विधायक हैं। वह फ्लोर टेस्ट में बहुमत साबित कर पाएंगे। भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने स्टिंग पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि हरीश रावत अपनी कुर्सी बचाने के लिए किसी भी हद तक जा सकते हैं। बहुमत साबित करने के लिए वह अपने ही विधायकों को खरीद रहे हैं।इसी प्रकार भाजपा नेता नलिन कोहली ने कहा कि हरीश रावत के पास कोई समर्थन नहीं है। समर्थन पाने के लिए वह अवैध तरीकों का सहारा ले रहे हैं।

उत्तराखंड: केंद्र फ्लोर टेस्ट पर कर रहा विचार

पब्लिक व्यू ब्युरो 5/4/2016 10:11:35 PM
img

उत्तराखंड में राष्ट्रपति शासन लगाए जाने सम्बन्धी मामले में सुप्रीम कोर्ट में बुधवार को सुनवाई के दौरान अटार्नी जनरल ने कहा कि केंद्र सरकार विधानसभा में शक्ति परीक्षण पर गंभीरता से विचार कर रही है।केंद्र सरकार ने अदालत से शक्ति परीक्षण कराने पर विचार करने के लिए 48 घंटे का समय मांगा। अदालत ने 06 मई तक के लिए मामले की सुनवाई स्थगित कर दी है। अदालत में केंद्र सरकार का पक्ष रखते हुए अटार्नी जनरल मुकुल रोहतगी ने कहा कि सरकार अदालत के राज्य विधानसभा में शक्ति परीक्षण कराने के सुझाव पर गंभीरता से विचार कर रही है लेकिन इस बाबत उन्हे कोई निर्देश नहीं दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि अदालत केंद्र सरकार को निर्णय लेने के लिए थोड़ा वक्त और दे। अदालत ने केंद्र के अनुरोध को स्वीकार करते हुए इस मामले पर 06 मई को जवाब दाखिल करने का निर्देश देते हुए स्पष्ट शब्दों में कहा कि केंद्र हमें अपना निर्णय बताए और अगर सरकार निर्णय नहीं ले सकती तो इस बारे में हम खुद अपना निर्णय ले लेंगे कि उत्तराखंड में शक्ति परीक्षण कराना है या नहीं। वहीं कांग्रेस की तरफ से पेश हो रहे वरिष्ठ अधिवक्ता कपिल सिब्बल ने कहा कि केंद्र अपना निर्णय ले और मामले को लंबा न खींचे। सुनवाई के बाद अटार्नी जनरल ने पत्रकारों को बताया कि सुप्रीम कोर्ट ने साफ कर दिया है कि अगर शक्ति परीक्षण होता भी है तो इसका मतबल यह नहीं है कि राष्ट्रपति शासन हट जाएगा। 06 मई को सरकार को अदालत के सामने जवाब देना है। सुप्रीम कोर्ट उत्तराखंड में राष्ट्रपति शासन हटाए जाने के नैनीताल हाईकोर्ट के फैसले के खिलाफ केंद्र सरकार की याचिका पर सुनवाई कर रही है। इससे पहले मंगलवार को सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार से उसकी निगरानी में विधानसभा में शक्ति परीक्षण कराने पर अपना रूख साफ करने को कहा था। अदालत ने सरकार को विचार करने का एक दिन का समय दिया था। सुप्रीम कोर्ट ने अटार्नी जनरल से सवाल किया कि क्यों न राज्य में पहले शक्ति परीक्षण हो ? अदालत ने अटार्नी जनरल को इस बारे में विचार करने और केंद्र सरकार से बात करने को कहा था। सुप्रीम कोर्ट ने 22 अप्रैल को नैनीताल हाईकोर्ट के उस आदेश पर 27 अप्रैल तक के लिए रोक लगा दी थी, जिसमें राष्ट्रपति शासन लगाए जाने को रद्द कर दिया था। बाद में शीर्ष अदालत ने अगले आदेश तक इस रोक को बढ़ा दिया था।

उत्तराखंड: सुप्रीम कोर्ट ने फ्लोर टेस्ट पर केंद्र से मांगा जवाब

पब्लिक व्यू ब्युरो 5/3/2016 11:29:49 PM
img

उत्तराखंड में राष्ट्रपति शासन संबंधी मामले में सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार से विधानसभा में फ्लोर टेस्ट कराने पर अपना रूख साफ करने को कहा है। अदालत ने मंगलवार को सुनवाई टालते हुए सरकार को विचार करने के लिए एक दिन का समय दिया है।सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को उत्तराखंड मामले पर सुनवाई के दौरान केंद्र सरकार की ओर से पेश अटार्नी जनरल से सवाल किया कि क्यों न राज्य में पहले फ्लोर टेस्ट हो ? अदालत ने अटार्नी जनरल को इस बारे में विचार करने और केंद्र सरकार से बात करने को कहा है। न्यायाधीश दीपक मिश्रा ने अटार्नी जनरल मुकुल रोहतगी से सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में विधानसभा में फ्लोर टेस्ट की बात करते हुए कहा कि वह केंद्र सरकार से इस बाबत बात करें और उनका पक्ष बुधवार को अदलात के सामने रखें। उत्तराखंड में राष्ट्रपति शासन हटाए जाने के नैनीताल हाईकोर्ट के फैसले पर रोक लगाने के लिए केंद्र सरकार की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट सुनवाई कर रही है। सुप्रीम कोर्ट ने नैनीताल हाईकोर्ट के फैसले को पलटते हुए 29 अप्रैल को विधानसभा में होने वाले शक्ति परीक्षण पर रोक लगा दी थी और राष्ट्रपति शासन बहाल कर दिया था।

राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति ने उत्तराखंड जंगलों में लगी आग पर दुःख व्यक्त किया

पब्लिक व्यू ब्युरो 5/2/2016 10:41:10 PM
img

राष्ट्रपति प्रणब मुख़र्जी और उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी ने उत्तराखंड के जंगलों में लगी भीषण आग से हुयी जान-माल की क्षति पर दुःख व्यक्त करते हुये कहा है कि आग पर काबू पाने के लिए हर संभव प्रयत्न किये जाने चाहिए। आग से राज्य के बड़े हिस्से प्रभावित हुए हैं, वायु प्रदूषण हुआ है और पर्यावरण को भी क्षति पहुंची है ।उत्तराखंड के राज्यपाल डॉ. के.के.पॉल को भेजे एक संदेश में राष्‍ट्रपति ने कहा, 'मुझे राज्य के बड़े भाग को प्रभावित करने वाले, जान-माल को नुकसान पहुंचाने वाले, वायु प्रदूषण करके तथा पर्यावरण को नुकसान पहुंचाने वाले अग्निकांड के बारे में जानकर दुख हुआ है। उन्होंने विश्वास व्यक्त किया कि उत्तराखंड सरकार और जनता तेजी और संकल्प के साथ इस चुनौती का सामना करेगी। 'मैं अग्निकांड में जान गंवाने वाले लोगों के परिजनों के दुख में शामिल हूं और प्रभावित लोगों के प्रति सहानुभूति व्‍यक्‍त करता हूं। मैं राज्य सरकार तथा सभी बचावकर्मियों के साथ-साथ सिविल सोसायटी संगठनों द्वारा पर्यावरण तथा जैवविविधता और लोगों की जान बचाने में किए गए प्रयासों की प्रशंसा करता हूं।' उन्होंने राज्य सरकार तथा अन्य सभी प्राधिकारों से शोकाकुल परिवारों तथा प्रभावित लोगों की हर संभव सहायता देने का आग्रह किया । उपराष्ट्रपति ने इस आग से जन हानि और पर्यावरण के भारी नुकसान पर दुःख व्यक्त किया और कहा कि इस आग से पर्यावरण को भारी नुक्सान पहुंचा है । उन्होंने कहा उनकी प्रार्थनाएं देश और उत्तराखंड के लोगों के साथ हैं और घायल और हताहत हुए लोगों के प्रति सहानुभूति है ।

उत्तराखंड: आग बुझाने में जुटी वायुसेना, गृह मंत्री ने बुलाई बैठक

पब्लिक व्यू ब्युरो 5/1/2016 10:22:52 PM
img

उत्तराखंड के जंगलों के 1900 हैक्टेयर में लगी भीषण आग को काबू करने के लिए रविवार को वायुसेना के हेलीकॉप्टर एमआई-17 से पानी बरसाया गया और छह हजार फायर कर्मियों को राज्य में अग्निशमन अभियान के लिए भेजा गया। इस समस्या को लेकर केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने उत्तराखंड के गृह सचिव के साथ बैठक की।गृह मंत्री ने 13 जिलों के जंगल में फैली आग पर जल्द काबू पाने के लिए रविवार को उत्तराखंड के गृह सचिव के साथ बैठक कर आग बुझाने को लेकर कुछ जरूरी निर्देश दिए। इसके साथ ही सिंह ने मंत्रालय के अधि‍कारियों से आग बुझाने को लेकर चल रहे अभि‍यान पर नजर बनाए रखने को भी कहा है। इससे पहले पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा है कि उत्तराखंड के जंगलों में लगी आग को बुझाने के लिए लगभग छह हजार फायर कर्मियों को भेजा गया है। साथ ही इस अग्निशमन अभियान के लिए पांच करोड़ रूपए की राशि भी जारी की गई है। पत्रकारों से बातचीत में केंद्रीय मंत्री जावड़ेकर ने रविवार को कहा कि वनों के महानिदेशक और कई अन्य वरिष्ठ अधिकारी इस मुद्दे पर बैठक कर रहे है और स्थानिय बलों को दिशा निर्देश दे रहे हैं। छह हजार लोगों को आग बुझाने के काम में लगा दिया गया है। केंद्र ने आज से अग्नि-पूर्व चेतावनियों को देने का ट्रायल भी प्रारंभ कर दिया है। उन्होंने कहा, “सरकार इस मसले पर काफी गंभीर है और समाधान करने के लिए उपाय भी कर रही है। सभी वरिष्ठ अधिकारी आग बुझाने के अभियान में जुटे हुए हैं। केंद्र सरकार ने शनिवार को पांच करोड़ की राशि जारी की है और जरूरत पड़ने पर हम और फंड उत्तराखंड भेंजेगे”। इस बीच गृह मंत्रालय, राष्ट्रीय आपदा राहत बल और वायु सेना अग्निशमन प्रयासों का मार्ग दर्शन कर रहे हैं। जावड़ेकर ने कहा कि आग किन कारणों से लगी इसकी जांच की जाएगी। भविष्य में ऐसी घटनाओं को नियंत्रित करने के लिए एक कार्य योजना भी उनका मंत्रालय बनाएगा। फिलहाल वे उपग्रह के माध्यम से पिछले वर्ष से अग्नि चेतावनियां जारी कर रहे हैं। इसके साथ ही कि अग्नि-पूर्व चेतावनी को जारी करने का ट्रायल भी प्रारंभ किया जा चुका है। इस नई तकनीक को वन संस्थानों के द्वारा विकसित किया गया है। संबंधित विभागों को एक एसएमएस भी भेजा जाएगा।

15 घंटे में ढहा दी गई विधायक की अवैध बिल्डिंग, लगा करोड़ों का झटका, तस्वीरें

पब्लिक व्यू ब्युरो 4/29/2016 11:22:40 PM
img

जियामऊ में विधायक रामपाल यादव के अवैध कॉम्प्लेक्स को जमींदोज करने की कार्रवाई शुक्रवार अलसुबह चार बजे तक चलती रही।विधायक को अवैध ढांचा खड़ा करने में 15 महीने लगे थे। कॉम्प्लेक्स की मुख्य छत को जमींदोज कर एलडीए ने अभियान बंद किया। इसके बाद परिसर पुलिस सुरक्षा में दे दिया गया।एलडीए का कहना है कि ध्वस्तीकरण के दौरान जेसीबी और अन्य मशीनें किराए पर लाई गईं। इनका किराया भी विधायक से वसूला जाएगा। इसका आंकलन एलडीए राजस्व विभाग से करवाएगा। करीब पांच लाख का खर्च अनुमानित है।इसमें मशीनों का किराया और खासतौर पर अलग से बुलाए गए कर्मचारियों और अधिकारियों का एक दिन का वेतन भी शामिल होगा। साथ ही एलडीए ने इस कॉम्प्लेक्स में अवैध तौर पर बेसमेंट बनाए जाने की रिपोर्ट भी डीएम राजशेखर को दी है।अब जिला प्रशासन इस संबंध में कथित मालिक विधायक की पत्नी को जुर्माना अदा करने का नोटिस भेजेगा। जियामऊ में बृहस्पतिवार को विधायक के अवैध कॉम्प्लेक्स पर एलडीए का कहर दोपहर करीब 1:30 बजे से नाजिर हुआ था। एलडीए वीसी, सचिव, जिलाधिकारी, एसएसपी देर रात तक मौके पर बने रहे।विधायक पर अभी और गाज गिरना बाकी है। एलडीए के सचिव एससी वर्मा ने बताया कि इस अवैध निर्माण में करीब आठ हजार वर्ग फीट में एक बेसमेंट का भी निर्माण किया गया था। यह करीब 10 फीट गहरा है। इसके लिए निश्चित तौर पर बहुत अधिक मिट्टी का खनन हुआ होगा। जिलाधिकारी राजशेखर को जानकारी दे दी गई है। जिलाधिकारी इस संबंध में जुर्माने का नोटिस देंगे। खनन विभाग से इसका आंकलन कराया जाएगा।

खाली बाल्टी लेकर व्यापारियों ने किया विरोध प्रदर्शन

पब्लिक व्यू ब्युरो 4/27/2016 11:24:50 PM
img

शहर में पानी को लेकर दिन प्रतिदिन लोगों का धैर्य टूटता जा रहा है और मजबूर होकर सड़क पर विरोध प्रदर्शन कर रहें है। कई दिनों से पानी की किल्लत को देखते हुए व्यापारियों ने खाली बाल्टी लेकर सड़क किनारे घंटों बैठकर जलकल विभाग को कोसते रहे। व्यापारियों ने कहा कि अगर जल्द ही पानी की समस्या का निराकरण नहीं किया जाता तो भारी विरोध किया जाएगा। मंगलवार को कमिश्नर मो. इफ्तिखारूद्दीन व डीएम कौशलराज शर्मा ने जलकल विभाग के अधिकारियों को पानी की झूठी रिपोर्ट देने पर लताड़ लगाई थी। इसके साथ ही कड़े शब्दों में कहा गया था कि बुधवार से पानी की समस्या नहीं होनी चाहिए और अधिकारी व कर्मचारी फील्ड पर जरूर जायें। इसके बावजूद सुबह से ही पानी न आने के चलते एक्सप्रेस रोड के व्यापारियों ने खाली बाल्टी लेकर सड़क पर विरोध प्रदर्शन किया। मनोज गुप्ता ने बताया कि इलाके में पांच हैंडपंप है जिनमंे तीन खराब चल रहे है। पानी की सप्लाई न आने से लोग हैंडपंपों में लाइन लगा रहे है। पूरे मोहल्ले में सुबह से ही पानी नहीं आया। व्यापारियों ने चेतावनी दी कि अगर जल्द ही पानी की समस्या दूर नहीं की जाती तो व्यापारी नगर निगम व जलकल विभाग का घेराव कर बड़ा आंदोलन करेगें। इस अवसर पर सुभाष अग्रवाल, नीतम दुबे, अंकित सक्सेना, विनोद गुप्ता, अमित अग्रहरि, देवेश गुप्ता, मन्धीर कक्कड आदि मौजूद रहें।

