36 लड़ाकू विमान खरीदेगा भारत राफेल सौदे पर लगी मुहर फ्रांस के साथ

पब्लिक व्यू 9/23/2016 1:26:07 AM
img

भारत सरकार ने फ्रांस के साथ 36 लड़ाकू विमानों की खरीद के बहुप्रतीक्षित सौदे पर मुहर लगा दी है। 7.878 अरब यूरो के इस सौदे पर फ्रांस के रक्षा मंत्री ज्यां यीव्स ली ड्रायन की उपस्थिति में हस्ताक्षर किए गए। रक्षा सूत्रों ने बताया कि इस लड़ाकू विमान की खरीद पर यूपीए सरकार के काल की कीमत की तुलना में करीब 75 करोड़ यूरो बचाए जा सकेंगे जिसे नरेंद्र मोदी सरकार ने रद्द कर दिया था। इसके अलावा इसमें 50 प्रतिशत आफसेट का प्रावधान भी रखा गया है। राफेल सौदे के साथ ही भारतीय वायु सेना की ताकत और मजबूत होगी। जिस समय पाकिस्तान के साथ भारत के संबंध तनावपूर्ण दौर में हैं, तब इस सौदे पर हस्ताक्षर होने से पड़ोसी की बेचैनी बढ़ना स्वभाविक ही है। 20 सालों में लड़ाकू विमानों की खरीद का पहला सौदा इसका अर्थ यह हुआ कि छोटी बड़ी भारतीय कंपनियों के लिए कम से कम तीन अरब यूरो का कारोबार और आफसेट के जरिये सैकड़ों रोजगार सृजित किए जा सकेंगे। राफेल लड़ाकू विमानों की आपूर्ति 36 महीने में शुरू हो जाएगी और यह अनुबंध किए जाने की तिथि से 66 महीने में पूरी हो जाएगी। पिछले 20 वर्षों में यह लड़ाकू विमानों की खरीद का पहला सौदा है। इसमें अत्याधुनिक मिसाइल लगे हुए हैं जिससे भारतीय वायु सेना को मजबूती मिलेगी

Advertisement

img
img