शहर में चोरों का आतंक, चार दुकानों पर बोला धावा

पब्लिक व्यू ब्युरो 5/1/2016 10:59:31 PM
img

रात्रि मे ंचोरों ने शहर की चार दुकानों पर धावा बोलकर लाखों रूपये के माल की चोरी कर ली। कृष्णानगर स्थित एलजी शाॅपी के शोरूम में बीती रात छत काटकर चोर लाखों रूपये मूल्य के इलैक्ट्राॅनिक सामान चोरी कर ले गये। चोरी की इस घटना से व्यापारियों में रोष है। शोरूम से कुछ दूरी पर ही कृष्णानगर पुलिस चैकी है। ऐसे स्थल पर चोरी से आमजन पुलिस भूमिका पर सवाल खड़े कर रहा है। मिली जानकारी के अनुसार कृष्णानगर पुलिस चैकी के पास मुकेश सिंघल की एलजी शाॅपी के नाम से दुकान है। इसमें एलईडी, डीवीडी, होम थिएटर व अन्य इलैक्ट्राॅनिक सामानों की बिक्री होती है। कल वे अपनी दुकान को बंद कर घर गये थे। आज पता चला कि पीछे से छत काटकर चोरों ने दुकान में प्रवेश किया और लाखों रूपये मूल्य के एलईडी, होम थिएटर और डीवीडी प्लेयर व दुकान में मौजूद कुछ नगदी और अन्य सामान चुराकर ले गये। दुकान स्वामी ने बताया कि उनके शोरूम में लगे सीसीटीवी कैमरे तो लगे हैं लेकिन घटना की रिकाॅर्डिंग उनमें नहीं हो पायी। कुछ टाॅर्च की रोशनी जरूर सामने आयी है जिससे पता लगता है कि रात्रि के करीब एक-डेढ बजे के करीब चोरों ने शोरूम में प्रवेश किया। चोरी की घटना के बाद एसपी सिटी मुकुल द्विवेदी, इलाका पुलिस और कांग्रेस के प्रदेश महासचिव मलिक अरोड़ा घटनास्थल पर पंहुचे और चोरी की घटना का खुलासा करने का आग्रह पुलिस अधिकारियों से किया। चोरी गये माल की कीमत 8 से 10 लाख रूपये बतायी गयी है। वहीं भरतपुर क्षेत्र में अनिल कुमार और बुलाखीदास की गोपालदास बुलाखीदास के नाम से मार्बल, टाइल्स की दो दुकानें हैं। बताते हैं कल रात्रि दुकानें बंद कर दोनो व्यापारी गये थे जिसके बाद देर रात्रि चोरों ने दोनों दुकानों पर धावा बोल दिया। बताते हैं कि चोर दुकान में रखे सामान को तो नहीं ले गये लेकिन दोनों दुकानों के गल्ले से नगदी चुराकर ले गये। अनिल कुमार की दुकान से चोरों ने 51 हजार रूपये की नगदी और बुलाखीदास की दुकान से 1 लाख 10 हजार रूपये नगदी चोरी कर ली और फरार हो गये। घटना की सूचना मिलने पर दोनों दुकानदार दुकान पंहुचे तब घटना की जानकारी हो सकी। एक अन्य घटना मे शहर के जनरलगंज क्षेत्र स्थित गली भगत सिंह में मुकेश सैनी की मोबाइल की दुकान है। कल रात्रि अज्ञात चोरों ने शटर तोड़कर हजारों रूपये कीमत के मोबाइल और करीब पांच-छह हजार रूपये की नगदी पर हाथ साफ कर दिया।

Advertisement

img
img