राज्यसभा की कार्यवाही मंगलवार तक स्थगित

पब्लिक व्यू ब्युरो 4/25/2016 10:55:01 PM
img

उत्तराखंड में राष्ट्रपति शासन लगाने के फैसले पर सोमवार को राज्यसभा में विपक्ष ने जमकर हंगामा किया। हंगामे के चलते राज्यसभा की कार्यवाही पहले दोपहर 12 बजे और फिर 2 बजे तक स्थगित करनी पड़ी, लेकिन हंगामा जारी रहा और राज्यसभा की कार्यवाही मंगलवार तक के लिये स्थगित कर दी गई ।सदन की शुरुआत होते ही राज्यसभा में विपक्ष के नेता कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने उत्तराखण्ड में राष्ट्रपति शासन लगाये जाने का मुद्दा उठाया। उन्होंने कहा कि विपक्ष संसद को चलाने में सरकार की मदद करना चाहती है लेकिन सदन के बाहर ऐसे घटनाक्रम घटित हो रहे हैं कि सदन न चलने देने का वातावरण तैयार किया जा रहा है।उन्होंने कहा कि अरुणाचल प्रदेश में चुनी हुई सरकार को गिराना गलत था और अब केंद्र सरकार उत्तराखंड में चुनी हुई सरकार गिराने पर तुली है। केंद्र सरकार का यह कदम लोकतंत्र का अपमान है। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड मसले पर सदन में चर्चा होनी चाहिए। हालांकि, भाजपा के मुख्तार अब्बास नकवी ने गुलाम नबी आजाद की मांग को खारिज कर दी।नकवी का कहना था कि उत्तराखंड का मामला अदालत में चल रहा है। ऐसे में सदन में इसको लेकर बहस करना सही फैसला नहीं होगा। नकवी ने चुटकी लेते हुए कहा कि इनका काम रोको प्रस्ताव है, हमारा काम करो प्रस्ताव है। जब सरकार ने उनकी मांग नहीं मानी तो कांग्रेस नेताओं ने राज्यसभा के वेल में आकर हंगामा किया जिसके बाद सदन को शनिवार तक के लिये स्थगित कर दिया गया।

प्रकृति को नुकसान न पहुॅचानें की बच्चों ने ली शपथ

पब्लिक व्यू ब्युरो 4/22/2016 10:26:43 PM
img

नगर के भटौली रोड विजयपुरा स्थित डा. सरला सर्राफ पब्लिक स्कूल में गुरूवार को अंतर्राष्ट्रीय पृथ्वी दिवस के पूर्व संध्या पर बच्चों ने मानव श्रृंखला बनाकर पृथ्वी के स्वरूप ग्लोब को हाथ में सुरक्षित पकड़कर एकजुट होकर मां स्वरूप पृथ्वी के लिए शथप लिया की ऐसा कोई भी कार्य नहीं करेंगे जिससे प्रकृति को नुकसान पहुॅचे।उन्होंने संकल्प लिया की प्रकृति के दोहन को रोकते हुए प्रदूषण की वजह से पृथ्वी के लिए सबसे बड़े संकट ग्लोबल वार्मिंग के प्रभाव को कम करने के लिए पेड़ लगाएंगे एवं हरे पेड़ नहीं काटेंगे।पृथ्वी दिवस मानते हुए बच्चों ने पेड़ पौधे मत करो नष्ट, सांस लेने में होगा कष्ट, प्रकृति का न करो हरण, आओ बचाएॅ पर्यावरण। धरती बचाओं, जीवन बचाओं जैसे स्लोगन से लोगों को पर्यावरण के प्रति जागरूक एवं संवेदनशील होने की अपील की। इस अवसर पर विद्यालय के डायरेक्टर आयुष कुमार सर्रापफ ने बच्चों को समझाते हुए कहा कि मात्रा एक दिन पृथ्वी दिवस के रूप में मना कर हम प्रकृति को बर्बाद होने से नहीं रोक सकते हैं, इसके लिए हमें बड़े बदलाव की जरूरत है। पृथ्वी दिवस को लेकर देश और दुनिया में जागरूकता का भारी अभाव है। पृथ्वी एवं पर्यावरण की रक्षा किसी एक व्यक्ति, संस्था या समाज की जिम्मेदार तक ही सीमित नहीं होना चाहिए। इसके लिए हम सभी को इसमें कुछ न कुछ आहुति देने की जरूरत है जिससे हम पृथ्वी को जीवन योग्य रख सकते है। इस अवसर पर प्रधानाचार्य आस्था सर्रापफ, शालिनी जायसवाल, नेहा गुप्ता, नेहा राज श्रीवास्तव, उर्वशी गुप्ता, प्रियंका शर्मा, रवि यादव, महेन्द्र गुप्त आदि लोग उपस्थित रहे।

मुख्यमंत्री ने रेल मंत्री को लिख पत्र, शुरू हो मथुरा वृदंावन की रेल सेवा

पब्लिक व्यू ब्युरो 4/20/2016 10:57:05 PM
img

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने मथुरा-वृंदावन के बीच आधुनिक रेल बस सेवा को दोबारा शुरू करने के लि‍ए रेल मंत्री सुरेश प्रभु से अनुरोध किया है। साथ ही मथुरा में रेलवे की खाली पड़ी जमीन और स्टेशन को मथुरा-वृंदावन के धार्मिक और पौराणिक स्वरूप के अनुरूप विकसित करने की भी मांग की है।इस संबंध में रेल मंत्री को लिखे अपने एक पत्र से मुख्यमंत्री ने अवगत कराया है। उन्‍होंने कहा है कि‍ मथुरा-वृंदावन के बीच पिछले कई वर्षों से रेल बस सेवा थी। इस समय रेलवे ट्रैक सही नहीं होने और रेल बस इंजन में खराबी के कारण इसे बंद कर दिया गया है। इससे इस क्षेत्र की पर्यटन और नागरिक सुविधाएं प्रभावित हो रही हैं।अखिलेश ने मथुरा-वृंदावन का महत्व बताया। उन्‍होंने कहा कि‍ यह क्षेत्र तीर्थस्थल होने के साथ-साथ पर्यटन की दृष्टि से अत्यंत महत्वपूर्ण है। यहां पूरे विश्व से बड़ी संख्या में पर्यटकों का सालोंभर आना-जाना बना रहता है। मथुरा-वृंदावन के अधिकांश पर्यटक स्थल और पौराणिक मंदिर जैसे श्रीकृष्ण जन्मस्थान, द्वारिकाधीश मंदिर और बांके बिहारी मंदिर आदि संकरे मार्गों पर स्थित हैं। पहले संचालित रेल बस सेवा इनमें से अधिकांश स्थलों को जोड़ने का काम करती थी। इस कारण ट्रैफिक समस्या से निपटने में भी मदद मिलती थी। उन्होंने भरोसा जताया है कि क्षेत्र के महत्व को देखते हुए रेल मंत्रालय इस मामले में तत्काल निर्णय लेते हुए इसे शुरू करेगा। हेरिटेज सिटी के लि‍ए रेल बस सेवा का संचालन बहुत जरूरी है। पर्यटक और इस क्षेत्र के निवासी भी लगातार इसे फिर से शुरू किए जाने की मांग कर रहे हैं। इस क्षेत्र में आने वाले पर्यटकों और जनता को बेहतर यातायात उपलब्ध कराने के लि‍एअखिलेश ने मथुरा-वृंदावन का महत्व बताया। उन्‍होंने कहा कि‍ यह क्षेत्र तीर्थस्थल होने के साथ-साथ पर्यटन की दृष्टि से अत्यंत महत्वपूर्ण है। यहां पूरे विश्व से बड़ी संख्या में पर्यटकों का सालोंभर आना-जाना बना रहता है। मथुरा-वृंदावन के अधिकांश पर्यटक स्थल और पौराणिक मंदिर जैसे श्रीकृष्ण जन्मस्थान, द्वारिकाधीश मंदिर और बांके बिहारी मंदिर आदि संकरे मार्गों पर स्थित हैं। पहले संचालित रेल बस सेवा इनमें से अधिकांश स्थलों को जोड़ने का काम करती थी। इस कारण ट्रैफिक समस्या से निपटने में भी मदद मिलती थी। उन्होंने भरोसा जताया है कि क्षेत्र के महत्व को देखते हुए रेल मंत्रालय इस मामले में तत्काल निर्णय लेते हुए इसे शुरू करेगा।

महाप्रबंधक ने एनसीआर को शील्ड मिलने पर दी बधाई

पब्लिक व्यू ब्युरो 4/18/2016 10:30:03 PM
img

उत्तर मध्य रेलवे मुख्यालय मे महाप्रबंधक अरुण सक्सेना की अध्यक्षता में आयोजित बैठक के दौरान 16 अप्रैल को भुवनेश्वर में आयोजित भारतीय रेल के रेल सप्ताह समारोह कार्यक्रम में उत्तर मध्ये रेलवे को भारतीय रेल की संकेत एवं दूरसंचार शील्ड मिलने पर सभी अधिकारियों एवं कर्मचारियों को हार्दिक बधाई दी। उत्तर मध्य रेलवे मुख्यालय मे महाप्रबंधक अरुण सक्सेना की अध्यक्षता में आयोजित बैठक के दौरान 16 अप्रैल को भुवनेश्वर में आयोजित भारतीय रेल के रेल सप्ताह समारोह कार्यक्रम में उत्तर मध्ये रेलवे को भारतीय रेल की संकेत एवं दूरसंचार शील्ड मिलने पर सभी अधिकारियों एवं कर्मचारियों को हार्दिक बधाई दी।

फर्जी दिव्यांगों को नौकरी से बाहर किए जाने की उठी मांग

पब्लिक व्यू ब्युरो 4/17/2016 11:11:12 PM
img

विकलांग एसोसिएशन के तत्वाधान में एक प्रतिनिधि मण्डल एमएलसी अरूण पाठक को ज्ञापन देकर मांग किया कि सरकारी नौकरी में विभागीय कर्मचारियों व अधिकारियों की मिलीभगत से फर्जी दिव्यांग नौकरी कर रहें है। उन्हें तत्काल नौकरी से निकालते हुए उन पर विभागीय कार्रवाई की जाय। एसोसिएशन के अध्यक्ष वीरेन्द्र कुमार ने कहा कि खासतौर पर शिक्षा विभाग में सबसे ज्यादा फर्जी दिव्यांग नौकरी कर रहे है और दिव्यांगों का हक मार रहे है। इसके साथ ही दिव्यांगों को ऋण न दिए जाने पर बड़ौदा उत्तर प्रदेश ग्रामीण बैंक की भी शिकायत की गई। एमएलसी अरूण पाठक ने आश्वाशन दिया कि आपके सभी मामलों को विधानसभा में रखा जाएगा और मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से चर्चा की जाएगी। जौहर अली ने कहा कि अगर फर्जी दिव्यांग नौकरी से नहीं निकाले गए तो एसोसिएशन आंदोलन करने को मजबूर हो जाएगा। अरविन्द सिंह ने विधायक से मांग किया कि ट्राफिक में काम करने वाले दिव्यांगों का भुगतान कर उन्हें फिर से तैनाती की जाय। इस अवसर पर वीरेन्द्र कुमार, अल्पना कुमारी, अरविन्द सिंह, जौहर अली, बंगाली शर्मा, मनोज त्रिपाठी, रामसनेही कुशवाहा, अजमेर अली आदि मौजूद रहें।

पीएम सहित कई नेताओं ने दी रामनवमी की शुभकामना

पब्लिक व्यू ब्युरो 4/15/2016 11:02:53 PM
img

देशभर में शुक्रवार को राम नवमी का त्यौहार हर्षोल्लास के साथ मनाया जा रहा है।इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल सहित कई नेताओं ने जनता को राम नवमी की शुभकामनाएं दी हैं।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को अपने ट्वीट संदेश में कहा कि राम नवमी के पावन अवसर पर हार्दिक शुभकामनाएं। वहीं गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि भगवान राम के आदर्शों पर चलकर ही हम बेहतर समाज का निर्माण कर सकते हैं। राम नवमी के पावन अवसर पर आपको और आपके समस्त परिवार को हार्दिक शुभकामनाएं। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने भी देशवासियों को राम नवमी की शुभकामनाएं दी हैं। ट्वीट के माध्यम से दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी रामनवमी की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि रामनवमी की ढेर सारी शुभकामनाएं।

टीईटी 2011 अभ्यर्थियों का टूट सकता है शिक्षक बनने का सपना

पब्लिक व्यू ब्युरो 4/14/2016 11:15:30 PM
img

प्रदेश में प्राथमिक व जूनियर हाईस्कूल में पढ़ाने की शिक्षक पात्रता परीक्षा समाप्त होने में केवल आठ महीने बचे हैं। यह परीक्षा 72 हजार 825 शिक्षकों की भर्ती के लिए योग्य मानी गई थी। तब बसपा के शासन में टीईटी की परीक्षा में मैरिट के आधार पर नियुक्ति किए जाने की घोषणा की थी। बाद में इस भर्ती के लिए सपा के शासन में काफी अडं“गे लगे थे। सुप्रीम कोर्ट तक इन नियुक्तियों का मामला खिंचा था। बाद में टीईटी मेरिट के आधार पर ही यह नियुक्तियां र्हुइं। कुल रिक्तियों में से करीब 14 हजार रिक्तियां शेष हैं। टीईटी 2011 के उत्तीर्ण के प्रमाण पत्रों की वैधता समाप्त हो रही है। ऐसे में बीएड बेरोजगारों के सामने परेशानी खड़ी हो गई है।वर्ष 2011 में प्रदेश में सबसे पहले शिक्षक पात्रता परीक्षा आयोजित हुई थी। प्रदेश के प्राथमिक विद्यालयों में शिक्षकों की रिक्तियां भी खाली थीं। तब प्रदेश सरकार ने 72 हजार 825 शिक्षकों की भर्ती निकाली थीं। इन भर्तियों में टीईटी 2011की परीक्षा उत्तीर्ण करने वालों में से मेरिट के आधार पर नियुक्तियां होने की घोषणा की गई थी। कुछ समय पश्चात प्रदेश में सत्ता परिवर्तन हुआ और प्रदेश में सपा की सरकार बनी। सपा की ओर से इन रिक्तियों को भरने के लिए दूसरे मानक तय किए गए। मामला हाईकोर्ट से सुप्रीम कोर्ट में पहुंचा। सुप्रीम कोर्ट ने टीइटी की मेरिट पर भी भर्ती करने का निर्णय दिया। प्रदेश में धीरे-धीरे करीब 59 हजार रिक्तियां ही अभी तक भरी र्गइं। करीब 14 हजार रिक्तियां अभी शेष हैं। इस भर्ती में टीईटी 2011 उत्तीर्ण अभ्यर्थी ही शामिल हो सकते हैं। एक बार शिक्षक पात्रता परीक्षा में सफल होने वाला अभ्यर्थी पांच साल बाद ही शिक्षक पात्रता परीक्षा दे सकता है। हालांकि जूनियर हाईस्कूल के लिए ऐसी कोई बंदिश रही। उन्हें दूसरी बार जूनियर हाईस्कूल के लिए टीईटी परीक्षा में बैठने का मौका दिया गया।

