कामयाब रहे रोहित और धवन जगह बचाने में,टीम इंडिया का ऐलान

पब्लिक व्यू 1/1/1900 12:00:00 AM
img

टीम इंडिया का घरेलू क्रिकेट सीजन न्यूजीलैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज से शुरू होने जा रहा है। न्यूजीलैंड की टीम कुछ दिनों में भारत के दौरे पर आने वाली है। दोनों के बीच सीरीज का पहला मैच 22 सितंबर से शुरू होगा।इस सीरीज के लिए आज टीम इंडिया का ऐलान कर दिया गया है जिसमें रोहित शर्मा एक बार फिर अपनी जगह बचाने में सफल रहे हैं। मुंबई में टीम के चयन को लेकर हुई बैठक में चयनकर्ताओं के अलावा टेस्ट कप्तान विराट कोहली और कोच अनिल कुंबले ने भी हिस्सा लिया। 3 मैचों की सीरीज के लिए 15 सदस्यीय टीम की घोषणा मुख्य चयनकर्ता संदीप पाटिल ने की। हालांकि टीम में कोई खास बदलाव नहीं किया गया है। वेस्टइंडीज दौरे पर गई टीम इंडिया को ही इस सीरीज के लिए कायम रखा गया है। पिछले दौरे से सिर्फ 2 खिलाड़ियों को बाहर किया गया है। साथ ही टीम में कोई नया चेहरा इस बार शामिल नहीं किया गया है।मुंबई में टीम के चयन को लेकर हुई बैठक में चयनकर्ताओं के अलावा टेस्ट कप्तान विराट कोहली और कोच अनिल कुंबले ने भी हिस्सा लिया। 3 मैचों की सीरीज के लिए 15 सदस्यीय टीम की घोषणा मुख्य चयनकर्ता संदीप पाटिल ने की। हालांकि टीम में कोई खास बदलाव नहीं किया गया है। वेस्टइंडीज दौरे पर गई टीम इंडिया को ही इस सीरीज के लिए कायम रखा गया है। पिछले दौरे से सिर्फ 2 खिलाड़ियों को बाहर किया गया है। साथ ही टीम में कोई नया चेहरा इस बार शामिल नहीं किया गया है। संदीप पाटिल की अगुआई में चयनकर्ताओं ने कप्तान विराट कोहली और कोच अनिल कुंबले के साथ रोहित शर्मा के चयन को लेकर गहन विचार-विमर्श किया और फिर उन्हें इस बार मौका देने का फैसला लिया गया। हालांकि वनडे स्पेशलिस्ट रोहित का प्रदर्शन टेस्ट मैचों में अपेक्षाकृत बेहतर नहीं रहा। वो बात अलग है कि टेस्ट मैचों में खराब फॉर्म के बावजूद कप्तान कोहली उन पर भरोसा करते हैं। कोहली का मानना है कि वनडे के बेहतरीन बल्लेबाज को टेस्ट प्रारूप में थोड़ा समय दिए जाने की जरूरत है। उनके चयन के पीछे कप्तान का समर्थन होना ही खास कारण रहा।संदीप पाटिल की अगुआई में चयनकर्ताओं ने कप्तान विराट कोहली और कोच अनिल कुंबले के साथ रोहित शर्मा के चयन को लेकर गहन विचार-विमर्श किया और फिर उन्हें इस बार मौका देने का फैसला लिया गया। हालांकि वनडे स्पेशलिस्ट रोहित का प्रदर्शन टेस्ट मैचों में अपेक्षाकृत बेहतर नहीं रहा। वो बात अलग है कि टेस्ट मैचों में खराब फॉर्म के बावजूद कप्तान कोहली उन पर भरोसा करते हैं। कोहली का मानना है कि वनडे के बेहतरीन बल्लेबाज को टेस्ट प्रारूप में थोड़ा समय दिए जाने की जरूरत है। उनके चयन के पीछे कप्तान का समर्थन होना ही खास कारण रहा।वनडे में 264 रन की उच्चतम पारी खेलने वाले रोहित ने 2013 में टेस्ट मैचों में लगातार दो शतक लगाकर करियर की जोरदार शुरुआत की थी, लेकिन 18 टेस्ट मैचों के करियर में वह खास प्रदर्शन नहीं कर पाए। वेस्टइंडीज के खिलाफ हालिया सीरीज में रोहित शर्मा को चार में से दो मैचों में खेलने का मौका मिला। एक मैच बारिश के कारण धुल गया और तीसरे टेस्ट की दो पारियों में उन्होंने 9 और 41 रन की पारियां खेलीं। ग्रेटर नोएडा में चल रहे दलीप ट्रॉफी फाइनल में भी वह पहली पारी में 30 रन ही बना पाए। अब वह घरेलू सीरीज में बड़ी पारियां खेलकर अपनी जगह पक्की कर सकते हैं क्योंकि भारत को अगले 13 मैच अपने ही घर में खेलने हैं। वेस्टइंडीज की धरती पर खेली गई दो पारियों में 62 रन बनाने वाले चेतेश्वर पुजारा भी अपनी जगह बचा पाने में सफल रहे। दलीप ट्रॉफी में खेली गई लगातार दो शतकीय पारियां उनके चयन का मजबूत आधार बनीं।वनडे में 264 रन की उच्चतम पारी खेलने वाले रोहित ने 2013 में टेस्ट मैचों में लगातार दो शतक लगाकर करियर की जोरदार शुरुआत की थी, लेकिन 18 टेस्ट मैचों के करियर में वह खास प्रदर्शन नहीं कर पाए। वेस्टइंडीज के खिलाफ हालिया सीरीज में रोहित शर्मा को चार में से दो मैचों में खेलने का मौका मिला। एक मैच बारिश के कारण धुल गया और तीसरे टेस्ट की दो पारियों में उन्होंने 9 और 41 रन की पारियां खेलीं। ग्रेटर नोएडा में चल रहे दलीप ट्रॉफी फाइनल में भी वह पहली पारी में 30 रन ही बना पाए। अब वह घरेलू सीरीज में बड़ी पारियां खेलकर अपनी जगह पक्की कर सकते हैं क्योंकि भारत को अगले 13 मैच अपने ही घर में खेलने हैं। वेस्टइंडीज की धरती पर खेली गई दो पारियों में 62 रन बनाने वाले चेतेश्वर पुजारा भी अपनी जगह बचा पाने में सफल रहे। दलीप ट्रॉफी में खेली गई लगातार दो शतकीय पारियां उनके चयन का मजबूत आधार बनीं। भारत की टेस्ट टीमः विराट कोहली (कप्तान), लोकेश राहुल, शिधर धवन, मुरली विजय, चेतेश्वर पुजारा, अंजिक्य रहाणे, रोहित शर्मा, आर अश्विन, रिदिमान साहा, रविंद्र जडेजा, मोहम्मद शमी, इशांत शर्मा, भुवनेश्वर कुमार, अमित मिश्रा और उमेश यादव।

Advertisement

img
img