भाजपा कभी नहीं बनाएगी अयोध्या में राम मंदिर: शंकराचार्य

पब्लिक व्यू ब्युरो 4/7/2016 11:28:23 PM
img

शारदा और ज्योर्तिपीठ के जगद्गुरु शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती ने कहा कि भाजपा अयोध्या में कभी राम मंदिर नहीं बनाएगी।शारदा और ज्योर्तिपीठ के जगद्गुरु शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती ने कहा कि भाजपा अयोध्या में कभी राम मंदिर नहीं बनाएगी।करीब दो वर्षों के कार्यकाल में मोदी सरकार ने ऐसा कुछ नहीं किया जिससे लगे कि रामलला का मंदिर बन रहा है। अयोध्या में कभी भी कोई मस्जिद नहीं रही। कुछ लोक राजनीतिक रोटियां सेकने के लिए मस्जिद को मुद्दा बना रहे हैं। जगद्गुरु शंकराचार्य हरिद्वार के कनखल स्थित शंकराचार्य मठ में पत्रकारों से वार्ता कर रहे थे। उन्होंने कहा कि मंदिर को लेकर स्वार्थपूर्ण राजनीति चल रही है। वर्तमान केंद्र सरकार राम मंदिर के नाम का सहारा लेकर सत्ता में आई पर कुर्सी पर बैठते ही राम को भूल गई।अब भ्रम फैलाया जा रहा है कि भाजपा के कार्यकाल में ही मंदिर बनेगा। हकीकत यह है कि भाजपा कभी राम मंदिर नहीं बनाएगी। राम केवल एक पार्टी के राम नहीं हैं। पूरे विश्व का उन पर अधिकार है। मंदिर का निर्माण बड़े विद्वान और संत मिलकर करेंगे।

उत्तराखंड में राष्ट्रपति शासन लगा, विधानसभा निलम्बित

पब्लिक व्यू ब्युरो 3/27/2016 11:05:17 PM
img

तमाम सियासी दांवपेंचों के बीच रविवार को उत्तराखंड में राष्ट्रपति शासन लागू कर दिया गया। राजयपाल की रिपोर्ट पर केंद्र सरकार द्वारा बीती रात की गई सिफारिश को मानते हुए महामहिम ने राष्ट्रपति शासन लगाने की मंजूरी दे दी। अभी विधानसभा को भंग नहीं किया गया है सिर्फ निलम्बित की गई है।हरीश रावत सरकार को सोमवार को सदन में अपना बहुमत साबित करना था लेकिन इसके पहले ही यह फैसला ले लिया गया। त्वरित प्रतिक्रिया में कांग्रेस ने इस फैसले को असंवैधानिक और भाजपा ने राष्ट्रपति शासन लागू करने को सही ठहराया है।कांग्रेस शासित राज्य उत्तराखंड में उत्पन्न राजनीति स्थिति पर चर्चा के लिए शनिवार देर रात प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के असम से वापस लौटते ही कैबिनेट की बैठक हुई। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता वाली इस बैठक में उत्तराखंड के मामले में विस्तृत चर्चा की गई। बैठक में राज्य में राष्ट्रपति शासन लगाने के विकल्प पर भी गंभीरता से विचार हुआ। पीएम आवास पर हुई इस बैठक में केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह, वित्त मंत्री अरुण जेटली, विदेश मंत्री सुषमा स्वराज, केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने हिस्सा लिया। इससे पूर्व राज्य के मुख्यमंत्री हरीश रावत के खिलाफ जारी एक स्टिंग ऑपरेशन का वीडियो लिंक होने के बाद भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के नेतृत्व में एक प्रतिनिधिमंडल ने राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी से मुलाकात करके सरकार को बर्खास्त करने की मांग की थी। अपर्णा को एक सामाजिक कार्यकर्ता के रूप में जाना जाता है। उनकी छवि बेबाक टिप्पणी करने वाले कार्यकर्ता के रूप में भी है। 2014 में वह पहली बार तब सुर्खियों में छा गईं थीं, जब उन्होंने पीएम नरेंद्र मोदी की स्वच्छता अभियान की तारीफ की थी।

ऋषिकेश में साधु बना हैवान, सरेआम हथियार से काटकर की हत्या

पब्लिक व्यू ब्युरो 3/21/2016 11:27:09 PM
img

ऋषि‌केश के लक्ष्मणझूला थाना क्षेत्र में एक फक्कड़ साधु ने धारदार हथियार से काटकर एक व्यक्ति की हत्या कर दी।मृतक ऋषिकेश में खच्चर से सामान ढोने का काम करता था। पुलिस ने हत्यारोपी को गिरफ्तार कर लिया है।घटना मंगलवार तड़के पांच बजे की है। शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पुलिस आपसी कहासुनी को हत्या की वजह बता रही है।

हरक और बहुगुणा का पॉलिटिकल कॅरियर दांव पर

पब्लिक व्यू ब्युरो 3/18/2016 11:10:22 PM
img

दलीय स्थिति के हिसाब से कांग्रेस के अभी तक 36 विधायक हैं। कांग्रेस को पीडीएफ के छह विधायकों का समर्थन भी हासिल है। ऐसे में कांग्रेस के पक्ष में 42 का आंकड़ा था। इसमें से नौ विधायकों के चले जाने पर कांग्रेस के पक्ष में 27 विधायक हैं। दल बदल से बचने के लिए दो तिहाई विधायक होने चाहिए। इस हिसाब से बहुगुणा और हरक को करीब 24 विधायकों का समर्थन जुटाना था। ऐसे में इन दो नेताओं का अन्य सात विधायकों के साथ दल बदल कानून की जद में आना भी करीब-करीब तय है। ऐसा हुआ तो यह दोनों चुनाव भी नहीं लड़ पाएंगे। हरक पहले भी उछल कूद कर चुके हैं। हरक का भाजपा और बसपा से भी पुराना नाता रहा है, लेकिन विजय बहुगुणा शुद्ध रूप से कांग्रेसी ही रहे। हेमवती नंदन बहुगुणा के पुत्र विजय बहुगुणा की बहन रीता बहुगुणा उत्तर प्रदेश में कांग्रेस की पहचान वाली नेता भी हैं। कांग्रेस से नाता तोड़ने के बाद बहुगुणा के लिए प्रदेश में अपनी कांग्रेस की छवि को तोड़ने में खासी मशक्कत भी करनी होगी। यही हाल हरक का भी है।

हरिद्वार अर्द्धकुंभ में फिर होगा साईं बाबा का विरोध

पब्लिक व्यू ब्युरो 3/16/2016 10:57:01 PM
img

हाल ही में हरिद्वार में हुई धर्म संसद के दौरान साईं मंदिरों के खिलाफ आंदोलन का मुद्दा उठाया था। शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती के हरिद्वार आने पर एक बार फिर यह मुद्दा शंकराचार्य कैंप से उठाया जाएगा।भूमापीठाधीश्चर स्वामी अच्युतानंद तीर्थ द्वारा विगत दिनों आयोजित धर्म संसद में निर्णय लिया था कि साईं मंदिरों के खिलाफ आंदोलन देश भर में शुरू किया जाएगा। इस संबंध में एक प्रस्ताव भी पारित हुआ है। इसकी प्रतियां केंद्र सरकार सहित सभी राज्यों की सरकारों को भेजी गई हैं।स्वामी अच्युतानंद ने बताया कि शीघ्र संतों का एक प्रतिनिधि मंडल साईं मंदिरों के खिलाफ आवाज उठाने के लिए प्रधानमंत्री से भेंट करेगा। धर्म संसद में स्वामी स्वरूपानंद द्वारा चलाए जा रहे देशव्यापी साईं विरोधी अभियान को पूर्ण समर्थन प्रदान किया।उन्होंने कहा कि साईं के मंदिर नहीं बनाए जा सकते। मंदिर केवल देवी-देवताओं के बनते हैं। स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती अर्द्धकुंभ में कैंप करने एवं वासंती नवरात्र बिताने के लिए काशी से देशाटन करते हुए सात अप्रैल को हरिद्वार पहुंच रहे हैं। शंकराचार्य कैंप में साईं मंदिरों के लिए एक और विरोध की भूमिका तैयार की जा रही है।

कर्ज लेकर ब्याज चुका रही उत्तराखंड सरकार

पब्लिक व्यू ब्युरो 3/13/2016 11:31:49 PM
img

प्रति व्यक्ति आय में राष्ट्रीय औसत से अधिक होने का दावा कर रहे उत्तराखंड में कर्ज का मर्ज लगातार बढ़ता ही जा रहा है। 2016-17 में प्रदेश का कुल कर्ज बढ़कर 40793.69 करोड़ रुपये होने का अनुमान है।2015-16 में यह कर्ज 34762 करोड़ रुपये ही था। विजन 20-20 की बात कर रही सरकार को यह बात भी परेशान कर सकती है कि 2020 तक यह कर्ज बढ़कर 62 हजार करोड़ हो जाने का अनुमान है। कर्ज के फ्रंट पर सरकार के लिए चिंता की बात यह भी है कि उसका प्रारंभिक घाटा लगातार बढ़ता जा रहा है। इसका मतलब यह भी हुआ कि सरकार जो नया कर्ज ले रही है, उसका अधिकतर हिस्सा पुराने कर्ज का ब्याज चुकाने में ही जाया हो रहा है।कर्ज के फ्रंट पर सरकार के लिए चिंता की बात यह भी है कि उसका प्रारंभिक घाटा लगातार बढ़ता जा रहा है। इसका मतलब यह भी हुआ कि सरकार जो नया कर्ज ले रही है, उसका अधिकतर हिस्सा पुराने कर्ज का ब्याज चुकाने में ही जाया हो रहा है।प्रदेश सरकार अभी तक कर्ज को चिंता वाली बात नहीं मानती रही है। कर्ज को विकास योजनाओं के लिये ग्रीस के रूप में पेश किया जाता रहा है।

अन्य बैंक के एटीएम से पैसा निकालने पर लगने वाले शुल्क को समाप्त करने की तैयारी

पब्लिक व्यू ब्युरो 3/7/2016 11:04:17 PM
img

दूसरे बैंक के एटीएम से पैसा निकालने पर धारकों को शुल्क देना पड़ता है, लेकिन जल्द ही केंद्र सरकार अन्य बैंक के एटीएम से पैसा निकालने पर लगने वाले शुल्क को समाप्त करने की तैयारी कर रही है। दूसरे बैंक के एटीएम से पैसा निकालने पर धारकों को शुल्क देना पड़ता है, लेकिन जल्द ही केंद्र सरकार अन्य बैंक के एटीएम से पैसा निकालने पर लगने वाले शुल्क को समाप्त करने की तैयारी कर रही है।

सचिव वार्ता के बाद ‍DBS के छात्रों ने तोड़ी भूख हड़ताल

पब्लिक व्यू ब्युरो 3/4/2016 11:28:29 PM
img

बजट न मिलने की वजह से डीबीएस पीजी कॉलेज में चल रही सांध्य कक्षाओं के छात्रों की भूख हड़ताल शिक्षा सचिव से वार्ता के बाद खत्म हो गई। किसी बड़े नेता या अधिकारी के बजाय छात्रों को कॉलेज के चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी और सफाई कर्मचारी ने जूस पिलाकर भूख हड़ताल खत्म कराई। छात्रों के इस कदम की सबने प्रशंसा की। अमर उजाला ने सांध्य कक्षाओं के बजट का मुद्दा प्रमुखता से उठाया था।सरकार की महत्वपूर्ण सांध्य कक्षाओं की घोषणा के बाद बजट न मिलने की वजह से डीबीएस कॉलेज के छात्रों की न तो कक्षाएं हो रही थी और न ही प्रैक्टिकल। लंबे समय तक गुहार लगाने के बाद छात्र दो दिन पहले कॉलेज परिसर में भूख हड़ताल पर बैठ गए। अमर उजाला ने मुद्दे को प्रमुखता से उठाया।शुक्रवार को डीबीएस कॉलेज प्राचार्य डा. ओपी कुलश्रेष्ठ, चीफ प्रॉक्टर डॉ. एके बियानी और चार हड़ताली छात्रों का प्रतिनिधिमंडल शिक्षा सचिव एमसी जोशी से मिला। सचिव ने आश्वासन दिया कि एक दिन के भीतर कॉलेज को सांध्य कक्षाओं का बजट जारी कर दिया जाएगा। इस आश्वासन के बाद छात्र कॉलेज लौटे।

मुश्किल में पड़ सकते हैं खली रिटंर्स शो में आए विदेशी रेसलर

पब्लिक व्यू ब्युरो 3/2/2016 11:40:38 PM
img

उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में आयोजित हुए द ग्रेट खली रिटंर्स रेसलिंग शो में आए विदेशी रेसलरों की मुश्किल बड़ सकती है।उत्तराखंड भाजपा प्रदेश प्रवक्ता मुन्ना सिंह चौहान ने ‘द ग्रेट खली रिटंर्स’ प्रोग्राम की आड़ में उत्तराखंड सरकार और मुख्यमंत्री पर बड़ा हमला बोला है।प्रदेश प्रवक्ता ने विदेशी खिलाड़ियों द्वारा देश विरोधी बयानबाजी को लेकर मुख्यमंत्री हरीश रावत और सरकार को सीधे तौर पर जिम्मेदार ठहराते हुए राष्ट्रदोह का मुकदमा दर्ज कराए जाने की मांग की है।चौहान का कहना है कि जब एक व्यक्ति को लेकर टिप्पणी किए जाने पर देशद्रोह का मुकदमा दर्ज हो सकता है, तो पूरे देशवासियों को लेकर टिप्पणी किए जाने पर मुख्यमंत्री और आयोजकों पर मुकदमा क्यों नही दर्ज होना चाहिए? कहा कि पार्टी की ओर से इस मुद्दे पर राज्य भर में आंदोलन होगा और पुतला फूंका जाएगा।

पूर्व सीएम के सचिव का बेटा कानपुर से हुआ लापता, अपहरण की आशंका

पब्लिक व्यू ब्युरो 2/29/2016 11:35:15 PM
img

उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री रमेश पोखरियाल निशंक के निजी सचिव का बेटा कानपुर से लापता हो गया है। बेटे के लापता होने की जानकारी पर घरवालों ने अपहरण की आशंका जतायी है और कानपुर एसएसपी से फोन पर बातचीत कर कल्यानपुर थाने में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई गयी। बताते चले कि देहरादून के सरस्वती बिहार में रहने वाले बेचैन कान्दीयाल उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री रमेश पोखरियाल निशंक के निजी सचिव है। उन्होंने बताया कि उनका 22 वर्षीय बेटा अकिंत कान्दीयाल रविवार की रात करीब 11 बजे दिल्ली के आनन्द बिहार बस अड्डे से कानपूर की बस में बैठा था। वहां से अकिंत को लखनऊ गोमतीनगर जाना था। कल्यानपुर के रावतपुर स्टेशन पर पहंुचते ही अकिंत कहीं लापता हो गया। हालचाल लेने के लिए परिवार ने जब बेटे को फोन किया तो फोन बन्द आने से घरवाले परेशान हो गये। इस पर सचिव ने कानपुर बीजेपी जिलाध्यक्ष सुरेन्द्र मैथानी से सम्पर्क कर बेटे के हालचाल लेने को कहा। जिसके बाद उन्होंने अकिंत को तलाश करने के लिए अपने लोगों को भेजा। जहां उनको पता चला कि अकिंत का बैग रावतपुर में खड़ी बस में मिला है और वह गायब है। अकिंत के लापता होने पर मैथानी ने घरवालों को जानकारी देते हुए एसएसपी शलभ माथुर से बातचीत की और पूर्व सीएम की बात भी करायी। इस पर एसएसपी ने परिवार को भरोसा दिलाया है कि अकिंत कहीं भी होगा जल्द ही उसका पता लगा लेंगे। हालांकि परिवार ने कल्यानपुर थाने में बेटे की लापता होने की रिपोर्ट दर्ज करायी है।

केजरीवाल बनना चाहते हैं उत्तराखंड के ये अफसर

पब्लिक व्यू ब्युरो 2/25/2016 12:02:24 AM
img

देहरादून की ट्रैफिक से परेशान डीएम शहर में मौजूदा यातायात व्यवस्थाओं को सुधारने की गुंजाइश की जगह सीधे यानि ऑड इवन और नो कार डे के दोहरे फार्मूले को लागू करने के पक्ष में हैँ।शहर में पार्किंग स्थल की कमी, टूटी सड़कें, खराब ट्रैफिक लाइटें, सड़कों के किनारे अतिक्रमण आदि व्यवस्थाओं को सुधार जिस ट्रैफिक को सुधारा जा सकता है उसपर एकाएक फार्मूला लागू करने के पक्ष में ना तो कांग्रेस है ना ही भाजपा। आम जनमानस भी इससे सहमत नहीं है। शहर में फ्लाई ओवर का निर्माण कई साल से चल रहा है।निर्माण कार्य अधूरा पड़ा होने से सड़कों पर जाम आम रहता है। लोगों का कहना है कि रिटायर्ड अफसरों की पहली पसंद इस शहर में ऑड इवन और मुख्य मार्गों पर नो कार डे का प्रयोग बेतुका लगता है। जरूरत मूलभूत चीजों को सुधारने की है।दून में वाहनों के लिए ऑड इवन फार्मूला लागू करने की चर्चाओं पर अमर उजाला ने इस संबंध में शहर के जनप्रतिनिधियों, व्यापारी, अधिवक्ता वर्ग से बातचीत की। ज्यादातर का कहना है कि अगर अधिकारियों में वास्तव में यातायात व्यवस्था सुधारने की इच्छा शक्ति है तो पहले शहर की पार्किंग, अतिक्रमण, टूटी सड़कों की स्थिति सुधारी जाए।

चार सशस्त्र लुटेरों ने पेट्रोल पंप लूटा

पब्लिक व्यू ब्युरो 2/14/2016 11:40:14 PM
img

सकीट थाना क्षेत्र के गांव उम्मेदपुर स्थित एक पेट्रोल पंप पर शनिवार की रात 4 सशस्त्र बदमाशों ने धावा बोल असलाह दिखाकर करीब 24 हजार की नकदी लूट ली। लूट की सूचना पर एसएसपी अशोक त्रिपाठी, एएसपी विजर्सन सिंह यादव भी पुलिस के साथ मौके पर पहुंच गये तथा बदमाशों की तलाश कराई पर कोई कामयाबी न मिली। मामले की पंप स्वामी ने प्राथमिकी दर्ज कराते हुए अज्ञात के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई है।इस प्राथमिकी में एटा के वर्मा नगर निवासी उमेश कुमार पुत्र रामवीर सिंह ने बताया है कि शनिवार की रात करीब 8 बजे उसके उम्मेदपुर स्थित प्रवीन आटोमोबाइल के शोरूम में 4 सशस्त्र बदमाश घुसे जिन्होंने कर्मचारियों पर तमंचा तान शोरूम में रखे 24 हजार की नकदी लूट ली तथा फरार हो गये। एसएसपी के अनुसार पेट्रोल पंप पर सीसी कैमरे न होने के कारण बदमाश को चिहिनत तो नहीं किया जा सका है किन्तु एसओ को मामले के जल्द खुलासे के निर्देश दिए गये हैं।

घर में घुसे बदमाशों ने कैसे मचाया तांडव

पब्लिक व्यू ब्युरो 2/12/2016 10:58:56 PM
img

देहरादून में लूट के इरादे से घर में घुसे बदमाश ने विरोध करने पर बुजुर्ग कारोबारी का तमंचे की बट मारकर सिर फोड़ दिया। बदमाश ने व्यापारी पर गोली भी चलाई, लेकिन वह बाल बाल बच गए और गोली दीवार में जा लगी। हमला करने के बाद बदमाश अंधेरे का फायदा उठाते हुए फरार हो गया। व्यापारी को गंभीर हालत में सिनर्जी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।दून के केशव रोड निवासी कारोबारी सरदार महेंद्र सिंह मठारु (78) पत्नी जसवंत कौर के साथ बृहस्पतिवार रात पौने आठ बजे के करीब अपनी कोठी में थे। वह पहली मंजिल पर पूजा करने के लिए गए, जबकि उनकी पत्नी नीचे रही। इसी दौरान वहां पहले से मौजूद बदमाश ने उन्हें आतंकित कर कब्जे में करने का प्रयास किया। लेकिन मठारु बदमाश से भिड़ गए।इसी दौरान बदमाश ने तमंचे की बट (या किसी दूसरे हथियार) से उनके सिर पर कई प्रहार कर दिए। सिर फटने के साथ उनकी एक आंख के हिस्से में घाव बन गया। बदमाश ने उन पर फायर भी किया। गनीमत रही कि गोली उनके बराबर से निकलकर दीवार में जा लगी। गोली की आवाज सुनकर उनकी पत्नी जसवंत कौर बाहर आईं। पति को लहूलुहान देखकर वह घबरा गईं। इसी दौरान हमलावर फरार हो गया।

सरकारी जमीन बेचकर हड़पे साढ़े चार लाख

पब्लिक व्यू ब्युरो 2/12/2016 4:30:56 AM
img

डोईवाला क्षेत्र में राजस्व विभाग की जमीन को अपनी बताकर साढ़े चार लाख रुपये में बेच दी।खरीदार ने कब्जा लेकर बाउंड्री भी करा दी। प्रशासन ने कार्रवाई कर कब्जा हटाया तो जालसाजी का खुलासा हुआ।पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया, जबकि तीन अभी फरार बताए गए है। रायपुर थाना क्षेत्र के नकरौंदा (सैनिक कालोनी) निवासी रजनी देवी ने आईजी संजय गुंज्याल से मिलकर शिकायत दर्ज कराई थी कि जमील, खलील, शकील और इसरार अहमद ने सरकारी जमीन को अपनी बताकर फर्जी तरीके से चार लाख 52 हजार रुपये में बेच दिया। कब्जा लेकर जमीन की बाउंड्री भी करा दी गई।बाद में राजस्व विभाग की टीम ने अवैध कब्जा कराकर बाउंड्री गिरा दी। एसआईटी की ओर से की गई जांच में आरोप की पुष्टि हुई।

उत्तराखंड में अब खेलने का शौक जेब पर पड़ेगा भारी

पब्लिक व्यू ब्युरो 2/9/2016 10:32:22 PM
img

वर्ष 2018 में प्रस्तावित राष्ट्रीय खेल की तैयारियों में जुटी सरकार ने खिलाड़ियों को जोर का झटका दिया है। सरकार ने खेल नीति में संशोधन करते हुए खेल, स्टेडियम की बुकिंग दरों के साथ ही प्रशिक्षण शिविरों का शुल्क बढ़ा दिया है।नए आदेश के मुताबिक अब ए श्रेणी के स्टेडियम में क्रिकेट अभ्यास के लिए पिच का किराया प्रति दो घंटे के लिए 200 के बजाय 800 रुपये होगा। राज्य स्तरीय क्रिकेट स्टेडियम की बुकिंग शुल्क 500 से बढ़ाकर 1600 रुपये कर दिया है। राष्ट्रीय स्तर के स्टेडियम का शुल्क एक हजार के बजाय 3100 रुपये होगा। जिला स्तरीय एथलेटिक्स मैदानों के लिए अब 500 की जगह 1550 रुपये देने होंगे। कुश्ती, जूडो, ताइक्वांडो, कराटे हॉल की बुकिंग अब 200 की जगह 650 रुपये में होगी। इसके साथ ही 800 रुपये उपकरण और बिजली शुल्क के रूप में जमा करना होगा।जिला स्तरीय कबड्डी, खो-खो, हैंडबाल, शूटिंग बॉल, नेटबॉल, तलवारबाजी कोर्ट का किराया 75 से बढ़ाकर 250 रुपये कर दिया गया है। जिला स्तरीय बास्केटबाल कोर्ट की फीस 100 रुपये से बढ़ाकर 300 और बैडमिंटन, स्क्वैश कोर्ट की फीस 200 से बढ़ाकर 650 रुपये कर दी गई है। साथ ही प्रतिदिन 800 रुपये विद्युत शुल्क भी देना होगा।वहीं जिला स्तरीय टेबल टेनिस कोर्ट, वेट लिफ्टिंग व बाक्सिंग रिंग का किराया 150 से बढ़ाकर 500 रुपये कर दिया गया है। टेबल टेनिस और बाक्सिंग रिंग के लिए विद्युत शुल्क 800 रुपये और वेट लिफ्टिंग हॉल में बिजली व उपकरणों के लिए 1600 रुपये का अतिरिक्त भुगतान करना होगा। नए शासनादेश के मुताबिक जिला स्तरीय स्कूली मैदानों के लिए 500 की जगह एक हजार रुपये व जिला स्तरीय तरणतालों के लिए 1600 रुपये देने होंगे।

हज आवेदन की तिथि 15 फरवरी तक बढ़ी

पब्लिक व्यू ब्युरो 2/9/2016 3:03:59 AM
img

जो सफर-ए-हज पर जाने की आरजू दिलों में लिए हैं, उनके लिए खुशखबरी है। केंद्रीय हज कमेटी ने प्रदेश का कोटा बढ़ाकर लगभग दोगुना कर दिया है। इसके साथ ही हज यात्रा आवेदन पत्र जमा करने की आखिरी तारीख 8 से बढ़ाकर 15 फरवरी कर दी गई है।राज्य हज समिति के चेयरमैन हाजी राव शेर मोहम्मद ने बताया कि केंद्र ने वर्ष 2011 की जनगणना के आधार पर हज कोटा 772 से बढ़ाकर 1407 कर दिया है। अब और अधिक लोगों को हज करने का मौका मिल सकेगा।पिछले साल प्रदेश का कोटा 835 से घटाकर 772 यात्री कर दिया गया था। वर्ष 2011 की गणना के आधार पर जो नया कोटा प्रदेश को दिया गया है, उसमें कोटा पहले से लगभग दोगुना हो गया है। इसके साथ ही केंद्रीय हज कमेटी ने आवेदन की तिथि भी बढ़ा दी है। सोमवार शाम 5 बजे तक प्रदेश में कुल 3761 हज यात्रा आवेदन फार्म जमा हुए थे।हज अधिकारी नफीस अहमद ने बताया कि सोमवार शाम तक आरक्षित श्रेणी के 1277 आवेदन जमा हुए थे। इनमें 70 साल की उम्र के लोगों के 378 आवेदन, लगातार चार बार से फार्म भर रहे 558 और पांच बार से फार्म भरने वाले 341 लोगों ने आवेदन दिए हैं।

उत्तराखंड के सरकारी अस्पतालों में मुफ्त होंगी जांच

पब्लिक व्यू ब्युरो 2/5/2016 10:19:38 PM
img

स्वास्थ्य मंत्री सुरेंद्र सिंह नेगी ने कहा कि सरकारी अस्पताल में पैथोलॉजी जांच, अल्ट्रासाउंड, एक्सरे सहित सभी तरह के जांच निशुल्क होंगे। मुख्यमंत्री स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत मुफ्त इलाज की धनराशि 50 हजार से बढ़ाकर पौने दो लाख किया जाएगा। सभी व्यवस्थाएं नए वित्तीय सत्र मार्च से लागू होंगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश में 200 नए दंत चिकित्सकों की नियुक्ति की प्रक्रिया भी जल्द पूरी कर ली जाएगी।शुक्रवार को सरकारी अस्पताल में आशा हेल्प डेस्क के उद्घाटन मौके पर स्वास्थ्य मंत्री ने पत्रकारों को बताया कि दूरदराज के जिन इलाकों स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध नहीं है, वहां जल्द मोबाइल अस्पताल सेवा शुरू की जाएगी। इसमें सर्जन, फिजीशियन, महिला चिकित्सक और फार्मासिस्ट की टीम होगी।प्रदेश में डॉक्टरों की कमी से निपटने के लिए यह वैकल्पिक व्यवस्था की जा रही है। नेगी ने बताया कि प्रदेश में नए चिकित्सकों के चयन के लिए उत्तराखंड सेवा चयन बोर्ड गठित किया गया है। इसका प्रदेश को लाभ मिलेगा। अभी तक राज्य में बोर्ड नहीं होने के कारण नए चिकित्सकों का चयन नहीं हो पाता था।

गुरुकुल ने चुराया माइक्रोसॉफ्ट कंपनी का सॉफ्टवेयर

पब्लिक व्यू ब्युरो 2/4/2016 10:23:07 PM
img

कंप्यूटर सॉफ्टवेयर बनाने वाली कंपनी माइक्रोसॉफ्ट ने गुरुकुल कांगड़ी विश्वविद्यालय को नोटिस भेजकर एक करोड़ रुपये हर्जाने की मांग की।कंपनी ने विश्वविद्यालय प्रशासन पर उसका सॉफ्टवेयर का चोरी से उपयोग करने का आरोप लगाया है। सॉफ्टवेयर बनाने वाली कंपनियों में अमेरिका की माइक्रोसॉफ्ट का नाम सबसे ऊपर है।इस कंपनी के भारत स्थित कार्यालय से गुरुकुल कांगड़ी विश्वविद्यालय के कुलसचिव के नाम पिछले दिनों एक नोटिस भेजा गया। नोटिस में विश्वविद्यालय प्रशासन पर उनके सॉफ्टेवयर चोरी से प्रयोग किए जाने का आरोप लगाया गया।

पति ने मोबाइल के मैसेज से दे दिया तलाक

पब्लिक व्यू ब्युरो 2/3/2016 10:46:55 PM
img

हरिद्वार में एक अजीब मामला सामने आया है। यहां एक पति ने पत्नी को मोबाइल पर मैसेज में तीन बार तलाक लिख कर तलाक दे दिया।कई दिनों से घर में चल रही कलह के कारण पति-पत्नी में बोलचाल बंद थी। दोनों के बीच बोलचाल बंद थी। ऐसे में उसने मोबाइल मैसेज से ही पत्नी को तलाक दे दिया।दोनों की शादी ढाई महीने पहले ही हुई थी। पत्नी ने भी कोई गिला शिकवा नहीं किया और मायके वालों को बुलाकर उनके साथ चली गई। यह मामला शहर में चर्चा का विषय बना हुआ है।मामला हरिद्वार में ज्वालापुर के एक मोहल्ले का है। जानकारी के अनुसार यहां के एक युवक का विवाह देहरादून के क्लेमेंटाउन क्षेत्र की एक युवती से ढाई महीने पहले हुआ था।

एक साल पहले हुई थी शादी,पति ने पत्नी का गला काटा

पब्लिक व्यू ब्युरो 2/2/2016 10:16:38 PM
img

रुड़की के आसफनगर में एक पति ने अपनी पत्नी को मौत के घाट उतार‌ दिया। बताया गया कि दोनों के बीच अक्सर लड़ाई झगड़ा होता था। आरोपी अर्जुन और मृतका सरिता की शादी एक साल पहले हुई थी। आरोपी ने सरिता का गला काट कर उसे मौत के घाट उतार दिया। इस वारदात को अंजाम देने के बाद बुधवार की सुबह अर्जुन खुद कोतवाली पहुंचा और सारा मामला पुलिस को बताया। फिलहाल, पुलिस मामले की जांच में लगी है। शव को कब्जे में लेकर पुलिस द्वारा पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा जा रहा है।हरिद्वार में पूर्व पालिकाध्यक्ष सतपाल ब्रह्मचारी के निजी चालक रणजीत सिंह की पत्नी की संदिग्ध हालात में मौत हो गई। रणजीत सिंह ने अपने रिश्तेदारों पर ही पत्नी की हत्या करने का आरोप जड़ा है। कनखल पुलिस ने आरोपी रिश्तेदारों को हिरासत में लेकर पूछताछ की। खड़खड़ी क्षेत्र के एक आश्रम में रह रहे रणजीत सिंह को मंगलवार सुबह सूचना दी गई कि उसकी पत्नी उषा चौधरी (56) की मौत हो गई है। वे गांव जगजीतपुर पहुंचे। पत्नी के शव पर खरोंच और नाक से खून आता देखकर उन्होंने सूचना पुलिस को दी।पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा। पुलिस पड़ताल में सामने आया कि मृतका की यह दूसरी शादी थी। पहले पति से उसकी एक बेटी है और वो हरिपुर कलां, रायवाला में रहती है। मृतका ने एक बच्ची गोद ली हुई थी।� पूछताछ में बच्ची ने बताया कि कुछ करीबी रिश्तेदार रात को घर पर आए थे।

केस दर्ज दलित परिवारों को बनाया बंधक, उत्तराखंड में

पब्लिक व्यू ब्युरो 2/1/2016 10:17:15 PM
img

उत्तराखंड में दलितों के साथ बुरा बर्ताव किया जा रहा है। पिछले दिनों उन्हें क्षेत्र के एक मंदिर में नहीं जाने दिया गया और अब दलितों को बंधक बनाने की दो घटना सामने आई हैं।देहरादून के विकासनगर में सहसपुर पुलिस ने दलित परिवार को बंधक बनाने और उसका वेतन न देने के आरोप में पॉली हॉउस स्वामी के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है।पुलिस आरोपों की जांच में जुट गई है। तहरीर में बंगोती तहसील चकराता निवासी नितेश पुत्र कचलू दास ने कहा कि वह चार नवंबर 2015 को बरोटीवाला स्थित पीसी चंदेल के पॉली हॉउस में पहुंचा। अगले ही दिन पीसी चंदेल ने उसे नौकरी पर रख लिया।पॉली हॉउस स्वामी ने उससे कुछ और लोगों को नौकरी के लिए बुलाने को कहा। जिस पर नितेश ने अपनी पत्नी मनीषा और भाई संजू को भी बुला लिया। छह नवंबर से वह भी काम में जुट गए। एक माह बीतने के बाद जब उसने वेतन के लिए कहा तो पॉली हॉउस स्वामी ने दो माह का वेतन एक साथ देने की बात कही।नितेश का आरोप है कि पॉली हॉउस स्वामी वेतन के लिए उन्हें टालता रहा। आरोप लगाया कि जब उन्होंने दोबारा से पॉली हॉउस स्वामी से वेतन मांगा तो पॉली हॉउस स्वामी ने तीनों को कई दिनों तक एक कमरे में बंद कर उनके साथ मारपीट की।पॉली हॉउस स्वामी और उसकी भाभी ने नितेश की गर्भवती पत्नी तक के साथ मारपीट की। उल्टा छोड़ने के लिए उनसे 20 हजार रुपये की मांग की गई। कहा कि उनके किसी परिचित ने हस्तक्षेप कर उन्हें मुक्त कराया। पॉली हॉउस स्वामी ने उन्हें जान से मारने की भी धमकी दी। थानाध्यक्ष मुकेश त्यागी ने बताया कि मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है।

धर्मनगरी हरिद्वार में आज से पॉ‌लीथिन पर पूर्ण प्रतिबंध

पब्लिक व्यू ब्युरो 1/31/2016 11:07:02 PM
img

धर्मनगरी हरिद्वार में सोमवार एक फरवरी से पॉलीथिन पर पूरी तरह प्रतिबंध लगा दिया गया है।एनजीटी (नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल) के आदेशों का अनुपालन कराने में प्रशासन लोगों को पॉलीथिन के दुष्प्रभाव बताकर जागरूक करने और इसके अन्य विकल्पों को अपनाने के लिए भी प्रेरित कर रहे थे। लेकिन अब समझाने का दौर समाप्त हो गया है। कोई पॉलीथिन का प्रयोग करते पाया गया तो पांच हजार रुपये तक जुर्माना वसूला जाएगा। पिछले एक पखवाड़े से प्रशासन पॉलीथिन के दुष्प्रभाव के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए अभियान चलाए हुए थी। खुद जिलाधिकारी हरबंस सिंह चुघ ने नगर मजिस्ट्रेट जय भारत सिंह और अन्य अधिकारियों के साथ ज्वालापुर बाजार का दौरा कर व्यापारियों को पॉलीथिन के बैग की बजाय कपड़े के थैलों का प्रयोग करने के लिए प्रेरित किया था। महानगर व्यापार मंडल और कटहरा बाजार व्यापार मंडल के सहयोग से भी जागरूकता अभियान चलाया गया था। रविवार को जिलाधिकारी हरबंस सिंह चुघ ने बताया कि एक फरवरी से पॉलीथिन और प्लास्टिक की बिक्री और प्रयोग करने पर हरिद्वार में पूरी तरह प्रतिबंध लगा दिया गया है।

चारों धामों ने ओढ़ी सफेद चादर,पहाड़ों पर झमाझम बर्फ

पब्लिक व्यू ब्युरो 1/29/2016 10:31:58 PM
img

मौसम विभाग की भविष्यवाणी सटीक साबित हुई। शुक्रवार को चारों धामों गंगोत्री, यमुनोत्री, केदारनाथ और बदरीनाथ में बर्फ की चादर बिछ गई। रुद्रप्रयाग जिले में केदारनाथ धाम में ढाई फीट से अधिक बर्फ गिर चुकी है। चमोली जिले में बदरीनाथ, हेमकुंड साहिब, रूद्रनाथ, गौरसों बुग्याल, लाल माटी और पर्यटन स्थली औली में जमकर बर्फबारी हुई।उत्तरकाशी जिले में यमुनोत्री और गंगोत्री धाम सहित हरकीदून, केदारकांठा, डोडीताल, दयारा आदि ऊंचाई वाले पर्यटक स्थल बर्फ से लकदक हो गए हैं। बारिश और बर्फबारी से उपजी कड़ाके की ठंड को देखते हुए उत्तरकाशी जिले में तीस जनवरी को सभी स्कूलों में अवकाश घोषित कर दिया गया है। केदारनाथ में शुक्रवार को सुबह नौ बजे से शाम तक रुक-रुक कर बर्फबारी होती रही। इससे यहां पूरे दिनभर तापमान माइनस में रहा। निम के मीडिया प्रभारी देवेंद्र सिंह बिष्ट ने बताया कि धाम में चारों तरफ ढाई फीट से अधिक बर्फ गिर चुकी है।छानी कैंप, लिनचौली और रामबाड़ा में आधा फीट तक बर्फ जम चुकी है। द्वितीय केदार मद्महेश्वर धाम, तृतीय केदार श्रीतुंगनाथ, चोपता, दुगलबिट्टा सहित हरियाली डांडा में भी बर्फबारी हुई है। गौरीकुंड, ऊखीमठ, सोनप्रयाग और गुप्तकाशी में ठंड का प्रकोप बढ़ गया है।

उत्तराखंड पुलिस में जल्द होगी महिलाओं की भर्ती

पब्लिक व्यू ब्युरो 1/28/2016 10:41:51 PM
img

पुलिस बल में महिलाओं की भागीदारी बढ़ाने के लिए मुख्यमंत्री द्वारा वर्ष 2014 में राज्य स्थापना दिवस पर की गई घोषणा अब जाकर पूरी हुई। कार्मिक, वित्त व गृह विभाग के बीच झूल रही फाइल पर शासन ने बृहस्पतिवार को 1000 महिला कांस्टेबल व 150 महिला दरोगाओं की भर्ती को मंजूरी दे दी है। भर्ती का शासनादेश जारी कर दिया गया है और पीएचक्यू को तत्काल प्रक्रिया शुरू करने के लिए निर्देशित किया है।मुख्यमंत्री हरीश रावत ने करीब सवा साल पहले राज्य स्थापना दिवस पर पुलिस में महिलाओं की भागीदारी बढ़ाने की घोषणा करते हुए विशेष महिला भर्ती करने को कहा था।

आपस में भिड़े सपा-भाजपा नेता, जमकर चली गोलियां

पब्लिक व्यू ब्युरो 1/27/2016 10:46:19 PM
img

थाना क्षेत्र के भूखली गांव में बुधवार की शाम भाजपा के पूर्व सांसद रमाकांत यादव के बेटे पूर्व विधायक अरुण यादव और पवई के पूर्व ब्लाक प्रमुख सपा नेता बृजलाल यादव के बीच मारपीट हो गई।इस दौरान दोनों नेताओं के समर्थकों ने हवा में कई राउंड गोलियां चलाई। इसी बीच किसी ने सपा नेता की राइफल भी तोड़ दी। घटना के बाद अरुण अपने समर्थकों को लेकर निकल गए, जबकि फूलपुर से सपा विधायक विधायक श्याम बहादुर यादव कार्रवाई के लिए दबाव बनाते रहे।उधर विवाद के बाद एसपी दयानंद मिश्र सहित अन्य अधिकारी मौके पर पहुंच गए।� पुलिस ने इस मामले में पूर्व सांसद और उनके पुत्र समेत दस लोगों के खिलाफ नामजद और 12 अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। पुलिस ने पूर्व सांसद के भतीजे को हिरासत में ले लिया है। उसके पास से एक राइफल, दो बंदूक और एक पिस्टल बरामद हुई है।पवई में ब्लाक प्रमुख का पद सुरक्षित होने पर पूर्व प्रमुख बृजलाल यादव अपने एक समर्थक सुभाष राम की पत्नी मुन्नी देवी को चुनाव लड़ा रहे हैं, वहीं पूर्व विधायक अरुण यादव अपने यहां काम करने वाली एक महिला का समर्थन कर रहे हैं।बुधवार की शाम बृजलाल यादव अपने समर्थकों के साथ भूखली गांव निवासी रिश्तेदार और पूर्व बीडीसी रामबिलास यादव के दरवाजे पर गांव के बीडीसी पति प्रह्लाद राम से बात कर रहे थे। तभी अरुण यादव वहां पहुंच गए और बीडीसी पति को बैठाने पर एतराज जताया। इसी बात पर उनके बीच कहासुनी के बाद मारपीट होने लगी। दोनों नेता एक दूसरे से भिड़ गए।

नेपाल सीमा पर आमखर्क गांव में दिखे दो संदिग्ध

पब्लिक व्यू ब्युरो 1/26/2016 11:25:02 PM
img

एक सप्ताह में उत्तराखंड से लगी भारत-नेपाल सीमा पर प्रतिबंधित सेटेलाइट फोन के प्रयोग और स्वतंत्रता सेनानियों के शिलापट पर पाकिस्तानी झंडे का निशान बनाने के बाद अब सूखीढांग क्षेत्र में दो संदिग्ध के दिखने से पुलिस और खुफिया एजेंसियों में हड़कंप मच गया है।जौल की ग्राम प्रधान के पति केएन तिवारी ने बताया कि आमखर्क गांव में रविवार रात नीलावती देवी नामक महिला के घर के पास सफेद और काले रंग के कपड़े पहने दो संदिग्ध नजर आए थे। शोर मचाने पर दोनों जंगल की ओर भाग गए। इसके बाद टनकपुर, चल्थी आदि की पुलिस ग्रामीणों के साथ संदिग्धों की तलाश में जुट गई। सीओ आरएस रौतेला ने बताया कि फिलहाल कोई संदिग्ध नहीं मिला। बावजूद पुलिस, खुफिया एजेंसियों और एसएसबी को सतर्क कर दिया गया है।

गणतंत्र दिवस परेड की फाइनल रिहर्सल

पब्लिक व्यू ब्युरो 1/24/2016 10:33:58 PM
img

26 जनवरी को पुलिस लाइन में होने वाली गणतंत्र दिवस परेड की फाइनल रिहर्सल की गई। गणतंत्र दिवस पर कुल 13 विभागों की झांकियां शामिल होंगी। इनके माध्यम से लोगों को सरकारी योजनाओं की जानकारी दी जाएगी। परेड में अब 31वीं वाहिनी पीएसी के जवान भी शामिल होंगे। \रविवार को फाइनल रिहर्सल के दौरान जवानों ने परेड की। पुलिस अधीक्षक रोशन लाल शर्मा ने बताया कि पुलिस लाइन में 26 जनवरी को सुबह 10.30 बजे से परेड शुरू हो जाएगी। परेड के तुरंत बाद विभिन्न विभागों की झांकी निकलेगी। झांकी में स्वास्थ्य, वन, शिक्षा, विकास विभाग, डीआरडीए, लीड बैंक, पर्यटन विभाग, आपदा प्रबंधन, स्वजल परियोजना, उद्यान समेत अन्य विभाग शामिल होंगे। गणतंत्र दिवस पर इस बार भव्य सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन होगा। इसके लिए कलाकार अभी से तैयारी में जुटे हुए हैं। एसपी ने बताया कि परेड देखने के लिए आने वाले लोगों के बैठने के लिए बेहतरीन व्यवस्था की गई है। उन्होंने अधिक से अधिक संख्या में लोगों से आने की अपील की है। इधर, जिले में अन्य स्थानों पर भी गणतंत्र दिवस की व्यापक तैयारियां चल रही हैं। जिलाधिकारी एचसी सेमवाल ने सभी अधिकारियों, एसडीएम और तहसीलदारों को निर्देश दिए हैं कि गणतंत्र दिवस धूमधाम से मनाया जाए।

सीडीएस के ई-एडमिट कार्ड यूपीएससी ने जारी ‌किए

पब्लिक व्यू ब्युरो 1/22/2016 10:46:23 PM
img

संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) ने सीडीएस परीक्षा के ई-एडमिट कार्ड जारी कर दिए हैं। अभ्यर्थी वेबसाइट से अपने एडमिट कार्ड डाउनलोड कर सकते हैं। खास बात यह है कि एडमिट कार्ड को परीक्षा के बाद भी संभालकर रखें। इसे चयन बोर्ड के सामने भी दिखाना होगा। आयोग किसी भी अभ्यर्थी को डाक के माध्यम से एडमिट कार्ड नहीं भेजेगा।यूपीएससी की कंबाइंड डिफेंस सर्विस (सीडीएस) परीक्षा का आयोजन देशभर में एक साथ 14 फरवरी 2016 को होगा। आयोग ने इसके ई-एडमिट कार्ड जारी करने के साथ ही कुछ दिशा निर्देश भी जारी किए हैं। अगर प्रवेश-पत्र में कोई गलती हो तो तुरंत आयोग के संज्ञान में लाएं। परीक्षा हॉल में प्रवेश करने के लिए ई-प्रवेश पत्र को प्रत्येक सत्र में साथ लाएं।लिखित परिणाम की घोषणा होने तक ई-प्रवेश पत्र को सुरक्षित रखें, क्योंकि सेवा चयन बोर्ड के समक्ष इसे प्रस्तुत करना आवश्यक है। परीक्षा आरंभ होने के निर्धारित समय से 20 मिनट पहले परीक्षा हॉल में प्रवेश करें।निर्धारित समय के दस मिनट बाद परीक्षा में एंट्री नहीं दी जाएगी। अभ्यर्थी जिनकी फोटो ई प्रवेश पत्र पर हस्ताक्षर स्कैनेबल उपस्थिति पत्रक पर स्पष्ट नहीं है, उन्हें परिवचन (विशेष परफार्मा) देकर परीक्षा में शामिल होने के लिए अपने साथ एक फोटो पहचान पत्र प्रमाण जैसे कि आधार कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, पासपोर्ट, वोटर आई कार्ड आदि और तीन पासपोर्ट साइज फोटो लाने अनिवार्य होंगे।

अब देशद्रोही वारदात,उत्तराखंड से आतंकियों के पकड़े जाने के बाद

पब्लिक व्यू ब्युरो 1/21/2016 11:49:25 PM
img

हरिद्वार से चार आतंकी पकड़े जाने के बाद अब उत्तराखंड में स्वतंत्रता सेनानी के स्मृति पटल पर पाकिस्तान के झंडे का निशान बनाया गया है। इससे इलाके में हड़कंप का माहौल है।चाहे ये शरारत हो या साजिश, दोनों ही स्थितियों में यह चिंता पैदा करती है। खासकर देश में सुरक्षा के मौजूदा हाल और गणतंत्र दिवस के मद्देनजर मामला और भी गंभीर हो जाता है।चंपावत जिले के एक दूरस्थ गांव में बने स्वतंत्रता सेनानी स्मृति पटल पर पाकिस्तान के झंडे का निशान बनाया गया है, साथ ही मस्जिद बनी है और फारसी में कुछ शब्द लिखे गए हैं।न शब्दों का अर्थ क्या है? ये किसने लिखे और इसके लिखने का मकसद क्या है? कोई नहीं जानता। सुरक्षा एजेंसियों के लिए यह घटना फिलहाल चुनौती है।

ऐसे सवाल कि होना पड़ा शर्मिंदा,SSSC ने परीक्षा में पूछे

पब्लिक व्यू ब्युरो 1/20/2016 10:52:09 PM
img

उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग (एसएसएससी) की पहली की परीक्षा में चार सवाल गलत पूछ लिए गए। इस परीक्षा में अपनी गलती मानते हुए आयोग ने साफ कर दिया है कि इन चार सवालों के समान अंक सभी अभ्यर्थियों को दिए जाएंगे। अब अभ्यर्थी ने कोई भी जवाब भरा हो, उसे अंक जरूर मिलेंगे।एसएसएससी की समूह-ग की सहायक लेखाकार कोड-2 की परीक्षा 17 जनवरी को प्रदेशभर में आयोजित की गई थी। परीक्षा में उस वक्त अभ्यर्थी परेशान हो गए जब चार सवाल ऐसे आए, जिनके जवाब मैच नहीं कर रहे थे। मामले की जानकारी आयोग को मिली तो उसने इसकी जांच कराई।जांच में पता चला कि पहली पाली के प्रथम प्रश्नपत्र में चार सवाल ऐसे आ गए, जिनके विकल्प मैच नहीं हो रहे थे। आयोग ने हाल ही में परीक्षा की उत्तर कुंजी जारी की है।

CCTV से होगी अफसरों की निगरानी ,गणतंत्र दिवस में

पब्लिक व्यू ब्युरो 1/19/2016 10:50:24 PM
img

गणतंत्र दिवस मुख्य समारोह में अफसरों की हाजिरी सीसीटीवी कैमरों से लगेगी। समारोह में अफसर कितने वक्त मौजूद रहे, इस पर भी कैमरे की नजर रहेगी। सीसीटीवी कैमरों की फुटेज मुख्य सचिव को भेजी जाएगी। समारोह से गायब रहने वाले अफसरों से जवाब तलब किया जाएगा।दून के परेड ग्राउंड समेत अन्य जिला मुख्यालयों पर होने वाले गणतंत्र दिवस समारोहों से अक्सर तमाम अधिकारियों के नदारद रहने की शिकायत रहती है। मुख्य सचिव शत्रुघ्न सिंह ने इस प्रवृत्ति पर रोक लगाने और शत प्रतिशत मौजूदगी सुनिश्चित कराने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए हैं। सभी जिलाधिकारियों को भी यह निर्देश जारी किए गए हैं।परेड ग्राउंड में होने वाले मुख्य समारोह में सभी प्रमुख सचिव, सचिव, अपर सचिव, विभागाध्यक्षों, जिला प्रशासन के अधिकारियों को अनिवार्य रूप से शामिल होना है। जिला प्रशासन द्वारा आजकल इसकी तैयारी की जा रही है। जिलाधिकारी रविनाथ रमन ने बताया कि मुख्य सचिव की ओर से इस बारे में दिशा-निर्देश मिले हैं।परेड ग्राउंड में मुख्य समारोह के दौरान सीसीटीवी कैमरे लगाने की तैयारी पूरी कर ली गई है। सीसीटीवी कैमरों की फुटेज भी मुख्य सचिव को उपलब्ध कराई जानी है। जिलाधिकारी ने बताया कि सुरक्षा के लिहाज से भी सीसीटीवी कैमरे लगाए जाने का फायदा है।

प्रोफेसर कहलाएंगे डिग्री कॉलेजों के प्राचार्य भी

पब्लिक व्यू ब्युरो 1/15/2016 11:19:35 PM
img

डिग्री कॉलेजों के प्राचार्यों के लिए अच्छी खबर है। प्रदेश सरकार इन्हें प्रोफेसर पदनाम देने जा रही है। इस पर सरकार ने अपनी सैद्धांतिक सहमति दे दी है।उच्च शिक्षा विभाग ने मुख्यमंत्री के पास अनुमोदन के लिए यह फाइल भेजी है। वहां से हरी झंडी मिलते ही यह फैसला लागू हो जाएगा।प्रोफेसर पदनाम राजकीय महाविद्यालयों के साथ ही अशासकीय अनुदानित महाविद्यालयों के भी प्राचार्यों को दिया जाएगा। डिग्री कॉलेजों के प्राचार्यों को पहले से ही प्रोफेसर की तरह 10 हजार रुपये ग्रेड पे मिलते हैं।समान वेतन होने के बावजूद अभी इन्हें प्रोफेसर का पदनाम नहीं मिलता है। इसी को लेकर लखनऊ विवि से संबद्ध महाविद्यालय शिक्षक संघ व लखनऊ विवि से संबद्ध महाविद्यालय प्राचार्य परिषद ने भी मुख्यमंत्री से पदनाम दिए जाने की मांग की थी।

बर्फ की चादर से ढके पहाड़,उत्तराखंड पर मौसम मेहरबान,

पब्लिक व्यू ब्युरो 1/14/2016 11:28:57 PM
img

उत्तराखंड के मैदानी इलाकों में जहां मौसम में ज्यादा अंतर देखने को नहीं मिला, लेकिन पहाड़ी इलाकों में मौसम ने करवट बदली है। उधर, बृहस्पतिवार को दिन भर बादल छाए रहने के बाद भी बौछारें नहीं पड़ी। मौसम विभाग के अनुमान के मुताबिक ‌दिन भर खराब मौसम नहीं बिगड़ा। शुक्रवार को सुबह से ही धूप खिलने से बारिश की आस पर एक बार फिर पानी फिर गया।बृहस्पतिवार तड़के बदरीनाथ, हेमकुंड, नंदा घुंघटी, रुद्रनाथ के साथ ही ऊंचाई वाले इलाकों में बर्फबारी हुई। जोशीमठ में दिनभर शीतलहर का प्रकोप बना रहा। उधर, केदारनाथ में भी दिनभर घने बादल छाए रहे।बर्फीली हवा का प्रकोप तेज रहा। धाम में अधिकतम तापमान 8.4 और न्यूनतम माइनस 7.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मद्महेश्वर और तुंगनाथ घाटी के ऊपरी क्षेत्रों में भी हल्का हिमपात हुआ है।

पंतनगर एयरपोर्ट हवाई अड्डे में सुरंग खोदकर की घुसपैठ

पब्लिक व्यू ब्युरो 1/13/2016 10:39:19 PM
img

उत्तराखंड के हल्‍द्वानी स्थित पंतनगर एयरपोर्ट क्षेत्र में घुसपैठिये घुस आए हैं! ये घुसपैठिये सुरंग खोदकर एयरपोर्ट तक जा पहुंचे।यह घुसपैठिये कोई और नहीं बल्कि चीतल, जंगली सुअर से लेकर खरगोश तक हैं। जिन्होंने एयरपोर्ट अथॉरिटी को हैरान कर रखा है। इनसे छुटकारा पाने के लिए एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने वन महकमे से मदद मांगी है। वन महकमे की टीम एयरपोर्ट इलाके में इन वन्यजीवों को भगा रही है।तराई केंद्रीय वन प्रभाग ने करीब ढाई साल पहले एयरपोर्ट विस्तारीकरण के लिए 16 हेक्टेयर आरक्षित वन भूमि एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया को सौंपी। एयरपोर्ट के आसपास का काफी इलाका जंगल से जुड़ा है। जहां वन्यजीवों की भी आवाजाही है।

अब खाई में नहीं गिरेंगी चारधाम आने वाली गाड़िया

पब्लिक व्यू ब्युरो 1/12/2016 10:48:01 PM
img

अब सैलानियों के वाहनों के लिए उत्तराखंड का चारधाम रूट सुरक्षित रहेगा। समुद्र तल से हजारों मीटर ऊंचे पर्वतीय रास्तों से नीचे खाई में वाहनों के गिरने से लोगों की मौत नहीं होगी।चारधाम रूट और दूसरे पर्वतीय रास्तों को वाहनों के खाई में गिरने से सुरक्षित बनाया जा रहा है। अगर वाहन सड़क के किनारे खाई की तरफ आएगा भी तो मेटल बीम क्रैश बैरियर उसे गिरने से बचा लेगा।केंद्रीय सड़क, परिवहन एवं राष्ट्रीय राजमार्ग मंत्रालय ने पैरापिट वॉल और बीम क्रैश बैरियर बनाने की योजना को फाइनल कर दिया है। जल्दी ही ऋषिकेश-बदरीनाथ हाईवे पर काम शुरू हो जाएगा।

उत्तर भारत में बड़ा भूकंप आ सकता है,वैज्ञानिकों ने चेताया

पब्लिक व्यू ब्युरो 1/11/2016 10:05:45 PM
img

उत्तर भारत के मैदानी इलाकों में पिछले एक साल के भीतर भूकंप के कई झटके लग चुके हैं।अक्सर हिमालयन रेंज में केंद्र होने वाले इन भूकंपों को वैज्ञानिक किसी बड़े खतरे की महज एक चेतावनी मान रहे हैं।कानपुर आईआईटी में पिछले 15 साल के शोध व सर्वे तथा देहरादून स्थित वाडिया इंस्टीट्यूट की रिपोर्ट भविष्य के लिए भयानक संकेत दे रही है। आईआईटी कानपुर में हुए सर्वे के मुताबिक चंडीगढ़, पिंजौर और तकसाल कमजोर जोन हैं।भू विज्ञानी प्रो. जावेद एन मलिक ने हिमालयन श्रृंखला में भूकंप को लेकर 2001 से 2015 तक किए अपने शोध में बताया कि हिमालयन क्षेत्र का भूकंप उत्तर भारत में कई जगह तबाही ला सकता है।इस तबाही का केंद्र हिमालय श्रृंखला हो सकता है, जिसकी दूरी उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, पंजाब, हरियाणा, दिल्ली सहित अन्य राज्यों से कम है। कम दूरी पर ज्यादा नुकसान वाले इस शोध का मसौदा मिनिस्ट्री आफ अर्थ साइंस को भेजा गया है।

परवान चढ़ा प्यार धुनाई के बाद नहीं उतरा प्यार का भूत

पब्लिक व्यू ब्युरो 1/10/2016 11:26:50 PM
img

रुड़की में गंगनहर कोतवाली क्षेत्र के दो गांवों की प्रेम कहानी में प्रेमी की धुनाई के बाद तकरार इस कदर बढ़ी कि उसने प्रेमिका को अपनाने से इनकार कर दिया। बाद में जिम्मेदार लोगों ने बीच बचाव कराया। दोनों परिवारों की रजामंदी से दोनों का निकाह करा दिया गया। कोतवाली क्षेत्र के एक गांव के युवक का दूसरे गांव की युवती से प्रेम प्रसंग चल रहा था। शनिवार को प्रेमिका से मिलने पहुंचे युवक को गांव के लड़कों ने दबोच लिया था। जिसके बाद परिजनों और ग्रामीणों ने उसकी जमकर धुनाई कर दी थी।

इन युवाओं ने लहराया उत्तराखंड का परचम CAT रिजल्ट में

पब्लिक व्यू ब्युरो 1/10/2016 10:21:57 PM
img

प्रबंधन की सबसे बड़ी प्रवेश परीक्षा कॉमन एडमिशन टेस्ट(कैट) के नतीजे शुक्रवार को जारी हो गए। परीक्षा में प्रदेश के होनहारों ने अपनी प्रतिभा से झंडा बुलंद किया है। इस बार खास बात यह रही कि टॉप स्कोरर में उत्तराखंड के दो युवा ऐसे हैं, जो कि गैर आईआईटीयन हैं। आईआईटी रुड़की में केमिकल इंजीनियरिंग के छात्र निश्चय बुद्धिराजा ने कैट में सर्वाधिक 100 परसेंटाइल हासिल की है। मूल रूप से दिल्ली निवासी निश्चय ने बताया कि वह भले ही आईआईटी आ गए हों, लेकिन उनकी रुचि एमबीए के लिए आईआईएम जाने की थी।

नगर निगम पूरा करेगा घर का सपना

पब्लिक व्यू ब्युरो 1/8/2016 3:50:43 AM
img

आवासहीन लोगों के लिए नव वर्ष (2016) अच्छी खबर लेकर आया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की 25 जून को घोषित हाउसिंग फॉर आल (सबके लिए आवास) योजना के पात्र लोगों को लाभान्वित करने के लिए नगर निगम ने तैयारियां पूरी कर ली हैं। इसके तहत आप अपने टूटे-फूटे पुराने घर को तोड़कर दोबारा बनाने, स्लम बस्ती को पुनर्विकसित कराने, भूमि है पर मकान बनाने के लिए पैसा नहीं है और किराये पर रह रहे हैं तो हाउसिंग फॉर आल के तहत 6 लाख रुपये तक का ऋण बैंक से दिलाया जाएगा। इस पर 6.5 प्रतिशत सब्सिडी दी जाएगी।

उत्तराखंड में परिंदों की खूबसूरत दुनिया, तस्वीरें

पब्लिक व्यू ब्युरो 1/4/2016 10:34:30 PM
img

उत्तराखंड के प्राकृत‌िक आवास में तमाम जीव-जंतुओं के साथ परिंदों की भी खूबसूरत दुनिया बसती है।इसे भला कौन नहीं पहचानता। उत्तराखंड के राज्य पक्षी मोनाल की खूबसूरती देखते ही बनती है।

डांस देख कहेंगे वाह केदारनाथ पहुंच CM ने मनाया नया साल

पब्लिक व्यू ब्युरो 1/4/2016 10:07:38 PM
img

मुख्यमंत्री हरीश रावत नए साल का जश्न मनाने केदारनाथ पहुंचे तो कुछ अलग ही अंदाज में नजर आए।मुख्यमंत्री हरीश रावत शुक्रवार को प्रात: 11.23 मिनट पर हेलीकाप्टर से केदारनाथ पहुंचे।मुख्यमंत्री निम, पुलिस और एसडीआरएफ के जवानों के अलावा पुनर्निर्माण में जुटे मजदूरों से मिले और उनके कार्य कौशल की सराहना की। इस दौरान उन्होंने गर्म कपड़े और मिष्ठान भी वितरित किया।

नहीं दिख रहे हैं मंत्री उत्तराखंड की वन मैन सरकार

पब्लिक व्यू ब्युरो 1/2/2016 1:09:07 AM
img

उत्तराखंड का मुख्यमंत्री कौन? हरीश रावत, समाज कल्याण मंत्री? हरीश रावत, शिक्षामंत्री? हरीश रावत...यानी कोई भी विभाग हो या विषय, जवाब में बस एक ही चेहरा हरीश रावत नजर आ रहा है। कुछ मंत्री इसे कार्यक्षेत्र में मुख्यमंत्री की दखलअंदाजी मान रहे हैं पर औपचारिक रूप से स्वीकार करने को कोई नहीं तैयार। राजनीतिक गलियारा हो या प्रशासनिक हलका, पिछले कुछ समय से बस एक ही चर्चा है कि यहां तो पूरी तरह वन मैन शो हो गया है।

उत्तराखंड में दलितों के उत्पीड़न का मामला PMO पहुंचा

पब्लिक व्यू ब्युरो 1/2/2016 12:39:29 AM
img

उत्तराखंड की राजधानी देहरादून से सटे जौनसार बावर क्षेत्र में दलितों के उत्पीड़न का मामला पीएमओ तक पहुंच गया है। सांसद तरुण विजय की अगुवाई में दलितों का एक प्रतिनिधिमंडल बुधवार को पीएमओ में केंद्रीय मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह से मिला और सुरक्षा की गुहार लगाते हुए पूरे प्रकरण की उच्च स्तरीय जांच कराने की मांग की।

नए साल में आने वाले ये महंगे बदलाव जानिए जश्न के बाद

पब्लिक व्यू ब्युरो 12/31/2015 11:38:34 PM
img

वर्ष 2016 की शुरुआत कन्या लग्न में हो रही है। कन्या लग्न में राहु बैठा होने से जहां राजनितिक अस्थिरता रहेगी पार्टियों में टकराव रहेगा वहीं आम लोगों को महंगाई की मार झेलनी पड़ेगी। इस बार अंग्रेजी और हिंदू दोनों ही कैलेंडरों के हिसाब से वर्ष का राजा शुक्र रहेगा।वर्ष 2016 की शुरुआत सप्तमी तिथि में होगी। इस दिन उत्तरा फाल्गुनी नक्षत्र है। सौभाग्य योग है। दिन शुक्रवार है। वर्ष 2016 के और हिंदू कैलेंडर के अनुसार संवत 2073 के पहले दिन शुक्र है। दोनों ही हिसाब से वर्ष का राजा शुक्र है। इस साल कन्या लग्न में नव वर्ष की शुरुआत हो रही है।ज्योतिषियों के अनुसार शुक्र होने से तो अच्छे प्रभाव रहेंगे लेकिन कन्या लग्न में राहु का बैठना अच्छा नहीं रहेगा। क्या कहते हैं ज्योतिष जानते हैं उन्हीं की जुबानी। उत्तराखंड विद्वत सभा के पूर्व उपाध्यक्ष आचार्य भरत राम तिवारी के अनुसार राहु के होने से राजनीतिक दलों में मतभेद रहेगा। पार्टियों में टकराव की स्थिति बन सकती है। सरकार नवीन योजनाएं बनाएगी।नवग्रह शनि मंदिर के पंडित आचार्य सुशांत राज के अनुसार वर्ष 2016 का पूर्णांक 9 है। 9 अंक का प्रतिनिधित्व मंगल करता है। मंगल के कारण जनधन की हानि, अतिवृष्टि, भूकंप, आपदा आदि का योग बनता है। गीता भवन के पंडित भगवती प्रसाद थपलियाल के अनुसार इस वर्ष आम लोगों को महंगाई से जूझना पड़ेगा। सरकार के प्रति जनता में रोष रहेगा। लोगों में असंतोष की भावना रहेगी।

उत्तराखंड के इस लाल को मिलेगा अब्दुल कलाम अवॉर्ड

पब्लिक व्यू ब्युरो 12/30/2015 10:31:45 PM
img

बीते 26 जनवरी को प्रधानमंत्री द्वारा वीरता पुरस्कार से सम्मानित उत्तराखंड के बेटे को अब डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम अवॉर्ड 2015 से सम्मानित किया जाएगा।तीर्थनगरी ऋषिकेश के चंद्रेश्वरनगर निवासी युवा पहलवान लाभांशु शर्मा को क्लीन, ग्रीन, हेल्दी एंड एजुकेटेड इंडिया ने डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम अवॉर्ड 2015 के लिए चयनित किया है।लाभांशु को यह सम्मान 17 जनवरी 2016 को कांस्टीट्यूशन क्लब ऑफ इंडिया, नई दिल्ली में दिया जाएगा। संस्था ने इस अवार्ड के लिए देशभर से 21 लोगों का चयन किया है, जिसमें उत्तराखंड के लाभांशु का नाम भी शामिल है।गौरतलब है कि तैराकी में माहिर पहलवान लाभांशु शर्मा ने 24 मई 2014 को ऋषिकेश बैराज स्थित चीला शक्ति नहर में दिल्ली के दो पर्यटकों को डूबने से बचाया था। दो लोगों को जीवन देने वाले लाभांशु को इस अदम्य साहस के लिए इसी साल गणतंत्र दिवस पर वीरता पुरस्कार से भी नवाजा जा चुका है।

अब खैर नहीं गंगा में गंदगी उड़ेलने वालों की

पब्लिक व्यू ब्युरो 12/29/2015 10:33:29 PM
img

गंगा में बिना ट्रीट किए सीवरेज छोड़ने वाले संस्थानों के खिलाफ उत्तराखंड प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने नोटिस जारी कर दिए हैं। उद्योगों, आश्रमों और धर्मशालाओं से नोटिस में कहा गया है कि किसी हाल में गंगा में सीवरेज न डालें।हरिद्वार स्थित धर्मशालाओं और आश्रमों को हिदायत दी गई है कि सीवरेज जल निगम के सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट में पहुंचाएं। प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने संस्थानों को सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट की व्यवस्था करने के लिए एक महीने का समय दिया है।निर्माण कार्यों का मलबा गंगा में गिराने पर 15 जल विद्युत परियोजनाओं को भी नोटिस जारी किया गया है। कई इन परियोजनाओं की आवासीय कॉलोनियों का सीवरेज भी गंगा में डाला जा रहा है। परियोजनाओं को व्यवस्था दुरुस्त करने के लिए तीन महीने का समय दिया गया है। इसके अलावा हरिद्वार के आठ आश्रमों और धर्मशालाओं को नोटिस जारी कर सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट लगाने का निर्देश दिया गया है।बिना ट्रीटमेंट सीवरेज डालने पर होगी कार्रवाईरुड़की समेत दो बायो मेडिकल वेस्ट ट्रीटमेंट प्लांटों को केंद्र सरकार से पर्यावरण स्वीकृति प्राप्त करने के लिए कहा गया है। नेशनल ग्रीन ट्रिब्युनल ने 10 दिसंबर को निर्देश जारी किए थे कि गंगा में बिना ट्रीटमेंट सीवरेज डालने वाले संस्थानों के खिलाफ कार्रवाई की जाए। इसके बाद ट्रिब्युनल की चैंबर मीटिंग में भी निर्देशों पर अमल शुरू करने के लिए शासन को हिदायत दी गई थी।

अब छह साल में बनें ग्रेजुएट और पांच साल में पोस्ट गेजुएट

पब्लिक व्यू ब्युरो 12/28/2015 10:15:36 PM
img

केंद्रीय गढ़वाल विश्वविद्यालय और इससे संबद्ध संस्थानों के छात्रों के लिए अच्छी खबर है। अब विश्वविद्यालय से किसी कारणवश निर्धारित समयावधि में डिग्री कोर्स पूरा न करने वाले छात्र को तीन वर्ष अतिरिक्त मिलेंगे।इसमें दो वर्ष यूजीसी और एक वर्ष का अतिरिक्त समय विवि विशेष परिस्थितियों में देगा।केंद्रीय विवि के छात्रों को अब किसी भी डिग्री पाठ्यक्रम को पास करने के लिए नियत समयावधि के अलावा तीन साल और मिल सकते हैं। इस संबंध में विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) ने विवि को पत्र भेजा है। पत्र में कहा गया है कि छात्र को डिग्री पाठ्यक्रम पूरा करने के लिए नियत समयावधि के अलावा दो वर्ष यूजीसी की ओर से दिए जाएंगे, जबकि एक वर्ष विवि छात्र को अपनी ओर से दे सकता है।इसके लिए छात्र को विषम परिस्थितियों के साक्ष्य विवि को देने होंगे। गढ़वाल विवि के परीक्षा नियंत्रक प्रो. केडी पुरोहित ने बताया कि विवि की ओर से छात्र को देने वाले अतिरिक्त एक वर्ष की सुविधा के लिए विवि को अध्यादेश में बदलाव करना पड़ेगा। विवि को यह प्रस्ताव शैक्षणिक परिषद में रखना होगा।

तस्वीरों में देखिए, देवभूमि का 200 साल पुराना शहर जो है झील के अंदर

पब्लिक व्यू ब्युरो 12/27/2015 10:52:30 PM
img

वर्ष 1815 से पहले धुनारों की बस्ती में जब 28 दिसंबर 1815 को टिहरी बसाई गई थी तो तत्कालीन राजपुरोहित ने इस शहर की उम्र दो सौ वर्ष से कम बताई थी।तब किसी को शायद ही यकीन आया होगा कि वास्तव में यह शहर दो सौ वर्ष से पहले ही जल समाधि लेकर हमेशा-हमेशा के लिए डूब जाएगा।अपने स्थापना के 90 वर्ष बाद 29 अक्तूबर 2005 को उत्तराखंड में बसा खूबसूरत टिहरी शहर डूब गया। हालांकि इस शहर में पले-बढ़े और पैदा हुए लोग टिहरी को किसी न किसी रूप में जिंदा रखने के लिए प्रयासरत रहते हैं। वे टिहरी के डूबने को एक भूगोल भर का डूबना मानते हैं। कहते हैं टिहरी लोगों के दिलों में धड़कता रहेगा। जहां कहीं भी टिहरी के लोग होंगे, उनमें टिहरी मौजूद रहेगा।टिहरी के राजाओं की लंबे समय तक टिहरी शहर राजधानी रहा। बाद के वर्षों में प्रताप शाह ने ग्रीष्मकालीन राजधानी के रूप में प्रतापनगर और कीर्तिशाह ने कीर्तिनगर बसाया। जबकि ज्योतिषियों के कहने पर 1919 में नरेंद्र शाह ने नरेंद्रनगर बसाकर पूरी तरह राजधानी वहां शिफ्ट की।

उत्तराखंड, मौसम में बढ़ी ठिठुरन, 72 घंटे शीतलहर की चेतावनी

पब्लिक व्यू ब्युरो 12/23/2015 11:23:26 PM
img

उत्तराखंड मौसम विभाग ने पूरे प्रदेश में आगामी 72 घंटे शीतलहर की चेतावनी जारी की है।इस दौरान मौसम शुष्क रहेगा लेकिन, कोहरा और पाला लोगों की मुसीबत बढ़ा सकता है। हालांकि गुरुवार को सुबह से ही चटख धूप खिली रही।प्रदेशभर में बुधवार को मौसम शुष्क रहा। राजधानी में दोपहर तक धूप खिलने के बाद बादल आने और हल्की हवाएं चलने से शाम को ठिठुरन बढ़ गई। सुबह को 8:30 बजे तापमान 6.6 डिग्री था जो कि दिन में केवल 18.3 डिग्री तक ही चढ़ पाया।शाम को दोबारा तापमान नीचे आ गया। मौसम विभाग के निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि प्रदेश में फिलहाल कहीं भी बारिश के आसार नहीं हैं, लेकिन ठंडी हवाओं की वजह से ठिठुरन बढ़ जाएगी। उन्होंने चेतावनी जारी की है कि आगामी 72 घंटे प्रदेशभर में शीतलहर का प्रकोप रहेगा। रात को पाला पड़ने पर तापमान पांच डिग्री से नीचे भी जा सकता है।

उत्तराखंड में अब भी 5700 से अधिक लापता : बहुगुणा

पब्लिक व्यू ब्युरो 12/23/2015 2:32:18 AM
img

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा ने सोमवार को कहा कि राज्य में पिछले महीने भारी वर्षा, भूस्खलन और बाढ़ के कारण अब भी 5,700 से अधिक लोग लापता हैं।बहुगुणा ने संवाददाताओं से कहा, "बाढ़ के कारण अब भी 5,748 लोग लापता हैं, जिनमें दूसरे राज्यों से आए पर्यटक एवं श्रद्धालु भी शामिल हैं।उन्होंने कहा, राज्य मंत्रिमंडल ने उन परिवारों को आर्थिक सहायता देने का निर्णय लिया है, जिनके सदस्य अब भी लापता हैं। सहायता राशि का वितरण मंगलवार से शुरू होगा।

केदारनाथ मंदिर में 11 सितंबर से शुरू होगी पूजा

पब्लिक व्यू ब्युरो 12/23/2015 2:28:13 AM
img

उत्तराखंड में बाढ़ की चपेट में आए केदारनाथ मंदिर में 11 सितम्बर से परम्परागत पूजा शुरू हो जाएगी। अधिकारियों ने शुक्रवार को यह जानकारी दी।मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा व मंदिर की देखरेख करने वाली केदारनाथ मंदिर समिति के अधिकारियों की एक उच्च-स्तरीय बैठक के बाद पूजा की तारीख निर्धारित की गई है।

SSP नैनीताल स्वीटी को मिली हाईकोर्ट से राहत

पब्लिक व्यू ब्युरो 12/23/2015 1:01:21 AM
img

हाईकोर्ट में एसएसपी नैनीताल स्वीटी अग्रवाल की याचिका पर उत्तराखंड सरकार की ओर से राज्यपाल के आदेश पर उनकी पत्रावली में रखे गए मिसकंडक्ट संबंधी पत्र को हटा लेने इसे दंड न मानने तथा इस पत्र का उनके सेवाकाल में कोई संज्ञान न लेने के सरकार के आश्वासन के बाद याचिका निस्तारित हो गई।राज्यपाल के आदेश को किसी अधिकारी की ओर से हाईकोर्ट में चुनौती देने के प्रदेश के पहले मामले की मुख्य न्यायाधीश केएम जोसेफ एवं न्यायमूर्ति वीके बिष्ट की संयुक्त खंडपीठ के समक्ष सुनवाई हुई।मामले के अनुसार हरिद्वार विधानसभा के उप चुनाव का परिणाम घोषित होने के समय विधायक ममता राकेश को प्रशासन की ओर से प्रमाण पत्र देते समय तत्कालीन एसएसपी हरिद्वार स्वीटी की फोटो भी विजयी प्रत्याशी के साथ समाचार पत्र में प्रकाशित हुई थी जिसका संज्ञान लेकर राज्यपाल केके पॉल ने मुख्य सचिव को इसे मिसकंडक्ट मानते हुए उन पर कार्रवाई के निर्देश दिए थे।

हरिद्वार पंचायत चुनावः शांतिपूर्ण संपन्न हुआ पहला चरण

पब्लिक व्यू लखनऊ ब्युरो 12/21/2015 11:08:16 PM
img

हरिद्वार जिले में त्रिस्तरीय पंचायत के पहले चरण का चुनाव कई पोलिंग बूथों पर मामूली नोकझोंक के साथ लक्सर और खानपुर ब्लॉक में शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न हो गया।दोनों ब्‍लॉकों में मतदाताओं ने उत्साह दिखाया। लक्सर ब्लॉक के 71 मतदान केंद्रों पर 89 प्रतिशत और खानपुर ब्लॉक के 29 मतदान केंद्रों पर 91 प्रतिशत वोट डाले गए। चुनाव के दौरान पुलिस प्रशासन की ओर से चाक चौबंद व्यवस्था के कड़े इंतजाम किए गए थे।जिले में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के पहले चरण का मतदान सोमवार को लक्सर और खानपुर ब्लॉक में हुआ। इस दौरान युवाओं से लेकर वृद्ध महिलाओं और पुरुषों ने भी भारी उत्साह दिखाया।लक्सर ब्लॉक में चुनाव के लिए 71 मतदान केंद्रों पर 207 पोलिंग बूथ बनाए गए थे। यहां कुल मतदाताओं की संख्या 1,14,711 थी। रात तक चले मतदान के दौरान इनमें से 1,02,092 वोटर्स ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। यहां मतदान का प्रतिशत 89 रहा।जबकि खानपुर ब्लॉक में चुनाव के लिए 29 मतदान केंद्रों पर 66 पोलिंग बूथ बनाए गए थे। यहां कुल 35962 मतदाताओं में से 32725 लोग मतदान करने पहुंचे। यहां मतदान का प्रतिशत 91 रहा।मतदान के दौरान जिलाधिकारी हरबंश सिंह चुघ, एसएसपी सैंथिल अबुदई कृष्णराज एस के अलावा एडीएम, सीडीओ, एसपी सीटी व एसपी देहात ने भी केंद्रों का दौरा कर व्यवस्थाओं का जायजा लिया। चुनाव अधिकारी मोहित चौधरी ने बताया कि दोनों ब्लॉकों में मतदान शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न हुआ।

हरिद्वार में आतंक का साया,ISI एजेंट इजाज

पब्लिक व्यू, ब्यूरो 12/7/2015 5:49:08 AM
img

अर्द्धकुंभ में आतंकियों की नजर है। हरिद्वार अर्द्धकुंभ के बारे में आतंकियों ने काफी जानकारियों जुटाई हैं। आतंकी बड़ी वारदात को अंजाम देने की फिराक में लगे हैं। आईएसआई एजेंट यूपी के मेरठ निवासी इजाज अली से पूछताछ करने मेरठ गई एसटीएफ देहरादून को शनिवार को यह खुफिया जानकारी आतंकी ने दी है। बता दें सितंबर महीने में आईएसआई एजेंट इजाज अली को दबोचा गया था। पूछताछ के लिए मेरठ गई देहरादून एसटीएफ की एक टीम को पूछताछ में आतंकी ने खुफिया जानकारी दी। एसटीएफ यह जानकारी जुटा रही है कि आतंकी अर्द्धकुंभ में किस तरह की वारदात को अंजाम देना चाहते हैं। सूत्रों का कहना है कि इजाज ने पूछताछ में हरिद्वार अर्द्धकुंभ की जानकारी एसटीएफ को दी है। दून एसटीएफ की टीम ने मेरठ एसटीएफ के अधिकारियों से भी आतंकी से अब तक मिली जानकारियों को भी जुटा रही है।मेरठ से जासूसी के आरोप में गिरफ्तार आईएसआई एजेंट इजाज का मकसद यूपी और उत्तराखंड में तबाही मचाना था। इन प्रदेशों में तबाही मचाने के बाद वह स्लीपिंग माड्यूल के सहारे उत्तराखंड सीमा से नेपाल भागने की फिराक में था। उसने नेपाल के तराई इलाके को भागने के लिए सेफ जोन बनाया था। नेपाल में आईएसआई की मदद करने के लिए दाऊद इब्राहिम कासकर ग्रुप तैयार बैठा है। आईबी को यह इनपुट मिलने के बाद उनकी टीमें नेपाल में बैठे इजाज के साथियों और दाऊद ग्रुप (डी ग्रुप) के लोगों का मकसद भांपने में लगी हैं। इजाज ने सुरक्षा एजेंसियों के समक्ष खुलासा कर दिया है कि उसके रिश्ते पाकिस्तान में दाऊद के रिश्तेदार और प्रसिद्ध पाक क्रिकेटर शाहिद आफरीदी से भी है। इजाज के भाई फहद की तस्वीरें भी क्रिकेटर के साथ सुरक्षा अधिकारियों ने देखा है। सुरक्षा एजेंसियां यह पता लगाने का प्रयास कर रही है कि नेपाल में इजाज के कौन-कौन से लोग हैं। क्योंकि नेपाल दाऊद और आतंकियों के लिए वर्तमान समय में सबसे महफूज ठिकाना हो गया है। पहले भी पूर्वांचल से फरार 10 आतंकियों को आईएसआई ने नेपाल में ही रखा था।सुरक्षा एजेंसियों का मानना है कि पश्चिमी बंगाल की सीमा घुसने के लिए आसान है तो नेपाल भागने के लिए। आईएसआई का सहयोगी डी ग्रुप नकली नोटों और अपने आपराधिक कृत्यों के चलते यूपी, मुंबई दिल्ली, बिहार और उत्तराखंड में अपने जड़े जमाए हैं। उत्तराखंड में डी ग्रुप अपने नेटवर्क के जरिये नकली नोटों का कारोबार का कारोबार फैलाए हैं। पिछले दिनों अंबाला (पंजाब) में पकड़े गए जाली नोट के सौदागरों ने एनआईए (नेशनल इंवेस्टिगेशन एजेंसी) के समक्ष इस तथ्य की पुष्टि कर दी है। आईएसआई ने अपने नेटवर्क को फैलाने के लिए पश्चिमी उत्तर प्रदेश से लेकर नेपाल तक स्लीपिंग माड्यूल तैयार कर रखा है जो समय-समय पर उसकी मदद करते रहते हैं। पता चला है कि ढाका (बांग्लादेश) में अड्डा जमाए आईएसआई एजेंट शमीम ने इजाज को बार्डर पार कराया था। सुरक्षा एजेंसियों के मुताबिक आईएसआई और आतंकियों के मददगार को स्लीपिंग माड्यूल कहलाते हैं। इनका काम एजेंटों को रास्ते दिखाना और उनके लिए आर्थिक मदद पहुंचाना होता है। स्लीपिंग माड्यूल हमेशा सक्रिय नहीं रहते हैं। कुमाऊं रेंज में आईएसआई एजेंट इजाज नहीं आया था, लेकिन संदिग्धों की तलाश करने के लिए ऊधमसिंह नगर समेत सभी जिलों की पुलिस को अलर्ट कर दिया गया है। इस मामले में स्थानीय खुफिया एजेंसी भी जांच कर रही है।

वर्तमान समय में किसान संकट की स्थिति में है और उसे मदद की आवश्यक्ता है: राज्य कृषि मंत्री संजीव कुमार

पब्लिक व्यू, ब्यूरो 12/7/2015 5:47:40 AM
img

गो0ब0पंत कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के गांधी हाल में राज्य कृषि मंत्री डा0 संजीव कुमार वालियान विश्व मृदा स्वास्थ्य दिवस के अवसर पर कृषि विभाग के तत्वाधान में आयोजित राज्य स्तरीय कार्यक्रम में कहा की वर्तमान समय में किसान संकट की स्थिति में है और उसे मदद की आवश्यक्ता है। उन्होंने कहा कि किसानों को संकट से उबारने के लिए केन्द्र सरकार हर सम्भव प्रयास करेगी। यदि प्रदेश सरकार की ओर से गो0ब0पंत कृषि एवं प्रौद्योगिक विश्वविद्यालय को केन्द्रीय विश्वविद्यालय बनाने का प्रस्ताव आता है तो इस पर गहनता से विचार किया जायेगा। मृदा के स्वास्थ्य को बनाये रखने के लिए आवश्यक है कि हर किसान के पास मृदा स्वास्थ्य कार्ड हो और मिट्टी की जांच करने के बाद आवश्यक तत्वों की कमी को दूर करते हुए किसान खेती करें। किसानों को भूमि संरक्षण के बारे में सोचना होगा और फसल उत्पादन के लिए रासायनिक खाद के अत्यधिक उपयोग को कम करना होगा। मृदा स्वास्थ्य दिवस के अवसर पर मंत्री हरक सिंह रावत ने किसानों का आह्वान किया कि हमारे द्वारा पर्यावरण, वन्य जीवएमानव स्वास्थ्य आदि के संरक्षण के बारे में तो प्रयास किये जा रहे हैं किन्तु अब हमें मृदा संरक्षण के बारे में सोचना होगा। यदि मृदा का स्वास्थ्य ठीक रहेगा तभी इस धरती पर रहने वाले जीवों का स्वास्थ्य ठीक रहेगा। उन्होंने कहा कि इस समय हमारे सामने दो चुनौतियां है| एक बढती आबादी को पेटभर भोजन उपलब्ध कराना, दूसरी फसल उत्पादन के लिये रासायनिक खाद के प्रयोग को किस प्रकार कम किया जाये। उन्होंने कहा कि उत्पादन भी न घटे और भूमि का स्वास्थ्य भी अच्छा रहे इस संतुलन को बनाने के लिये विश्वविद्यालय के कृषि वैज्ञानिकों को प्रयास करने होगें। उन्होने कहा कि जिस प्रकार कश्मीर की पहचान अखरोट से व हिमांचल की पहचान सेब से है उसी प्रकार उत्तराखण्ड भी ग्रीन टी व फलोत्पादन में अपनी देश में अलग पहचान बनायेगा। उन्होंने कहा कि इस हेतु पर्वतीय क्षेत्र के लिए ऑर्गेनिक खेती की नीति बनाई गई है। उन्होंने कहा कि किसानों के लिये बजट की कमी नहीं रहने दी जायेगी। मंत्री हरक सिंह रावत ने तराई के किसानो को उन्नत किस्म के बीज उत्पादित करने के लिये बधाई दी। उन्होंने कहा कि 2017 तक प्रदेश में सभी किसानो को मृदा स्वास्थ्य कार्ड उपलब्ध करा दिये जायेगें।

इन्दिरा ने ग्रहण करायी सैंकड़ों युवाओ को कांग्रेस की सदस्यता

पब्लिक व्यू, ब्यूरो 12/7/2015 5:46:19 AM
img

प्रदेश की वित्त मंत्री ड़ॉ इन्दिरा हृदयेश ने सैकड़ों युवाओं को कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण करायी, जिसमें छात्रसंघ और पीएचडी धारक युवाओ ने पुष्कर बिष्ट के नेतृत्व में वरिष्ठ कांग्रेसीयों की उपस्थिति में हल्द्वानी कांग्रेस कार्यालय स्वराज भवन में पार्टी की सदस्यता ग्रहण की।वहीं ड़ॉ इन्दिरा ने पार्टी में शामिल हुए सभी नये युवाओं को शुभकामनाऐं दी। अपने सम्बोधन में डा0 हृदयेश ने कहा कि युवा शक्ति के विकास की परम्परा कांग्रेस के साथ है। उन्होने कहा की युवा कांग्रेसी प्रधानमंत्री स्व0 राजीव गांधी ने 21वीं सदी के भारत निर्माण का जो सपना देखा था। उसकी शुरूवात स्व0 राजीव गांधी द्वारा ही की गयी थी। आज का भारत पूरी तरह कम्प्यूटरीकृत एवं इंटरनेट से जुड चुका है। कांग्रेस ने विकास की परम्पराओं को कायम रखा है। कांग्रेस ने हर वर्ग समाज, धर्म के लोगों के विकास एवं विश्वास की परम्परा रखी है। पुष्कर बिष्ट के नेतृत्व में सत्येन्द्र पुनेठा, हरीश बिष्ट, अमित पाण्डे, हरीश कार्की, हिमांशु सिह, अजय डोगरा, मिम्मी जीना, गोलू, जितेन्द्र बिष्ट, निशान्त सिह, देवेश जीना, गौरव टम्टा, सानू रावत, पुष्कर सैलाल, राम कठैत, चन्द्र मोहन गुरूरानी, मनीष जोशी, मोहित बगडवाल, प्रभात पाण्डे, विनीत पंत, जीवन पाण्डे आदि ने कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण की।इस अवसर पर हरीश मेहता, राजेन्द्र सिह नेगी,हेमन्त बगडवाल, सुमित हृदयेश, जसदीप चडडा, प्रमोद भटट, विपिन सनवाल, पुष्कर बिष्ट, मयंक भटट, राहुल छिमवाल, गोविन्द बगडवाल, लीला काण्डपाल, सहित अनेक युवा उपस्थित थे।

Advertisement

img
img